Indore: सेक्स रैकेट और ड्रग्स की 'स्वीट हार्ट' शिकंजे में, माफिया के खिलाफ लगेगा NSA

इंदौर में ड्रग माफिया के खिलाफ कार्रवाई जारी है.

इंदौर में ड्रग माफिया के खिलाफ कार्रवाई जारी है.

मोहम्मद उस्मानी तिलक नगर थाना क्षेत्र का कुख्यात अपराधी है. उसने अपने होटल में युवाओं को बर्बाद करने के सभी इंतजाम कर रखे थे. सभी तरह के नशे और अय्याशी के साधन यहां जुटाए गए थे.

  • Last Updated: January 10, 2021, 1:22 PM IST
  • Share this:
इंदौर. इंदौर में ड्रग माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई जारी है. इसी के तहत आज नगर निगम, जिला प्रशासन और पुलिस की टीम ने अय्याशी का अड्डा बने होटल स्वीटहार्ट को ढहा दिया. पीपल्याहाना चौराहे पर बने तीन मंजिला इस होटल के बेसमेंट भी अवैध निर्माण कर लिया गया था. कार्रवाई के दौरान होटल से बड़ी मात्रा में आपत्तिजनक सामग्री मिली.

महालक्ष्मी नगर में कार्रवाई के बाद कलेक्टर मनीष सिंह के निर्देश पर नगर निगम का रिमूवल अमला सीधे पीपल्याहाना चौराहा पहुंचा और होटल को गिराने की कार्रवाई शुरू की. निगम उपायुक्त लता अग्रवाल ने बताया कि पूरा होटल अवैध है. ये होटल मोहम्मद अली उस्मानी का है. उस पर न केवल मध्य प्रदेश में बल्कि दूसरे राज्यों में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं.

मिली थीं कई शिकायतें, आरोपी को भेजा जाएगा जेल

900 वर्गफीट जमीन पर ताने गए इस अवैध होटल के बेसमेंट, ग्राउंड फ्लोर और ऊपरी हिस्से में तीन मंजिलें बनाई गई हैं. लंबे समय से पुलिस और जिला प्रशासन को होटल में जिस्मफरोशी समेत ड्रग सप्लाई की शिकायतें मिल रही थीं. होटल संचालक मोहम्मद अली उस्मानी के खिलाफ कलेक्टर मनीष सिंह और डीआइजी हरिनारायणचारी मिश्रा ने राष्ट्रीय सुरक्षा कानून यानि रासुका के तहत कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा.
कुख्यात अपराधी है होटल का संचालक

नगर निगम के अपर उपायुक्त ने बताया कि मोहम्मद उस्मानी तिलग नगर थाना क्षेत्र का कुख्यात अपराधी है. उसने अपने होटल में युवाओं को बर्बाद करने के सभी इंतजाम कर रखे थे. सभी तरह के नशे और अय्याशी के साधन यहां जुटाए गए थे. ये होटल अवैध गतिविधियों का केन्द्र बन चुका था, जिस पर इसे तोड़ने की कार्रवाई की गई है.

अभी तक इन पर हो चुकी कार्रवाई



जिला प्रशासन अभी तक इन आरोपियों पर कार्रवाई कर चुका है. भूमाफिया हेमंत यादव पर सेंट्रल कोतवाली और विजय नगर पुलिस ने अवैध कब्जे और धोखाधड़ी के दो केस दर्ज किए. गैंगस्टर सतीश भाऊ पर पुलिस ने धमकाने, फ्लैट पर कब्जा करने का केस दर्ज किया. तुकोगंज पुलिस ने चिराग शाह और बिल्डर ए मेहता पर सहकारिता विभाग की शिकायत पर प्लॉटों की हेराफेरी में केस दर्ज किया. शिवनारायण अग्रवाल के खिलाफ लसूड़िया पुलिस ने तुलसी नगर कॉलोनी में प्लॉटों की धोखाधड़ी के दो केस दर्ज किए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज