Corona Crisis: संक्रमितों की संख्या से परेशान इंदौर, अब इस थेरेपी का लेगा सहारा

इंदौर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 438 हो गई है.
इंदौर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 438 हो गई है.

Fight Against COVID-19: इंदौर में लगातार बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्‍या को देखते हुए स्‍थानीय प्रशासन ने प्‍लाज्‍मा थेरेपी के इस्‍तेमाल का फैसला किया है.

  • Share this:
इंदौर. मध्य प्रदेश का इंदौर शहर (Indore City) पूरे देश में सुर्खियों में है. मिनी मुंबई के तौर पर मशहूर इस शहर के सुर्खियों में रहने का कारण कोरोना (Coronavirus) संक्रमितों की बढ़ती संख्या है. इस बीच प्रशासन ने इन मरीजों को जल्द ठीक करने के लिए एक पहल की है. प्लाज्मा थेरेपी के इस्तेमाल के लिए प्रशासन की तरफ से एक प्रस्ताव भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद को भेजा गया है. साथ ही इसे जल्द स्वीकृति देने की मांग भी की गई है. जानकारी मिल रही है कि इस थेरेपी का दक्षिण भारत के केरल राज्य में प्रयोग हो रहा है. इसके काफी सकारात्मक रिजल्ट मिले हैं.

दरअसल, प्रशासन लंबे समय से आईसीएमआर के निर्देश का इंतजार कर रहा था, लेकिन इस बीच कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. इस कारण प्रशासन ने खुद से स्वीकृति लेने की पहल की है. राजस्थआन पत्रिका की एक खबर के अनुसार, इस संबंध में संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी ने आइसीएमआर से संपर्क कर इस थैरेपी के इस्तेमाल की अनुमति मांगने की जानकारी दी है.

जानिए क्या है प्लाज्मा थेरेपी
विशेषज्ञों का कहना है इस थैरेपी में कोरोना संक्रमण से दूर हो चुके मरीजों के ब्लड से प्लाज्मा निकालकल इससे गंभीर तौर पर बीमार लोगों के शरीर में डाला जाता है. इससे गंभीर तौर पर बीमार मरीज के संक्रमण से लड़ने की रोक प्रतिरोधक क्षमता (Immunne System) बढ़ जाती है.
हालात परेशान करने वाले


आपको बता दें कि इंदौर के हालात परेशान करने वाले दिख रहे हैं. शहर में मंगलवार तक 76 और कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आए. इनमें से 65 इंदौर के ही निवासी हैं, वहीं 11 वे लोग हैं जो किसी अन्य राज्य के रहने वाले हैं लेकिन पिछले कुछ समय से इंदौर में ही रह रहे हैं. अब जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 438 हो गई है.

 

ये भी पढ़ें:

142 नए मामले आने के बाद संक्रमितों की संख्या हुई 757, 53 की मौत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज