अपना शहर चुनें

States

कोरोना संक्रमण से जूझ रहे इंदौर के लिए IIT ने तैयार किए अल्ट्रा वॉयलेट उपकरण

इंदौर प्रदेश का सबसे ज़्यादा कोरोना संक्रमित शहर है.
इंदौर प्रदेश का सबसे ज़्यादा कोरोना संक्रमित शहर है.

अल्ट्रा वॉयलेट आर्म उपकरण से महज आधे घंटे में 100 वर्गफीट क्षेत्र को कीटाणु मुक्त किया जा सकता है. जबकि अल्ट्रा वॉयलेट बॉक्स को इस तरह डिजाइन किया गया है कि महज एक मिनट में वो बॉक्स में रखी गई पेपर,फाइल और दूसरी अन्य किसी भी तरह की वस्तुओं को कीटाणुओं से मुक्त कर सकता है.

  • Share this:
इंदौर. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान यानि आईआईटी (IIT) इंदौर ने सिमरोल के सरकारी अस्पताल और पुलिस थाने को कीटाणु और वायरस नष्ट करने वाले उपकरण दान किए हैं.आईआईटी (IIT) ने खुद ये उपकरण विकसित किए हैं. इनमें से एक कमरे या परिसर को कीटाणु मुक्त कर सकता है, जबकि दूसरा कागजों,फाइलों को कीटाणु वायरस मुक्त करने के काम आता है.

आईआईटी के रजिस्ट्रार एसपी होता ने बताया कि दान किए गए उपकरणों में एक युवी सैनिटाइजेशन बॉक्स और एक युवी आर्म है. दोनों उपकरण अल्ट्रा वॉयलेट विकिरण प्रणाली पर काम करते हैं. दोनों उपकरणों में यूवीसी लैंप का इस्तेमाल किया गया है. इससे निकलने वाली अल्ट्रा वॉयलेट किरणें किसी तरह की सतह, पानी,हवा और असरंध्र वस्तुओं को कीटाणु मुक्त कर सकती हैं. कोविड-19 वायरस के खिलाफ भी ये प्रभावशाली पाया गया है.

आधे घंटे में 100 वर्गफीट कीटाणु मुक्त 
आईआईटी की ओर से बताया गया है कि अल्ट्रा वॉयलेट आर्म उपकरण से महज आधे घंटे में 100 वर्गफीट क्षेत्र को कीटाणु मुक्त किया जा सकता है. जबकि अल्ट्रा वॉयलेट बॉक्स को इस तरह डिजाइन किया गया है कि महज एक मिनट में वो बॉक्स में रखी गई पेपर,फाइल और दूसरी अन्य किसी भी तरह की वस्तुओं को कीटाणुओं से मुक्त कर सकता है.इसलिए ये उपकरण इस वैश्विक महामारी से लड़ने में मददगार साबित होंगे.



थाना और अस्पताल सबसे पहले
आईआईटी इंदौर ने दोनों संस्थानों के उपयोग के लिए ये उपकरण दिए हैं,क्योंकि पुलिस और स्वास्थ्य विभाग दोनों न सिर्फ लोगों से सीधे जुड़े हैं बल्कि कोरोना काल में लगातार सेवाएं देते हुए लोगों के बीच पहुंच रहे हैं. इसलिए इनको संक्रमण से बचाने की सबसे ज्यादा जरूरत है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज