लाइव टीवी

सांस लेने में थी तकलीफ, कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं, फिर भी कोरोना से हुई मौत
Indore News in Hindi

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: March 25, 2020, 7:54 PM IST
सांस लेने में थी तकलीफ, कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं, फिर भी कोरोना से हुई मौत
इंदौर में बुधवार को एक साथ 5 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले थे. इन सभी मरीजों की उम्र 49 से 68 वर्ष के बीच है.(प्रतीकात्मक फोटो)

इंदौर (Indore) में चार कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है. साथ ही नगर निगम ने इन मरीजों के घरों को सेनीटाइड करने के लिए दवा का छिड़काव किया है.

  • Share this:
इंदौर. मध्य प्रदेश के इंदौर (Indore) में एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां कोरोना पीड़ित (Corona Sufferer) 65 वर्षीय एक महिला की मौत (Death) हो गई है. कहा जा रहा है कि महिला ने एमवाय अस्पताल में दम तोड़ा है. वह तीन दिन से एसवाय हॉस्पिटल में भर्ती थी. उसे सांस लेने में तकलीफ होने के चलते उज्जैन से एमवाय अस्पताल में रेफर किया गया था. उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. इंदौर में अभी 4 कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है.

बता दें कि इंदौर में बुधवार को एक साथ 5 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले थे. इन सभी मरीजों की उम्र 49 से 68 वर्ष के बीच है. इंदौर के 13 सैंपल और आसपास के जिलों के 8 सैंपल जांच के लिए एमजीएम मेडीकल कॉलेज की वायरोलॉजी लैब भेजे गए थे, जिसमें से 5 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इनमें से दो मरीजों की हालात ज्यादा गंभीर बताई जा रही थी, जिनमें से एक की अब मौत हो चुकी है.

उज्जैन से रैफर होकर आई थी महिला
इंदौर में मिले 4 दूसरे कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से तीन मरीज बॉम्बे अस्पताल और एक अरिहंत अस्पताल में भर्ती हैं.  दो मरीज एक ही परिवार के हैं, जबकि एक इंदौर के रानीपुरा और एक चंदन नगर क्षेत्र का निवासी है. जबकि एमवाय अस्पताल में भर्ती पांचवी महिला मरीज की मौत हो गई है. उसे सांस लेने में तकलीफ हो रही थी, जिसकी रिपोर्ट एमजीएम मेडीकल कॉलेज भेजी गई थी. रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई थी. इस महिला की कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है न इसने पिछले दिनों कोई विदेश यात्रा की थी.



कोरोना पॉजिटिव मरीजों के घरों को किया जा रहा सेनीटाइज
इंदौर में चार कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है. साथ ही नगर निगम ने इन मरीजों के घरों को सेनीटाइड करने के लिए दवा का छिड़काव किया है. टेंकरों के माध्यम से इनके घरों पर दवा का छिड़काव कर सेनीटाइजेशन का काम किया गया है. सीएमएचओ प्रवीण जड़िया का कहना है कि अस्पताल में इलाजरत सभी मरीजों की हालत स्थिर है. साथ ही वो पता करवा रहे हैं कि इनके संपर्क में कौन-कौन रहा है. हालांकि, इन चारों मरीजों में से भी किसी ने पिछले दिनों विदेश यात्रा नहीं की है. इनमें शामिल दो पुरुष मरीज आपस में मित्र हैं जो इसी महीने साथ में वैष्णोदेवी की तीर्थ यात्रा पर गए थे और हाल ही में लौटे हैं.

 

ये भी पढ़े- 

Coronavirus: लॉकडाउन में यह काम कर बुरे फंसे पप्पू यादव, दर्ज हुआ केस

कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए रामविलास पासवान ने बिहार को दिए एक करोड़ रुपए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 25, 2020, 6:48 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर