अपना शहर चुनें

States

Exam के दौरान नकल की शंका में टीचर ने किया ये काम, छात्रा ने की खुदकुशी

इलाज के दौरान छात्रा की मौत.
इलाज के दौरान छात्रा की मौत.

इंदौर के लसूड़िया थाना इलाके में रहने वाली शिवानी (Shivani) ने टीचर द्वारा क्‍लास से बाहर निकालने जाने के बाद कीटनाशक (Pesticides) पी लिया था. इसके बाद उसे अस्‍पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन 24 घंटे की कवायद के बाद भी उसे बचाया नहीं जा सका.

  • Share this:
इंदौर. मध्‍य प्रदेश के इंदौर के लसूड़िया थाना इलाके के स्कीम नंबर 78 में रहने वाली शिवानी (Shivani) की रविवार रात इलाज के दौरान मौत हो गई. छात्रा ने शनिवार दोपहर स्कूल से लौटने के बाद कीटनाशक (Pesticides) पी लिया था और उसे गंभीर हालत में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था. जबकि करीब 24 घंटे के की कवायद के बाद भी छात्रा को नहीं बचाया जा सका. छात्रा की मौत के बाद परिवार स्कूल प्रबंधन और टीचर को जिम्मेदार बता रहा है. यही नहीं, इस मामले में पुलिस अधिकारियों (Police Officers) ने स्कूल प्रबंधन (School Management) को बयान देने के लिए तलब करते हुए नोटिस जारी कर दिया है.

इस वजह से छात्रा ने पी लिया कीटनाशक
दरअसल, छात्रा शिवानी अपने घर के करीब ही स्कीम नंबर 78 में स्थित दिव्या कॉन्वेंट स्कूल 9वीं कक्षा में पड़ती थी. इसी विद्यालय में उसके भाई और बहन भी पड़ते हैं. शनिवार को छात्रा का सामाजिक विज्ञान का एक्जाम था. हालांकि छात्रा के इससे पूर्व दो एक्जाम हो चुके थे. लेकिन सामाजिक विज्ञान की परीक्षा के दौरान क्लास रूम में मौजूद टीचर को आशंका हुई कि शिवानी नकल कर रही है, इसके बाद टीचर ने कॉपी और पेपर छीनकर क्लास से बाहर जाने का बोल दिया. इस बात से नाराज होकर छात्रा घर पहुंची और गुस्से में एकांत में जाकर बैठ गई. थोड़ी देर बाद उसने घर में रखा कीटनाशक पी लिया. जब उसकी बहन से उसे डांटकर वजह पूछी तो उसने स्कूल में हुए घटनाक्रम के बारे में जानकारी दी.
कीटनाशक पीने से छात्रा की हालत नाजुक हो गई जिसे घर के करीब नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन हालत गंभीर देख उसे दूसरे बड़े अस्पताल में रेफर कर दिया गया. इलाज के बाद भी उसे बचाया नहीं जा सका. जबकि पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है.
बहरहाल, शिवानी की मौत से आक्रोशित परिजन अब स्कूल प्रबंधन पर कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं. परिजनों का आरोप है कि छात्र की किसी भी प्रकार की अनुशासनहीनता पाई जाती तो स्कूल प्रबंधन को परिजनों को सूचना देना चाहिए थी. हालांकि घटना के तुरंत बाद पुलिस के आला अफसर सक्रिय हो गए और विवेचना अधिकारी का मामले में स्कूल प्रबंधन को नोटिस जारी कर बयानों के लिए तलब करने के निर्देश दिए हैं.
शिवानी के पिता ने ही ये बात


मृतिका के पिता चंद्र के मुताबिक शनिवार को उनकी बेटी शिवानी ने कीटनाशक पी लिया था, जिसे इलाज के लिए भर्ती कराया गया था, जिसकी रविवार को इलाज के दौरान मौत हो गई. कीटनाशक पीने के तुरंत बाद उसने अपनी बहन को स्कूल में हुई घटना के बारे में बताया था. स्कूल की प्रताड़ना से तंग आकर ही बेटी ने आत्महत्या की है.

 

पुलिस ने कही ये बात
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र सिंह चौहान के मुताबिक छात्रा की आत्महत्या मामले में फिलहाल जांच की जा रही है. जबकि स्कूल प्रबंधन को भी नोटिस जारी कर तलब किया गया है. हालांकि मौके से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है. वहीं जांच अधिकारी को सूक्ष्मता से जांच करने के निर्देश दिए गए हैं.

ये भी पढ़ें-

जबलपुर: केंद्रीय मंत्री का बड़ा ऐलान, बोले-स्वदेशी पर्यटकों के नाम रहेगा 2020

 

पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 15 अवैध हथियार समेत 5 बदमाश गिरफ्तार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज