लाइव टीवी

इंदौर हाईकोर्ट बेंच कंप्यूटरीकृत सेवाओं के मामले में देश में नंबर 1

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: December 6, 2019, 9:59 PM IST
इंदौर हाईकोर्ट बेंच कंप्यूटरीकृत सेवाओं के मामले में देश में नंबर 1
कंप्यूटकीरण में भी सबसे आगे है एमपी हाईकोर्ट की इंदौर बेंच

स्वच्छता (Cleanliness) में नंबर वन इंदौर शहर ने एक और तमगा हासिल कर लिया है. मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय की इंदौर खण्डपीठ (Indore Bench) ने कम्प्यूटरीकरण के क्षेत्र में देश का पहला उच्च न्यायालय होने का गौरव प्राप्त किया है. हाईकोर्ट के आदेशों की अब ऑनलाइन प्रमाणित प्रतिलिपि मिलना शुरू हो गईं हैं.

  • Share this:
इंदौर. मुख्य न्यायाधीश ए के मित्तल ने ऑनलाइन सर्टीफाइड कॉपीयंग सॉफ्टवेयर का उद्घाटन किया. इन्दौर पहुंचे मुख्य न्यायाधीश ने हाईकोर्ट परिसर में जजों, वकीलों और कर्मचारियों की उपस्थिति में ऑनलाइन प्रमाणित प्रतिलिपि (Certifies Online Copy) प्राप्त करने के इस नये सॉफ्टवेयर का उद्घाटन नकल विभाग में किया. ऑनलाइन प्रमाणित प्रतिलिपि प्रदान करने वाला मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय देश का पहला न्यायालय बन गया है. जल्दी ही ये व्यवस्था मध्य प्रदेश के जिला न्यायालयों में भी लागू की जायेगी.

दूरदराज के पक्षकारों को होगा फायदा
अभी तक हाईकोर्ट के नकल विभाग के कॉउटर से नकल प्राप्त करने की प्रचलित सुविधा को सुलभ बनाते हुए ऐसा सॉफ्टवेयर विकसित किया गया है कि पक्षकार या वकील मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय की वेबसाइट के द्वारा अपना आवेदन ऑनलाईन प्रस्तुत कर सकेंगे. नेट बैंकिंग या डेबिट, क्रेडिट कार्ड की मदद से शुल्क का भुगतान भी ऑनलाइन किया जा सकेगा. शुल्क का भुगतान होते ही ऑनलाइन प्रमाणित प्रतिलिपि चयनित विकल्प पर उपलब्ध रहेगी. दूरदराज के क्षेत्रों में बैठे पक्षकार या कोई भी व्यक्ति उच्च न्यायालय की वेबसाइट से मुख्यपीठ जबलपुर खण्डपीठ इन्दौर और ग्वालियर में चल रहे मामलों की प्रमाणित प्रतिलिपि प्राप्त कर सकेंगे, वहीं नकल शाखा के काउंटर पर प्रमाणित प्रतिलिपि आवेदन के पंजीकरण, प्रतिलिपि तैयार होने तथा प्रदान करने से सबंधित जानकारी SMS से भेजने की सुविधा पहले से जारी है.

ये भी पढ़ें -

सीएम कमलनाथ की नसीहत का असर, सरकारी स्कूलों में शिक्षा का स्तर जांच रहे अधिकारी
MP में अलर्ट: संदिग्ध युवकों की तलाश जारी, आतंकी कनेक्शन की जांच में जुटी इंटेलिजेंस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 6, 2019, 9:46 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर