FSSAI ने अब खजराना गणेश मंदिर को भोग प्रमाणपत्र दिया

मध्यप्रदेश के उज्जैन स्थित महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग के बाद इंदौर के खजराना गणेश मंदिर को भी भारतीय खाद्य संरक्षा व मानक प्राधिकरण ने "भोग" प्रमाणपत्र जारी किया है.

News18 Madhya Pradesh
Updated: August 29, 2019, 5:01 PM IST
FSSAI ने अब खजराना गणेश मंदिर को भोग प्रमाणपत्र दिया
FSSAI ने उज्जैन स्थित महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग के बाद इंदौर के खजराना गणेश मंदिर को 'भोग' प्रमाणपत्र दिया.
News18 Madhya Pradesh
Updated: August 29, 2019, 5:01 PM IST
मध्यप्रदेश के उज्जैन स्थित महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग (Mahakaleshwar Jyotirlinga) के बाद इंदौर के खजराना गणेश मंदिर (Khajrana Ganesh Temple) को भी भारतीय खाद्य संरक्षा व मानक प्राधिकरण (Food Safety and Standards Authority of India) ने "भोग" प्रमाणपत्र (Bhog Praman Patra) जारी किया है. यह प्रतिष्ठित तमगा ईश्वर को आनंदपूर्ण स्‍वच्‍छ चढ़ावा (भोग) योजना के तहत दिया गया है, जिसके तहत देवस्थानों के प्रसाद और भोजन की गुणवत्ता प्रमाणित की जाती है. शहर के मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी मनीष स्वामी ने बृहस्पतिवार को बताया, "FSSAI ने खजराना गणेश मंदिर की प्रबंधन समिति के नाम भोग प्रमाणपत्र जारी किया है."

उन्होंने बताया कि FSSAI ने खजराना गणेश मंदिर परिसर में मिलने वाले प्रसाद और श्रद्धालुओं को परोसे जाने वाले भोजन को लेकर कुछ दिन पहले विस्तृत ऑडिट किया था. उन्होंने बताया कि इस दौरान मंदिर का प्रसाद और भोजन सामग्री खाद्य सुरक्षा और गुणवत्ता के अलग-अलग पैमानों पर खरी पाई गई.

उल्लेखनीय है कि FSSAI ने उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर परिसर में मिलने वाले प्रसाद और भोजन की गुणवत्ता पर जून में मुहर लगाते हुए इस देवस्थान की प्रबंधन समिति के नाम "भोग" प्रमाणपत्र जारी किया था. उज्जैन का यह प्राचीन मंदिर भगवान शिव के देश भर में फैले 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक है.

ये भी पढ़ें - व्यापम महाघोटाला : 500 लोगों के ख़िलाफ होगी FIR!

ये भी पढ़ें - कमलनाथ सरकार को समर्थन दे रहे SP विधायक नाराज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 29, 2019, 5:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...