Home /News /madhya-pradesh /

खाने के लिए कर रहे थे मोर का शिकार, पकड़े गए

खाने के लिए कर रहे थे मोर का शिकार, पकड़े गए

इंदौर में वन विभाग की टीम ने मोर का शिकार करने वाले पांच आरोपियों को हिरासत में लिया है. इंदौर के बेटमा गांव में वन विभाग की टीम ने पुलिस विभाग के साथ मिलकर कार्रवाई की और पांच आरोपियों के साथ ही एक मोर, एक बंदूक और दो बाइक भी बरामद की. चौंकाने वाली बात यह रही कि पांचों आरोपी खाने के लिए मोर का शिकार कर रहे थे.

इंदौर में वन विभाग की टीम ने मोर का शिकार करने वाले पांच आरोपियों को हिरासत में लिया है. इंदौर के बेटमा गांव में वन विभाग की टीम ने पुलिस विभाग के साथ मिलकर कार्रवाई की और पांच आरोपियों के साथ ही एक मोर, एक बंदूक और दो बाइक भी बरामद की. चौंकाने वाली बात यह रही कि पांचों आरोपी खाने के लिए मोर का शिकार कर रहे थे.

इंदौर में वन विभाग की टीम ने मोर का शिकार करने वाले पांच आरोपियों को हिरासत में लिया है. इंदौर के बेटमा गांव में वन विभाग की टीम ने पुलिस विभाग के साथ मिलकर कार्रवाई की और पांच आरोपियों के साथ ही एक मोर, एक बंदूक और दो बाइक भी बरामद की. चौंकाने वाली बात यह रही कि पांचों आरोपी खाने के लिए मोर का शिकार कर रहे थे.

अधिक पढ़ें ...
इंदौर में वन विभाग की टीम ने मोर का शिकार करने वाले पांच आरोपियों को हिरासत में लिया है. इंदौर के बेटमा गांव में वन विभाग की टीम ने पुलिस विभाग के साथ मिलकर कार्रवाई की और पांच आरोपियों के साथ ही एक मोर, एक बंदूक और दो बाइक भी बरामद की. चौंकाने वाली बात यह रही कि पांचों आरोपी खाने के लिए मोर का शिकार कर रहे थे.

वन विभाग को सूचना मिली कि बेटमा गांव के जंगलों में कुछ लोग मोर का शिकार करने की फिराक में घूम रहे हैं. वन विभाग की टीम ने पुलिस विभाग के साथ मौके पर दबिश दी और पांचों आरोपियों को पकड़ लिया.

मौके से वन विभाग की टीम को एक बंदूक दो कारतूस और एक मृत मोर मिला, जिसे अधिकारियों ने जब्त कर लिया है. आरोपियों के नाम नजर मोहम्मद, मोहम्मद शाहिद, आशिक खान, मोहम्मद सोहेल और मोहम्मद कलामुद्दीन हैं.

अधिकारियों के मुताबिक, आरोपी खाने के लिए मोर का शिकार कर रहे थे और जैसे ही टीम मौके पर पहुंची आरोपी भागने लगे. हालांकि पुलिस ने सतर्कता दिखाते हुए इन्हें पकड़ लिया. पुलिस ने इनके पास से बंदूक का लाइसेंस भी बरामद किया है.

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर