• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • INDORE : जब हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ताओं ने सीटी बजाकर एंबुलेंस के लिए बनाया रास्ता

INDORE : जब हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ताओं ने सीटी बजाकर एंबुलेंस के लिए बनाया रास्ता

बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष जीतू जिराती ने भी ट्वीट कर कार्यकर्ताओं की तारीफ की.

बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष जीतू जिराती ने भी ट्वीट कर कार्यकर्ताओं की तारीफ की.

INDORE- इंदौर में आज हिंदू जागरण मंच के विरोध प्रदर्शन के दौरान एक सुखद तस्वीर देखने मिली जो दिल को छू गई. प्रदर्शन के बीच आंदोलनकारियों ने खुद ट्रैफिक व्यवस्था संभाली और एंबुलेंस को रास्ता दिया.

  • Share this:

इंदौर. इंदौर (Indore) में हिंदू वादी संगठनों की रैली के दौरान एक सुखद तस्वीर दिखी. सैकड़ों की तादाद में रैली निकाल रहे कार्यकर्ताओं के जाम में एक एंबुलेंस फंस गयी. लेकिन कार्यकर्ताओं ने बिना देर किये उसके लिए कॉरिडोर बनाया औऱ फौरन एंबुलेंस को भीड़ में से पार करा दिया.

अक्सर आपने भीड़ भाड़ वाले प्रदर्शनों के दौरान ट्रैफिक जाम में एंबुलेंस को घंटों फंसे हुए देखा होगा. इस वजह से कई बार उसमें ले जा रहे मरीज की जान तक चली जाती है. लेकिन इंदौर का ये नजारा देखकर आपकी धारणा बदल जाएगी. शहर में आज हिंदू जागरण मंच के विरोध प्रदर्शन के दौरान एक सुखद तस्वीर देखने मिली जो दिल को छू गई.

ये भी पढ़ें-Corona Vaccination : इंदौर में 5 फीसदी बचे लोगों को घर घर ढूंढ कर लगाई जाएगी वैक्सीन

जाम में फंस गयी एंबुलेंस
इंदौर में चूड़ी वाले की पिटाई के बाद के घटनाक्रम के विरोध में हिंदूवादी संगठनों ने आज रैली निकाली. डीआईजी को ज्ञापन देने जा रहे हजारों कार्यकर्ताओं ने रीगल चौराहे पर प्रदर्शन किया. इस दौरान भीड़ की वजह से चारों ओर का ट्रैफिक जाम हो गया. इसी जाम में एक इमरजेंसी मरीज को ले जा रही एंबुलेंस भी फंस गई. ऐसे में मरीज के परिवारवालों की सांसें फूलने लगीं. वे कुछ सोच पाते उससे पहले ही हिंदूवादी कार्यकर्ताओं ने एंबुलेंस को भीड़ के बीच से निकालने की तरकीब निकालनी शुरू कर दी.कार्यकर्ताओं ने पहले लोगों को एक तरफ करने की कोशिश की. लेकिन लाउड स्पीकर और ढोल नगाड़ों के शोर की वजह से लोग समझ नहीं पाए और वे अपने स्थान से नहीं हटे. तब कार्यकर्ताओं ने अपनी व्हिसल बजाना शुरू कर दिया और लोगों को हटाते हुए भीड़ को दो हिस्सों में अलग कर दिया. इससे बीच में रास्ता बन गया और एंबुलेंस को राजवाड़ा की तरफ रवाना कर दिया गया.

मानवीय संवेदना का परिचय

उसके बाद फिर प्रदर्शन शुरू हो गया जो करीब एक घंटे तक चला. यदि एक घंटे तक एंबुलेंस रुकी रहती तो इमरजेंसी पेशेंट का क्या हाल होता आप खुद समझ सकते हैं. लेकिन कार्यकर्ताओं ने मानवीय संवेदना का परिचय देते हुए तत्काल एंबुलेस के लिए रास्ता बनाया और उसे अपने रास्ते पर रवाना कर दिया. इससे एक मरीज की जान बच गई और ये घटना इंदौर शहर के लिए एक मिसाल बन गई. बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष जीतू जिराती ने भी ट्वीट कर कार्यकर्ताओं की तारीफ की.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज