MP में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों पर कैलाश विजयवर्गीय ने दिया ये रिएक्शन

कैलाश विजयवर्गीय ने मध्य प्रदेश की सत्ता में शिवराज सिंह को बदले जाने की अटकलों को 'बकवास' करार दिया है (फाइल फोटो)

सत्तारूढ़ बीजेपी के दिग्गज नेताओं की जारी मुलाकातों के बीच पिछले कुछ समय से मध्य प्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलें जोर पकड़ रही थीं. सोमवार को मीडिया द्वारा इस संबंध में पूछे जाने पर कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijaywargiya) ने कहा, 'यह अटकलें एकदम बकवास हैं. शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में ही प्रदेश चलेगा'

  • Share this:
    इंदौर. बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijaywargiya) ने मध्य प्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों को बकवास करार दिया है. उन्होंने कहा कि यह सूबा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) की अगुवाई में ही चलेगा. दरअसल सत्तारूढ़ बीजेपी के दिग्गज नेताओं की जारी मुलाकातों के बीच प्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलें जोर पकड़ रही थीं. सोमवार को मीडिया द्वारा इस संबंध में पूछे जाने पर विजयवर्गीय ने कहा, 'यह अटकलें एकदम बकवास हैं. शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में ही प्रदेश चलेगा.'

    मूल रूप से इंदौर से ताल्लुक रखने वाले कैलाश विजयवर्गीय, बीजेपी में पश्चिम बंगाल मामलों के प्रभारी हैं.  पिछले महीने संपन्न हुए पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी ममता बनर्जी नीत तृणमूल कांग्रेस का गढ़ भेदने में नाकाम रही. विजयवर्गीय ने हाल के अपने भोपाल दौरे में प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्र और पार्टी के अन्य नेताओं से भेंट की थी. इस बीच, राज्य के अन्य दिग्गज बीजेपी नेताओं की मेल-मुलाकातों का दौर भी जारी है. इन मुलाकातों की पृष्ठभूमि में राज्य में नेतृत्व परिवर्तन को लेकर खासकर सोशल मीडिया पर लगाए जा रहे कयासों में विजयवर्गीय का नाम भी शामिल है. हालांकि, उन्होंने इन्हें खारिज करते हुए कहा, 'मैं अभी दूसरी जगह लगा हूं.'

    बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि भले ही मीडिया कुछ भी कहानी बना दे. लेकिन इन मुलाकातों को लेकर जो मैं देख-पढ़ रहा हूं, उसमें कुछ भी दम नहीं है और यह सब (नेतृत्व परिवर्तन की अटकलें) बकवास है.

    विजयवर्गीय ने कहा कि यह सामान्य मेल-मुलाकातें हैं, इन्हें राजनीतिक रंग देना उचित नहीं है. कोरोना काल में लोगों के पास काम कम है, तो वो एक-दूसरे से मेल-मुलाकात कर अपने व्यक्तिगत संबंध मधुर कर रहे हैं. उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ 'बहुत अच्छा' काम कर रहे हैं और वो अपने संवैधानिक दायित्वों के तहत राज्य की चिंता कर रहे हैं. (भाषा से इनपुट)