इंदौर से यूपी तक होती है अवैध हथियारों की सप्लाई, 18 पिस्तौल के साथ 4 गिरफ्तार
Indore News in Hindi

क्राइम ब्रांच पुलिस ने खुलासा किया है कि मध्य प्रदेश के इस प्रमुख औद्योगिक शहर इंदौर से उत्तर प्रदेश तक अवैध हथियारों की सप्लाई होती थी, पुलिस ने 18 असलहों के साथ हथियार तस्कर गिरोह के 4 सदस्यों को गिरफ्तार किया है.

  • Share this:
इंदौर की क्राइम ब्रांच पुलिस ने अवैध हथियार तस्कर गिरोह का खुलासा करते हुए चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार आरोपियों से पुलिस ने 18 अवैध हथियार और कारतूस बरामद किए हैं.  पुलिस से पूछताछ में आरोपियों ने पूरे मध्य प्रदेश में ही नहीं दूसरे राज्यों में हथियार सप्लाई करने की बात कबूल की है. पुलिस अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी है.

उत्तर प्रदेश के गैंग को हथियार सप्लाई करने का राज खोला

क्राइम ब्रांच ने खुलासा किया है कि कुंदन नाम का एक आरोपी घर से ही हथियारों की फैक्टरी संचालित करता था, कुंदन को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. कुंदन को पुलिस पहले भी अवैध हथियार तस्करी के आरोप में गिरफ्तार कर चुकी है. कुंदन ही इस गिरोह का मुख्य सरगना है. पुलिस ने कुंदन से ही पूछताछ में उसके अन्य साथियों के बारे में जानकारी जुटाई.



विदेशी हथियारों की तरह हूबहू तैयार कर देने का दावा करते हैं पकड़े गए अपराधी

पूछताछ में इस बात का खुलासा हुआ कि आरोपियों ने कुछ समय पूर्व इस गैंग ने उत्तर प्रदेश के एक कुख्यात गैंग को भी बड़ी संख्या में अवैध हथियार सप्लाई किए हैं. पुलिस उत्तर प्रदेश के उस गैंग की भी तलाश में जुट गई है.

अवैध असलहा बनाने की घर में लगा रखी थी फैक्ट्री. जब्त असलहों में 15 पिस्तौल और तीन कट्टे के अलावा कारतूस भी शामिल


पुलिस ने उसके घर से संचालित अवैध हथियार की फैक्ट्री से 18 असलहे जब्त किए हैं. जिनमें 15 पिस्टल 3 कट्टे और ज़िंदा कारतूस भी है. आरोपियों ने पूछताछ में यह भी दावा किया है कि वे विदेशी हथियारों की तरह हूबहू हथियार बनाकर ऑर्डर पर हथियार सप्लाई किया करते थे. पुलिस अब आरोपियों से हथियार खरीदने वालों के बारे में जानकारी जुटाने में जुटी है. उम्मीद है कि शहर के कई नामी बदमाश समेत गैंगस्टर बनने की चाहत रखने वालों के नाम सामने आएंगे. इसके साथ ही गिरफ्तार आरोपियों की संख्या और बढ़ सकती है.

ये भी पढ़ें- आधी रात में गोली चली और फिर कार में मिली बाप-बेटी की लाश
मॉब लिंचिंग रोकने के लिए कमलनाथ सरकार लायी संशोधन विधेयक
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading