लाइव टीवी

मध्य प्रदेश में अब सरकारी सेवाओं की होम डिलिवरी, इंदौर से होगी शुरुआत

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 22, 2020, 7:50 AM IST
मध्य प्रदेश में अब सरकारी सेवाओं की होम डिलिवरी, इंदौर से होगी शुरुआत
सरकारी सेवाओं की मध्य प्रदेश में होगी होम डिलेवरी

जैसे आप ऑनलाइन शॉपिंग (online shopping) करते हैं और खाने की होम डिलीवरी कराते हैं, ठीक उसी तरह सरकारी सेवाओं का लाभ भी आप घर बैठे उठा सकेंगे.

  • Share this:
भोपाल.मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) की कमलनाथ सरकार (kamalnath government) एक साल पूरा करने के बाद अब गुड गवर्नेस (Good governance) के लिए महत्वपूर्ण कदम उठा रही है. प्रदेश में सरकारी सेवाओं की होम डिलीवरी (Home delivery) की जाएगी,जैसे आप ऑनलाइन शॉपिंग (online shopping) करते हैं और खाने की होम डिलीवरी कराते हैं, ठीक उसी तरह सरकारी सेवाओं का लाभ भी आप घर बैठे उठा सकेंगे.

सरकारी सेवाओं की होम डिलेवरी के तहत लोगों को अब जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, खसरा-खतौनी की नकल घर बैठे मिल जाएगी. लोक सेवा गारंटी के तहत ऑनलाइन एप्लाई करने पर महज 50 रुपए की फीस में ये सरकारी सुविधाएं आपको अपने घर बैठे मिल जाएंगी. एमपी में सबसे पहले इंदौर में पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर इस नई योजना की शुरुआत की जाएगी. 26 जनवरी को मुख्यमंत्री कमलनाथ इस योजना की शुरुआत करेंगे. आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत इसका शुभारंभ किया जाएगा. शुरुआत में छह सरकारी सेवाओं की होम डिलीवरी कराई जाएगी, बाद में इसके अंतर्गत बाकी सरकारी सेवाओं को भी जोड़ दिया जाएगा.

कलेक्टर को सौंपी जि़म्मेदारी
इंदौर के कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव को इस योजना पर अमल की जिम्मेदारी सौंपी गई है. उन्होंने बताया कि इस सेवा की शुरुआत पहले शहरी क्षेत्रों में होगी और बाद में ग्रामीण क्षेत्रों में भी इसका विस्तार किया जाएगा. इससे लोगों को तहसील और कलेक्टर ऑफिस के चक्कर काटने की झंझट से मुक्ति मिल जाएगी. साथ ही उनके पैसे और समय की भी बचत होगी.इंदौर मध्यप्रदेश का पहला शहर बनने जा रहा है जहां से इस महात्वाकांक्षी योजना की शुरूआत हो रही है.

18 साल बाद सीएम इंदौर में करेंगे ध्वजारोहण
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ 26 जनवरी को इंदौर में ध्वजारोहण करेंगे. 18 साल बाद ये मौका आया है जब कोई मुख्यमंत्री इंदौर में 26 जनवरी को ध्वज फहराएगा. वर्ष 2002 में तत्कालीन मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने इंदौर में गणतंत्र दिवस समारोह में शिरकत की थी. उनके बाद उमा भारती, बाबूलाल गौर और शिवराज सिंह चौहान सीएम रहे लेकिन इंदौर के ध्वजारोहण करने कभी नहीं आए. सीएम कमलनाथ कांग्रेस कार्यालय गांधी भवन पर भी तिरंगा फहराएंगे. उनके दौरे को लेकर गांधी भवन को दुल्हन की तरह सजाया जा रहा है. जर्जर हो चुके गांधी भवन की पुताई और आकर्षक साज सज्जा की जा रही है.

दो दिन इंदौर मे रहेंगे सीएम कमलनाथमुख्यमंत्री कमलनाथ 25 और 26 जनवरी को दो दिन इंदौर मे रहेंगे. इस दौरान वे कई कार्यक्रमों में शामिल होंगे.वे दिल्ली से चलकर शाम 7 बजे इंदौर एयरपोर्ट पहुंचेंगे उसी दिन शाम 7.30 बजे होम डिलीवरी ऑफ सर्विसेस के कार्यक्रम में शामिल होंगे. वे यहां से प्रदेश सरकार की अभिनव योजना सरकारी सेवाओं की होम डिलेवरी की शुरूआत करेंगे. सीएम रात 8 बजे अधिकारियों के साथ मीटिंग करेंगे और रात में यहीं ठहरेंगे. 26 जनवरी को वे सुबह 8:30 बजे शहर कांग्रेस कमेटी के कार्यक्रम में शामिल होंगे और गांधी भवन पर झंडा वंदन करेंगे.उसके बाद जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में सुबह 9 बजे झंडा वंदन और प्रदेश की जनता को संबोधित करेंगे वे मार्च पास्ट के कार्यक्रम में भी शामिल होंगे. सुबह 11:00 बजे बेनिफिट डिस्ट्रीब्यूशन टू बेनीफिशरीस के कार्यक्रम में शामिल होंगे 11:30 बजे जैन संत आचार्य विद्यासागर महाराज से मुलाकात करेंगे. दोपहर 12:00 बजे से आयोजित बिरसा ब्रिगेड के कार्यक्रम ट्राइबल कन्वेंशन में एनसीपी नेता शरद पवार के साथ शिरकत करेंगे और दोपहर 1:30 बजे इंदौर एयरपोर्ट से भोपाल के लिए रवाना हो जाएंगे.

ये भी पढ़ें-MP में लोटस वैली : कमल के फूलों की झील और सनसेट मेें कन्याकुमारी जैसा नज़ारा

..जब दूल्हे ने लगाई 11 किमी तक दौड़ और उसके पीछे-पीछे भागे 50 बाराती

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 21, 2020, 11:11 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर