अपना शहर चुनें

States

हनी ट्रैप मामलाः कोर्ट ने तीनों महिला आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेजा, पुलिस रिमांड की अर्जी खारिज

इंदौर की जिला कोर्ट ने तीन आरोपियों को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.
इंदौर की जिला कोर्ट ने तीन आरोपियों को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

इंदौर पुलिस (Indore Police) के पर्याप्त साक्ष्य पेश न करने पर कोर्ट ने पुलिस रिमांड की याचिका ठुकराई. हनी ट्रैप मामले (Honey Trap Case) में पूछताछ के दौरान युवतियों के पास से बरामद हुए कई महंगे गैजेट्स.

  • Last Updated: September 20, 2019, 10:06 PM IST
  • Share this:
इंदौर. बहचर्चित हनी ट्रैप मामले (Honey Trap Case) में इंदौर की जिला अदालत ने भोपाल से गिरफ्तार तीन आरोपी युवतियों को न्यायिक हिरासत (judicial custody) में 14 दिनों के लिए जेल भेज दिया है. कोर्ट ने हालांकि इंदौर पुलिस की उस अर्जी को खारिज कर दिया, जिसमें इन आरोपियों को 7 दिनों की पुलिस रिमांड पर लेने की अनुमति मांगी गई थी. अदालत ने कहा कि पुलिस ने पर्याप्त साक्ष्य पेश नहीं किए, इसलिए आरोपियों को पुलिस रिमांड पर नहीं भेजा जा सकता. कोर्ट ने जिन तीनों आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेजा है, उनमें श्वेता जैन, बरखा सोनी और श्वेता शामिल हैं.

रसूखदारों की धड़कनें बढ़ीं
हनी ट्रैप मामले ने प्रदेश के कई प्रशासनिक अधिकारियों और रसूखदारों की धड़कनें बढ़ा दी हैं. इंदौर पुलिस लगातार गिरफ्तार युवतियों से पूछताछ कर रही है. पुलिस के अनुसार इन युवतियों ने कई अहम जानकारी भी दी है. हालांकि पुलिस की शुरुआती पूछताछ में इन युवतियों ने खुद को घरेलू महिला बताया था, लेकिन पुलिस को इनके बयानों पर संदेह है. पुलिस के अनुसार इन युवतियों के नाम पर कई संपत्तियों का पता चला है. साथ ही भोपाल के अलग-अलग बैंकों में इनके नाम के खाते भी हैं. क्योंकि इन पुलिस को इन युवतियों की लाइफ स्टाइल, पॉश कॉलोनियों में घर और विदेशी गाड़ियां देखकर नहीं लगता है कि ये घरेलू महिलाएं हैं. लिहाजा, आने वाले दिनों में पुलिस इन सभी युवतियों के बैंक खाते और संपत्ति की भी जांच करेगी.

युवतियों के पास मिले हाईटेक गैजेट्स
इधर, इंदौर से हनी ट्रैप मामले में गिरफ्तार आरती दयाल और मोनिका यादव से भी लगातार पूछताछ की जा रही है. पुलिस को इस बात का भी शक है कि गिरफ्तार युवतियों के तार और भी कई महिलाओं से जुड़े हुए हैं, जिन्हें ये बड़े अधिकारियों और रसूखदारों के पास भेजती थी. पुलिस ने इन युवतियों के पास से कई हाइटेक गैजेट्स भी बरामद किए हैं. इनमें स्पाई कैमरों से लेकर हाइएंड मोबाइल शामिल है. वहीं, पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि इन युवतियों के मोबाइल में कई स्पाई साफ्टवेयर भी इंस्टॉल हैं, जिसका इस्तेमाल वीडियो बनाने में किया जा रहा है. सभी को लैब टैस्ट के लिए भेजा जाएगा.



गहराई से हो रही छानबीन
एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र की मुताबिक पुलिस की इन युवतियों से लगातार पूछताछ जारी रहेगी. इसके अलावा कई और नाम भी सामने आ सकते हैं, जो कि इस गोरखधंधे में शामिल हैं. इन युवतियों से पूछताछ के आधार पर पुलिस कई ऐसे लोगों पर भी शिकंजा कसने की तैयारी कर रही है, जिनका संबंध इन युवतियों से रहा है. पुलिस के मुताबिक आने वाले दिनों में हनी ट्रैप मामले से जुड़े कुछ और लोगों के नाम सामने आ सकते हैं.

यह भी पढ़ें -

हनीट्रैप मामला : मोबाइल में थे 1 हजार अश्लील वीडियो, हार्डडिस्क में नेताओं के नाम, लैंड रोवर, मर्सिडीज और ऑडी भी मिली

हनी ट्रैप मामला: नेताओं-अफसरों के पास भेजी गयीं कॉल गर्ल्स, मिले दर्जनों नंबर

हनी ट्रैप में बड़ा खुलासा: नेताओं-अफसरों के पास भेजी गयीं कॉल गर्ल्स, मिले दर्जनों नंबर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज