लाइव टीवी

जीतू सोनी की अवैध होटलों पर चला बुलडोजर, लॉकर में मिलीं सोने-चांदी की मूर्तियां

News18 Madhya Pradesh
Updated: December 5, 2019, 2:24 PM IST
जीतू सोनी की अवैध होटलों पर चला बुलडोजर, लॉकर में मिलीं सोने-चांदी की मूर्तियां
जीतू सोनी के अवैध साम्राज्य पर बुलडोजर चला

जीतू सोनी (jeetu soni) के माय होम (my home) की तिजोरी से सोने की मूर्ति,चांदी के सिक्के बरामद किए गए. उसके प्रेस कॉम्पलेक्स के ऑफिस 5 स्पाय कैमरे,हार्ड डिस्क,200 फाइलें मिलीं और 40 बैंक खातों का पता चला

  • Share this:
इंदौर.हनी ट्रैप  (honey trap) केस का ख़ुलासा करने के एक मामले से जुड़े इंदौर (indore) के  वांटेड अख़बार मालिक जीतू सोनी (jeetu soni) के अवैध साम्राज्य पर नगर निगम ने बुलडोजर चला दिया. इनमें उसका चर्चित होटल माय होम भी शामिल है. उसके बंगले और ऑफिस को भी पुलिस खंगाल रही है. अब तक की कार्रवाई में उसकी तिजोरी से सोने-चांदी की मूर्तियां, स्पाई कैमरे सहित कई महत्वपूर्ण दस्तावेज़ बरामद किए जा चुके हैं. हाईकोर्ट ने सोनी की बेस्ट वेस्टर्न होटल के खिलाफ कार्रवाई पर 7 दिन का स्टे  दे दिया है. जस्टिस विवेक रसिया ने होटल प्रबंधन को जवाब के लिए 7 दिन का समय दिया है. बाकी ठिकानों पर कार्रवाई जारी है.

जीतू सोनी के होटल माय होम की तिजोरी से सोने की मूर्ति,चांदी के सिक्के बरामद किए गए. उसके प्रेस कॉम्पलेक्स के ऑफिस से 5 स्पाय कैमरे, हार्ड डिस्क,200 फाइलें मिलीं और 40 बैंक खातों का पता चला. जीतू और उसके बेटे अमित का पिस्टल लाइसेंस और बार का लाइसेंस निरस्त कर दिया गया है. अब तक की कार्रवाई के बाद जीतू सोनी के खिलाफ10 केस हुए रजिस्टर किए जा चुके हैं.

3 होटलों और घर पर कार्रवाई
इंदौर में जीतू सोनी के तीन होटलों पर नगर निगम ने एक साथ कार्रवाई शुरू की. उसके मिल्कियत पर बुलडोजर चला दिया गया. इनमें माय होम भी शामिल है. नगर निगम ने उसे नोटिस दिया था लेकिन जवाब ना मिलने के बाद कार्रवाई शुरू की गयी.जीतू सोनी के बंगले पर भी कार्रवाई चल रही है. इस आलीशान बंगले पर कार्रवाई के दौरान घर के पिछले हिस्से में एक लॉकर मिला. निगम अधिकारियों ने इसकी सूचना इलाके के थाना प्रभारी को दी.पुलिस ने लॉकर जब्त कर थाने भेज दिया. लॉकर खुलने पर कई चौंकाने वाले खुलासे हो सकते हैं. इंदौर की एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र भी मौके पर पहुंचीं. वो खुद ही सारी कार्रवाई की मॉनिटरिंग कर रही हैं.

अवैध साम्राज्य- सोनी की ये सारी मिल्कियत अवैध रूप से बनायी गयी है. सोनी के घर और तीनों होटलों पर गुरुवार सुबह 6 बजे एक साथ कार्रवाई शुरू की गयी.  उसके माय होम, ओ-टू और बेस्ट वेस्टर्न होटल पर बुलडोजर चलाया. बाद में कोर्ट का स्टे मिलने पर बेस्ट वेस्टरन होटल में तोड़फोड़ रोक दी गयी. नगर निगम ने भारी बंदोबस्त के साथ कार्रवाई शुरू की. इसके लिए करीब 300 लोगों की टीम बनायी गयी. किसी तरह का विरोध या बाधा ना हो, इसलिए  मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया. हर जगह एक अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, दो सीएसपी, थाना प्रभारी सहित बड़ी संख्या में आरक्षक तैनात किए गए. बड़ी संख्या में डंपर, जेसीबी और मज़दूर लगाए गए. बुधवार रात से ही अंदाज़ लग गया था कि गुरुवार को सुबह कार्रवाई शुरू हो सकती है. रात में ही होटल खाली करा लिए गए थे.

जीतू पर शिकंजा

विभिन्न शासकीय एजेंसी लगातार सोनी पर शिंकजा कस रही हैं.इसी सिलसिले में निगम अधिकारियों ने सोनी के डांस बार, होटल और रेस्टोरेंट में नपती भी की थी. ये सभी भवन नियम विरुद्ध बनाए गए हैं. सभी को नोटिस जारी किए गए थे. लेकिन तय समय में नोटिस का जबाब नहीं मिलने से बुधवार रात से ही निगम का अमला होटल और बंगले के बाहर तैनात हो गया था. गुरुवार सुबह से निगम ने बंगले और होटल डांस बार में बने अवैध हिस्से को ध्वस्त करना शुरू कर दिया.बंगले में सर्वाधिक अवैध निर्माण मिला. सोनी को सिर्फ 2100 वर्गफीट में घर बनाने की इजाज़त मिली थी लेकिन उसने लगभग आठ हजार पर घर बना लिया है. जानकारी मिली है कि सोनी ने यह बंगला किसी पूर्व निगम अफसर से ओने पौने दाम में खरीदा था.कौन है जीतू सोनी?
जीतू सोनी इंदौर में एक लोक सांझ दैनिक अख़बार का भी मालिक है.उसके अख़बार में हनी ट्रैप केस से जुड़े कुछ अंश प्रकाशित हुए थे. जिसके बाद हनी ट्रैप केस का खुलासा करने वाले इंदौर नगर निगम के अफसर ने पुलिस में जीतू सोनी की शिकायत की थी. उसके बाद पुलिस ने सोनी के खिलाफ कार्रवाई शुरू की. जीतू सोनी फरार है. उसके खिलाफ ब्लैकमेलिंग, मानव तस्करी, आर्म्स एक्ट सहित 10 मामले दर्ज किए गए हैं.

बार पर मारा था छापा
नगर निगम अफसर की शिकायत के बाद चार  दिन पहले पुलिस ने उसके डांस (Dance Bar) माई होम पर छापा मारा था. पुलिस को सर्चिंग के दौरान कुछ अति महत्वपूर्ण जानकारी मिली थी. इस दौरान पुलिस को ये भी पता चला कि इन लड़कियों को बहुत ही खराब हालत में रखा गया था. इस जानकारी के बाद मंगलवार रात पुलिस और प्रशासन के अफसरों की टीम फिर से माय होम होटल और बार पहुंचीं. बार बालाओं के हालात देखकर अफसर भी सकते में आ गए थे. डांस बार में काम करने वाली युवतियों को दयनीय हालात में रखा गया था. 10 बाय 10 के कमरे में 10 लड़कियां रखी गयी थीं. पूरे में इतनी दुर्गन्ध थी कि अफसरों को अपने मुंह पर हाथ रखना पड़ा था. पहले दिन पड़ी रेड में डांस बार से 67 लड़कियां छुड़ाई गयी थीं.

युवतियों ने किए थे अहम खुलासे
युवतियों ने पूछताछ के दौरान अधिकारियों को बताया था कि उन्हें पैसे नहीं दिए जाते थे. टिप्स में मिलने वाले पैसों में से भी कुछ हिस्सा ही उन्हें मिलता था. डांस बार के कई तल बने हुए थे, उसमें अलग-अलग तरह से युवतियों को रखा जाता था. मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने हालात देखकर निगम के अधिकारियों को भी कार्रवाई के लिए निर्देश दिए थे. युवतियों को एग्रीमेंट करके यहां रखा जाता था. उन्हें अश्लील नृत्य कर ग्राहकों को लुभाने के लिए कहा जाता था. साथ ही शिकायत मिलने पर या किसी ग्राहक से बात करने पर डांस फ्लोर बदलने के लिए धमकाया जाता था.

(इंदौर से रिपोर्टर विकास सिंह चौहान की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें-डांस बार की सर्चिंग में मिले अहम सुराग, बढ़ सकती है आरोपी की मुश्किलें

नानके पेट्रोल पंप तिराहे से हटायी जाएगी पूर्व सीएम स्व.अर्जुन सिंह की मूर्ति!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 5, 2019, 11:50 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर