लाइव टीवी

जे पी नड्डा की रैली पर नगर निगम ने लगाया 13.46 लाख रुपए का जुर्माना
Indore News in Hindi

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: December 23, 2019, 11:31 AM IST
जे पी नड्डा की रैली पर नगर निगम ने लगाया 13.46 लाख रुपए का जुर्माना
जे पी नड्डा की रैली पर इंदौर नगर निगम ने लगाया 13.46 लाख रुपए का जुर्माना

मध्य प्रदेश आउटडोर विज्ञापन मीडिया नियम 2017 (Madhya Pradesh Outdoor Advertising Media Rules 2017) और नगर पालिक अधिनियम 1956 की धारा 322 (Section 322 of the Municipal Act 1956) के तहत सड़क पर बाधा उत्पन्न करने पर ये कार्रवाई की गई है.

  • Share this:
इंदौर.इंदौर (Indore) में रविवार को हुई बीजेपी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा (J P Nadda) की रैली पर नगर निगम  ने 13 लाख 46 हजार 300 रुपए का जुर्माना (fine) लगा दिया है. शहर के विभिन्न स्थानों पर अवैध और अनाधिकृत रूप से बैनर पोस्टर (banner-poster) लगाने पर ये जुर्माना ठोका गया है. मध्य प्रदेश आउटडोर विज्ञापन मीडिया नियम 2017 और नगर पालिक अधिनियम 1956 की धारा 322 के तहत सड़क पर बाधा उत्पन्न करने पर ये कार्रवाई की गई है.

बीजेपी नगर अध्यक्ष को नोटिस
नगर निगम इंदौर के उपायुक्त लोकेन्द्र सिंह सोलंकी ने ये नोटिस बीजेपी नगर अध्यक्ष गोपीकृष्ण नेमा को भेजा है. पोस्टर बैनर लगाकर पार्टी का विज्ञापन करने पर इसे आउटडोर विज्ञापन मीडिया नियम 2017  का उल्लंघन माना गया.बिना इजाज़त बैनर, पोस्टर और होर्डिंग्स लगाने पर नगर पालिक अधिनियम 1956 की धारा 322 का उल्लंघन माना गया है. इसमें 10 लाख 35 हजार का जुर्माना और उस पर 18 प्रतिशत के हिसाब से 1 लाख 86 हजार 300 की जीएसटी लगायी गयी.इस हिसाब ये राशि कुल 12 लाख 21 हजार 300 रुपए होगी. बैनर-पोस्टर हटाने में 1 लाख 25 हजार रुपए खर्च होंगे.सारी राशि मिलाकर कुल 13 लाख 46 हजार 300 रुपए निगम कोषालाय में अनिवार्य रूप से जमा कराना होगा.

नागरिकता संशोधन कानून पर रैली

नागरिकता संशोधन कानून बनने पर इंदौर से सांसद शंकर लालवानी के बुलावे पर बीजेपी कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा रविवार को इंदौर आए थे. वो वे एयरपोर्ट से राजीव गांधी चौराहे तक खुली जीप में सवार होकर रैली निकालना चाह रहे थे. शहर में धारा 144 लागू है, इसलिए प्रशासन ने  20 से ज्यादा वाहन शामिल नहीं होने और 35 मिनट में पूरी रैली करने की शर्त के साथ इजाज़त दी थी.  रैली मार्ग पर किसी तरह के स्वागत मंच और लाउड स्पीकर बजाने की अनुमति नहीं दी गई थी. बावजूद इसके नियमों की धज्जियां उड़ाईं गईं. इसकी शिकायत कांग्रेस ने कलेक्टर से की है. क्योंकि सफाई में चौथी बार नंबर वन आने की तैयारी कर रहे इंदौर में किसी तरह के राजनैतिक कार्यक्रम में बैनर पोस्टर लगाने की अनुमति नहीं है. बावजूद इसके न केवल बैनर पोस्टर लगाए गए बल्कि सड़कों पर मंच तैयार कर रास्ते भी जाम किए गए. इससे आम नागरिकों को परेशानी हुई.

मंत्री सज्जन वर्मा ने बोला बीजेपी पर हमला
मध्यप्रदेश के लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने  जे पी नड्डा की रैली को लेकर बीजेपी पर बड़ा हमला बोला. उन्होंने कहा जे पी नड्‌डा इंदौर में सांप्रदायिक आग लगाने आए थे. बीजेपी के लोगों को लग रहा है कि इंदौर शांत कैसे है.मध्यप्रदेश में हिंसा क्यों नहीं हो रही है. जब पूरे मध्यप्रदेश में धारा 144 लगी है तो आपकों ऐसी क्या जरूरत आन पड़ी कि इंदौर आना पड़ा,जबकि इंदौर पूरी तरह शांत है. आप शांत प्रदेश में आग लगाने की कोशिश क्यों कर रहे हैं. आपको तो सीएए और एनआरसी को बताने के लिए पूर्वोत्तर राज्यों और आसाम में जाना चाहिए.ये भी पढ़ें-कमलनाथ सरकार के कार्यकाल में MP की शर्मनाक छवि में हुआ सुधार

जानिए, प्रज्ञा ठाकुर को विमान में क्‍यों नहीं मिली उनकी मनचाही सीट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 23, 2019, 11:21 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर