गरबा पंडालों में अब आधी रात तक गूंजेगा...ढोली तारो ढोल बाजे...

जनहित याचिका की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने निर्देश दिए कि आयोजक इस मामले में कलेक्टर को लिखित आवेदन करें और कलेक्टर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व में दिए गए आदेश के मुताबिक आवेदनों का उसी दिन निराकरण करें.

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 12, 2018, 7:32 PM IST
गरबा पंडालों में अब आधी रात तक गूंजेगा...ढोली तारो ढोल बाजे...
मध्‍यप्रदेश उच्‍च न्‍यायालय की इंदौर खंडपीठ.
Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 12, 2018, 7:32 PM IST
मध्‍यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर के निवासियों के लिए एक अच्छी खबर है. मध्‍यप्रदेश हाईकोर्ट की इंदौर खंडपीठ ने गरबों में रात 12 बजे तक लाउड स्पीकर बजाने का रास्ता साफ कर दिया है. हाईकोर्ट में गत बुधवार को दायर की गई जनहित याचिका की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने निर्देश दिए कि आयोजक इस मामले में कलेक्टर को लिखित आवेदन करें और कलेक्टर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व में दिए गए आदेश के मुताबिक आवेदनों का उसी दिन निराकरण करें.

याचिका बीजेपी प्रवक्ता उमेश शर्मा ने दायर की थी. याचिकाकर्ता के अलावा शुक्रवार को इंटरविनर के रूप में मौजूद एडवोकेट पीयूष माथुर ने तर्क रखा कि यह मामला लोगों की धार्मिक आस्था से जुड़ा है, इसलिए विशेष परिस्थितियों में कोलाहल अधिनियम की धारा 7 ई के तहत रात 12 बजे तक अनुमति को बढ़ाया जा सकता है. वहीं उन्‍होंने ये तर्क भी दिया कि गरबा एक धार्मिक आयोजन है न कि राजनीतिक आयोजन. इसलिए
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर