Assembly Banner 2021

चार नाम और एक काम: युवाओं तक ड्रग्‍स पहुंचाने वाली 'आंटी' इंदौर में गिरफ्तार

लड़कियों को ड्रग्स सप्लाइ करने वाली आंटी गिरफ्तार हो गई है.

लड़कियों को ड्रग्स सप्लाइ करने वाली आंटी गिरफ्तार हो गई है.

'आंटी' उन लड़कियों को निशाना बनाती थी जो जिम, हॉस्टल और पब जाया करती थीं. इस बात की भनक पुलिस को लग चुकी थी. इयके बाद प्‍लान के तहत आरोपी महिला को पकड़ा गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 10, 2020, 7:27 AM IST
  • Share this:
इंदौर. पुलिस ने एक ऐसी हाईप्रोफाइल महिला को गिरफ्तार किया है, जो लड़कियों को ड्रग एडिक्ट (Drug Addict) बनाती थी. आरोप है कि यह महिला शहर के जिम, पब और गर्ल्स हॉस्टल्स तक एमडी (MD) और कोकीन (Cocaine) पहुंचाती थी. बताया जा रहा है कि कुछ दिनों पहले पुलिस को पता चला था कि जिम जाने वाली और हॉस्टल्स में रहने वाली लड़कियां ड्रग्स ले रही हैं. पुलिस जब इसकी तह तक गई तो पता चला कि स्कीम-78 में एक महिला ने बंगला खरीदा है, वही शहर में लड़कियों को ड्रग एडिक्ट बना रही है. इस महिला को 'आंटी' के तौर पर जाना जाता है. यह महिला सपना, काजल, प्रेरणा और प्रीति नाम से भी जानी जाती हैं.

पुलिस ने जब इस महिला को कस्टमर बनकर पकड़ा तब पता चला कि ये महिला उन जगहों को निशाना बनाती थी, जहां युवाओं की भीड़ होती थी. यह महिला फर्राटेदार इंग्लिश के साथ-साथ और भी भाषाएं बोलती है. इनका कनेक्शन दिल्ली में कई फॉरेन ड्रग पैडलर से भी बताया जा रहा है.

पकड़ा गया था बांग्लादेशी ड्रग्स रैकेट
गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले ही पुलिस ने बांग्लादेशी ड्रग्स रैकेट को पकड़ा था. मामले में दो युवतियों सहित 7 लोग गिरफ्तार किए गए थे. ये लोग बांग्लादेशी लड़कियों से देह व्यापार और ड्रग्स की सप्लाई करवाते थे. इस मामले को सुलझाने के लिए दो पुलिसकर्मी आपस में गर्लफ्रेंड-बॉयफ्रेंड बनकर आरोपियों तक पहुंचे थे. मुख्य आरोपी सागर जैन था, जिसने कई खुलासे किए थे. उसके जरिये पुलिस विक्की परियानी, धीरज सोनतिया, कपिल तक पहुंची थी. इनके पास से 40 ग्राम एमडी ड्रग्स भी मिली थी. ये लोग सैंपल के तौर पर युवाओं को दो बार फ्री ड्रग्स देते थे. इसके बाद इनसे मोटी रकम वसूलते थे. आरोपी लड़के-लड़कियों को ड्रग पैडलर के रूप में इस्तेमाल भी करते थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज