• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • Indore में Antibodies का पता लगाने के लिए बच्चों का फिर से सीरो सर्वे होगा, अंडर 18 के लिए जाएंगे सैंपल

Indore में Antibodies का पता लगाने के लिए बच्चों का फिर से सीरो सर्वे होगा, अंडर 18 के लिए जाएंगे सैंपल

Indore. सीरो सर्वे (Sero Survey) के लिए 40 टीमों का गठन किया गया है. इसमें स्वास्थ्य विभाग, नगर निगम और जिला प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहेंगे. इसमें दिल्ली की संस्था एनसीडीसी को भी शामिल किया गया है. इसके अलावा 20 टीमों को रिजर्व भी रखा जाएगा. ये टीमें 1 से 6 साल, 6 से 9 साल औऱ 10 से 17 साल के बच्चों के ब्लड सैंपल लेंगी.

Indore. सीरो सर्वे (Sero Survey) के लिए 40 टीमों का गठन किया गया है. इसमें स्वास्थ्य विभाग, नगर निगम और जिला प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहेंगे. इसमें दिल्ली की संस्था एनसीडीसी को भी शामिल किया गया है. इसके अलावा 20 टीमों को रिजर्व भी रखा जाएगा. ये टीमें 1 से 6 साल, 6 से 9 साल औऱ 10 से 17 साल के बच्चों के ब्लड सैंपल लेंगी.

Indore. सीरो सर्वे (Sero Survey) के लिए 40 टीमों का गठन किया गया है. इसमें स्वास्थ्य विभाग, नगर निगम और जिला प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहेंगे. इसमें दिल्ली की संस्था एनसीडीसी को भी शामिल किया गया है. इसके अलावा 20 टीमों को रिजर्व भी रखा जाएगा. ये टीमें 1 से 6 साल, 6 से 9 साल औऱ 10 से 17 साल के बच्चों के ब्लड सैंपल लेंगी.

  • Share this:

इंदौर. इंदौर में एंटीबॉडी (Antibodies) का पता लगाने के लिए फिर से सीरो सर्वे होगा. लेकिन इस बार इसमें सिर्फ 18 साल से कम आयु के बच्चों का सर्वे किया जाएगा. शहर के कुल 25 वार्ड्स में 18 सौ से ज्यादा बच्चों के लिए सैम्पल लिए जाएंगे. बच्चों की भी तीन कैटेगरी रखी गयी हैं. कमिश्नर ने जनता से अपील की है कि वो सर्वे में सहयोग करें.

कोरोना की तीसरी लहर की तैयारियों के बीच शहर के बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता का पता लगाने के लिए अब एक बार फिर सीरो सर्वे किया जाएगा. इंदौर संभाग के कमिश्नर डॉ.पवन शर्मा का कहना है शहर के 18 साल से कम आयु के बच्चों का सीरो सर्वे कराया जाएगा, जिसमें 25 वार्डों में 1848 बच्चों के ब्लड सैंपल लिए जाएंगे. इसके लिए एक एप बनाकर रेंडमली सर्वे किया जाएगा.

40 टीम तैयार
सर्वे के लिए 40 टीमों का गठन किया गया है. इसमें स्वास्थ्य विभाग, नगर निगम और जिला प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहेंगे. इसमें दिल्ली की संस्था एनसीडीसी को भी शामिल किया गया है. इसके अलावा 20 टीमों को रिजर्व भी रखा जाएगा. ये टीमें 1 से 6 साल, 6 से 9 साल औऱ 10 से 17 साल के बच्चों के ब्लड सैंपल लेंगी. उसे लैब में टेस्ट कराया जाएगा. जिससे इनकी एंटी बॉडी का पता लग जाएगा. इससे पता लगेगा कि शहर इम्युनिटी के किस लेबल पर है.

3 कैटेगरी में जांच
कमिश्नर डॉ पवन शर्मा ने बताया कि पिछली बार जो सीरो सर्वे कराया गया था उसकी तीन कैटेगरी बनाई गयी थीं. इसमें एक मेल, दूसरी फीमेल और तीसरी कैटेगरी बच्चों की थी. लेकिन इस बार सिर्फ बच्चों की तीन कैटेगरी का ही सर्वे होगा. इसमे अभी सिर्फ नगर निगम इंदौर के क्षेत्र का शामिल किया गया है. रेंडमली सिलेक्शन के लिए एक एप नगर निगम बना रहा है,जिसमें घरों का सेलेक्शन होगा.

कर्मचारियों को ट्रेनिंग जिला प्रशासन देगा और टेस्टिंग का काम महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज की लैब में होगा. ये एक सामूहिक प्रयास है जिसमें सभी विभागों का सहयोग लिया जा रहा है क्योंकि घर घर तक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और नर्सेस की टीमें जाएंगी. कमिश्नर शर्मा ने इस सर्वे में लोगों से सहयोग की अपील की है. उनका कहना है जब टीम उनके घरों तक पहुंचें तो वे सैंपल देने में टीम का सहयोग जरूर करें,क्योंकि हमें मिलकर ही कोरोना की जंग को जीतना है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज