दिल्ली से ट्रेन द्वारा इंदौर आ रही थी बरात, चोर उड़ा ले गए लाखों का माल

ETV MP/Chhattisgarh
Updated: November 14, 2017, 9:28 PM IST
दिल्ली से ट्रेन द्वारा इंदौर आ रही थी बरात, चोर उड़ा ले गए लाखों का माल
इंदौर जीआरपी
ETV MP/Chhattisgarh
Updated: November 14, 2017, 9:28 PM IST
दिल्ली से बरात लेकर इंदौर आ रहा एक परिवार भारतीय रेल के इस सफर को शायद ही कभी यााद रखना चाहेगा. निजामुद्दीन एक्सप्रेस से इंदौर आ रहे परिवार को चलती ट्रेन में चोरों ने निशाना बनाया और लाखों रुपए का माल साफ कर दिया. इस वारदात में बरातियों के टिकट वाला बैग भी चला गया. चैकिंग के दौरान टिकट ना होने पर टीसी ने भी भारी जुर्माना ठोंक दिया.

जानकारी के अनुसार दिल्ली का एक परिवार बरात लेकर इंदौर आ रहा था. इसमें कुल 62 लोग शामिल थे. जिसमें महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग सभी थे. भरतपुर स्टेशन पर बरातियों का सामान चोरी हो गया. चोरी हुए बैग में ही ट्रेन के टिकिट भी थे. कुछ ही देर बाद टिकिट चैक करने टीटी पहुंचे और लगातार टिकिट दिखाने की मांग करते रहे. बैग चोरी हो जाने की बात बताने पर भी टीटी ने एक न मानी और वह लगातार टिकिट या एफआईआर दिखाने की मांग कर रहे थे. हद तो तब हो गई जब टीटी ने परिवार का 13 हजार रुपए का चालान बना दिया. साथ ही देवास रेलवे स्टेशन पर उतारने के लिए जिद पर अड़ गया. फरियादियों ने इंदौर रेलवे स्टेशन पर आकर शिकायत की, तब इंदौर जीआरपी ने शून्य पर प्रकरण दर्ज कर भरतपुर स्टेशन को भेज कर इतिश्री कर ली.

परिवार का आरोप था की टीटी को पहले से पता था की हमारा बैग चोरी हो गया है. उसके बावजूद वह जिद कर रहे थे. परिवार का कहना था की टीटी को हमारे बताए बिना बैग चोरी होने के बारे में कैसे पता चला. परिवार ने टीटी पर बदसलूकी के साथ-साथ चोर गिरोह से मिले होने की आशंका भी जताई. टीटी का इस तरह गैर जिम्मेदार रवैया पूरे रेल प्रबंधन पर सवालिया निशान खड़ा करता है.

(विकास सिंह चौहान)
First published: November 14, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर