अपना शहर चुनें

States

INDORE : अनाज मंडी में सवा घंटे चला कांग्रेस का प्रदर्शन, दिग्विजय सिंह ने संघ प्रमुख पर साधा निशाना

इंदौर में कांग्रेस के प्रदर्शन में दिग्विजय सिंह के साथ सज्जन सिंह वर्मा और जीतू पटवारी सहित कई नेता शामिल हुए.
इंदौर में कांग्रेस के प्रदर्शन में दिग्विजय सिंह के साथ सज्जन सिंह वर्मा और जीतू पटवारी सहित कई नेता शामिल हुए.

दिग्विजय सिंह (Digvijay singh) ने कहा हमने ऐसे काले कानूनों का संसद में विरोध किया तो सदस्यों को बाहर कर दिया गया.मोदी सरकार (Modi government) अगली बार फिर सत्ता में आई तो राशन की दुकानों से राशन बंटना बंद हो जाएगा.

  • Share this:
इंदौर.नए कृषि कानून के विरोध में किसानों के भारत बंद (Bharat band) का कांग्रेस (Congress) ने समर्थन किया.इंदौर में कांग्रेस के सांसद पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह खुद बंद के समर्थन में उतरे. छावनी अनाज मंडी पहुंचकर उन्होंने मंडी परिसर का चक्कर लगाया और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाज़ी की. .

आज के भारत बंद में कांग्रेस किसानों के समर्थन में जोश में रही. इंदौर में पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह की मौजूदगी में प्रदर्शन ने और ज़ोर पकड़ा. कांग्रेस एक दिन पहले से ही फॉर्म में थी. दिग्विजय सिंह पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ छावनी अनाज मंडी पहुंचे. उन्होने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कांग्रेस नेताओं,विधायकों के साथ मंडी परिसर का चक्कर लगाया.एक जगह रुककर दिग्विजय ने माइक अपने हाथ में थामा और एक व्यक्ति से कृषि कानून पर प्रतिक्रिया मांगी.उन्होंने किसानों से कानून का विरोध करने की अपील की. दिग्विजय सिंह ने कहा- मैं संघ प्रमुख मोहन भागवत से मांग करता हूँ कि वे भारतीय किसान संघ को कहें कि वे भी किसानों के समर्थन में आगे आएं.सिर्फ किसानों के साथ ही नहीं मजदूर हम्मालों के साथ भी धोखा हो रहा है.

SDM साहब की मर्ज़ी
अब एसडीएम साहब की मर्जी से ही कोई ट्रेड यूनियन रजिस्टर्ड हो सकेगी. दिग्विजय सिंह ने कहा हमने ऐसे काले कानूनों का संसद में विरोध किया तो सदस्यों को बाहर कर दिया गया.मोदी सरकार अगली बार फिर सत्ता में आई तो राशन की दुकानों से राशन बंटना बंद हो जाएगा.ये षडयंत्र विदेशी शक्तियों द्वारा किया जा रहा है. पेट्रोल डीजल के रोज भाव बढ़ रहे हैं .जब यूपीए सरकार थी तब बीजेपी थोड़ी कीमत बढ़ने पर हंगामा कर देती थी. लेकिन अब शांत हैं. मोदी जी अपने आपको किसान हितैषी बता रहे हैं. वे 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करना चाहते हैं. लेकिन हकीकत ये है कि आज ही मंडी में गेहूं को 1400 से 1700 रुपए क्विंटल खरीदा जा रहा है. जबकि खरीदी मूल्य 1940 रुपए है. वहीं चना 4450 रुपए खरीदा जा रहा है जबकि न्यूनतम खरीदी मूल्य 4885 रुपए क्विंटल है. मक्का तो खरीदा ही नहीं जा रहा है. ऐसे में किसानों की आय दोगुनी कैसे होगी.



हिंदू-मुस्लिम का भेद
दिग्विजय सिंह ने कहा बीजेपी के लोग हिन्दू मुसलमान करके हर चीज में फायदा उठाते हैं.क्या पेट्रोल डीजल की मार हिंदुओं पर नहीं पड़ रही है.इसीलिए हम सब किसानों के साथ हैं. पूरा किसान जागरुक हो चुका है. हमारा स्टैंड राजनैतिक नहीं है किसान संगठन जो भी तय करेंगे उनका साथ हम देंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज