Indore: कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी जेल से बाहर आए या नहीं, जानिए क्या हुआ फैसला

कॉमडियन, मुनव्वर फारूकी की जमानत पर आज सुनवाई होगी. (सांकेतिक तस्वीर)

कॉमडियन, मुनव्वर फारूकी की जमानत पर आज सुनवाई होगी. (सांकेतिक तस्वीर)

पिछले 1 महीने से कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी केंद्रीय जेल में बंद हैं. जमानत के लिए उन्होंने इंदौर जिला कोर्ट और हाईकोर्ट में आवेदन दिया था. लेकिन दोनों ही कोर्ट में उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 5, 2021, 2:25 PM IST
  • Share this:
इंदौर. कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी को सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिल गई है.  दरअसल HC की इंदौर खंडपीठ से उनकी जमानत याचिका खारिज होने के बाद वे सुप्रीम कोर्ट चले गए थे. उन पर आरोप है कि उन्होंने एक कॉमेडी शो में हिंदू देवी-देवताओं और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह समेत दूसरे नेताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था.

पिछले 1 महीने से कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी केंद्रीय जेल में बंद थे. सुप्रीम कोर्ट से पहले जमानत के लिए उन्होंने इंदौर जिला कोर्ट और हाईकोर्ट में आवेदन दिया था. लेकिन दोनों ही कोर्ट में उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी गई थी. इस मामले में मुनव्वर फारूकी की ओर से अधिवक्ता विवेक तंखा, अंशुमन श्रीवास्तव केस लड़ रहे हैं. उन्होंने कहा कि मुनव्वर फारूकी द्वारा इस तरह की अभद्र टिप्पणी इंदौर में नहीं की गई थी. लेकिन, कोर्ट ने नहीं माना.

यह है मामला

नए साल पर 56 दुकान स्थित मुनरो कैफे में गुजरात के विवादित स्टेंडअप कॉमेडियन मुन्नवर फारूकी को बुलाया गया था. इसकी जानकारी मिलते ही हिंदू संगठन के नेता उसकी यू-ट्यूब पर जारी धार्मिक भावनाएं भड़काने और हिंदू धर्म पर की गई कॉमेडी को देखते हुए टिकट लेकर शो में शामिल हुए थे. इस शो में स्टैंडअप कॉमेडी के लिए प्रियम ने ही शहर के आराध्य देव के बारे में विवादित कॉमेडी शुरू कर दी. जैसे ही शो शुरू हुआ हिंदू संगठन हिंद रक्षक के नेताओं ने कॉमेडियन मुन्नवर ​​​​​​सहित ​सभी कलाकारों को वहीं पीट दिया और थाने ले आए. इसके बाद सभी को जेल भेज दिया गया.
Youtube Video


पुलिस को नहीं मिला कोई सबूत

पुलिस ने गुजरात के जिस स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी को हिंदू देवी-देवताओं और गृह मंत्री अमित शाह के अपमान के आरोप में जेल भेज दिया, उसके खिलाफ कोई सबूत ही नहीं मिला. इंदौर के तुकोगंज पुलिस थाने के प्रभारी कमलेश शर्मा ने अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस को दिए गए इंटरव्यू में खुद यह खुलासा किया था कि मुनव्वर फारूकी के खिलाफ पुलिस को कोई सबूत नहीं मिला.बता दें कि पुलिस ने फारुकी को कॉमेडी शो के ऑर्गेनाइजर के तौर पर गिरफ्तार किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज