Assembly Banner 2021

इंदौर: झूठी शान के लिए बहनोई की सरेराह हत्या, दो सगे भाई गिरफ्तार

पुलिस के एक अन्य अधिकारी ने बताया कि अयाज और वकार की बहन अलमास करीब दो महीने पहले प्रेम विवाह के लिए घर छोड़कर खान के साथ चली गई थी. (सांकेतिक फोटो)

पुलिस के एक अन्य अधिकारी ने बताया कि अयाज और वकार की बहन अलमास करीब दो महीने पहले प्रेम विवाह के लिए घर छोड़कर खान के साथ चली गई थी. (सांकेतिक फोटो)

वारदात के बाद फरार आरोपियों को इंदौर (Indore) से करीब 140 किलोमीटर दूर रतलाम से पकड़ा गया. उन्होंने बताया कि दोनों भाइयों पर अपने बहनोई समीर खान (30) की मोती तबेला क्षेत्र में रविवार शाम चाकुओं से ताबड़तोड़ वार कर सरेराह हत्या का आरोप है.

  • Share this:
इंदौर. झूठी शान के लिए बहनोई (Brother- In-Law) की सरेराह हत्या के आरोप में पुलिस ने दो सगे भाइयों को सोमवार को गिरफ्तार किया. शहर पुलिस अधीक्षक (सीएसपी) दिनेश अग्रवाल (Dinesh Aggarwal) ने बताया कि सनसनीखेज वारदात में गिरफ्तार आरोपियों की पहचान अब्दुल अयाज (22) और अब्दुल वकार (24) के रूप में हुई है. वारदात के बाद फरार आरोपियों को इंदौर (Indore) से करीब 140 किलोमीटर दूर रतलाम से पकड़ा गया. उन्होंने बताया कि दोनों भाइयों पर अपने बहनोई समीर खान (30) की मोती तबेला क्षेत्र में रविवार शाम चाकुओं से ताबड़तोड़ वार कर सरेराह हत्या का आरोप है.

पुलिस के एक अन्य अधिकारी ने बताया कि अयाज और वकार की बहन अलमास करीब दो महीने पहले प्रेम विवाह के लिए घर छोड़कर खान के साथ चली गई थी. उन्होंने बताया कि खान, अलमास के परिवार की चिकन की दुकान में काम करता था, जहां इस युगल के बीच प्रेम पनपा और उन्होंने शादी का फैसला किया. पुलिस अधिकारी ने बताया कि युगल ने अलमास के परिवार की मर्जी के खिलाफ अहमदाबाद में निकाह कर लिया था.

उसे मृत घोषित कर दिया
उन्होंने बताया, ’अयाज और वकार इस निकाह से गुस्से में थे और अपने बहनोई खान पर हमले की ताक में थे. उन्होंने अपने पिता की तबीयत खराब होने का झांसा देकर खान को मोती तबेला क्षेत्र में बुलाया और बीच राह में उन पर चाकुओं से 10 से ज्यादा वार किए.’ पुलिस अधिकारी ने बताया कि खून से लथपथ होकर सड़क पर गिरे खान को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.
एसटीएफ ने जांच के लिए सागर लैब भेजा है


बता दें कि मध्य प्रदेश में इन दिनों अपराध के मामले बढ़ गए हैं. इंदौर में स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने बड़ी कार्रवाई की है. एटॉमिक एनर्जी के लिए प्रयोग किया जाने वाले रेडियो एक्टिव पदार्थ की तस्करी करने के मामले में 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार सभी आरोपी उत्तर प्रदेश के कानपुर  के रहने वाले बताए जा रहे हैं. आरोपियों के कब्जे से दो ग्राम चमकीला पाउडर मिला है, जिसे ये यूरेनियम बताकर 2 से 3 करोड़ रुपये में इंदौर में किसी लैब से जुड़े शख्स को बेचने आए थे. कांच की बॉटल और प्लास्टिक की थैली में पैक इस मैटल पाउडर को एसटीएफ ने जांच के लिए सागर लैब भेजा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज