liveLIVE NOW
  • Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • Indore News : मुहाड़ी घाट में फिर हादसा, प्रतिबंध के बावजूद पिकनिक मनाने गए दो छात्रों की डूबने से मौत

Indore News : मुहाड़ी घाट में फिर हादसा, प्रतिबंध के बावजूद पिकनिक मनाने गए दो छात्रों की डूबने से मौत

मुहाड़ी घाट में पिकनिक मनाने गए छह युवक ,गहरी खाईं में नहाने उतरे तीन युवक, एक को बचाया ,दो की मौत, सोमवार दोपहर कड़ी मशक्क्त के बाद गहरी खा

  • News18 Madhya Pradesh
  • | July 12, 2021, 17:07 IST
    facebookTwitterLinkedin
    LAST UPDATED 2 MONTHS AGO

    AUTO-REFRESH

    हाइलाइट्स

    इंदौर. इंदौर (Indore) के खुड़ैल थाना इलाके में मुहाड़ी घाट में एक बार फिर दर्दनाक हादसा (Accident) हो गया. यहां पिकनिक मनाने आए छह छात्रों के एक दल में से दो की डूबने से मौत हो गई. ये छात्र स्वामी दयानन्द नगर कॉलोनी के रहने वाले थे.

    कोरोना के वक्त से लागू लॉक डाउन और जनता कर्फ्यू के बाद से प्रशासन ने पर्यटन स्थल के आवाजाही पर फिलहाल रोक लगा रखी थी. बावजूद इसके यहां पर्यटक पहुंचते हैं. लेकिन कई बार वह खुद हादसों को निमंत्रण देते हैं. प्रतिबंध के बाद भी जोखिम भरे स्थान पर पहुंचकर युवक गहरी खाई में उतर गए थे और हादसे का शिकार हो गए.

    गहरे पानी में उतर गए थे दोस्त
    राजेंद्र नगर थाना इलाके के स्वामी दयानन्द नगर के रहने वाले हस्सान और नाजिन अपने दोस्तों तालिख, अमन और दो अन्य के साथ मुहाड़ी खो पिकनिक मनाने के गए थे. इसी दौरान हस्सान और नाजिम गहरे पानी में चले गए. उनके पीछे अमन भी गहराई में गया और वो भी डूबने लगा. वहां पर मौजूद तालिख ने अमन को तो हाथ पकड़ कर बाहर खींच लिया. लेकिन हस्सान और नाजिम को नहीं बचा पाया. दोनों की डूबने से मौत हो गई.

    सुबह मिलीं लाश
    घटना की जानकारी मिलते ही खुड़ैल थाना और कम्पेल चौकी से पुलिस बल मौके पर पहुंचा और तलाश शुरू की. रेस्क्यू दल को भी बुलाया गया. सर्चिंग शुरू की गई, लेकिन मौके पर बहुत अधिक अंधेरा और खाई गहरी होने की वजह से रेस्क्यू ऑपरेशन को रात में ही रोकना पड़ा. सोमवार सुबह होते ही रेस्क्यू दल ने मौके पर पहुंचकर गहरी खाई में सर्चिंग शुरू की. कड़ी मशक्कत के बाद शव को तलाश लिया गया. ग्रामीणों की मदद से शव को ऊपर लाया गया. खाई बहुत अधिक गहरी थी और वहा आसानी से चढ़ने उतरने का कोई भी संसाधन मौजूद नहीं था इसलिए काफी दिक्कत का सामना करना पड़ा.

    जोखिम के बाद भी पिकनिक का शौक
    मुहाड़ी गांव कम्पेल चौकी इलाके में आता है. यहां स्थित एक कुंड को मुहाड़ी घाट के नाम से पहचानते हैं. यह घाट बेहद जोखिम भरा है. यहां आने वाले लोगों के लिए जगह जगह चेतावनी भरे अंदाज में बोर्ड भी लगाए गए हैं. स्थानीय ग्रामीण यहां आने वाले पर्यटकों को चेतावनी भी देते हैं कि घाट बहुत गहरा है खाई में नीचे न उतरे. बाजूद इसके लोग मानते नहीं हैं और हादसे के शिकार हो जाते हैं.

    मई में भी हुआ था हादसा
    मुहाड़ी घाट पर मई माह में भी एक निजी कॉलेज के दो छात्रों की डूबने से मौत हो गई थी. दोनों तीस सदस्यो के दल के साथ वहां पिकनिक मनाने गए थे. नहाने के दौरान हादसे का शिकार हो गए थे. इसमें वीरेंद्र और हर्ष नामक छात्रों की मौत हो गयी थी. इसी तरह के शहर के बाहरी हिस्सों में कई अलग अलग कुंड और घाट हैं. बड़गोंदा थाना इलाके में पातालपानी का हादसा तो सबको याद ही होगा जब पूरा एक परिवार पानी की लहरों में डूब गया था.

    पुलिस ने कहा-मानते नहीं हैं लोग
    कम्पेल चौकी प्रभारी विश्वजीत सिंह तोमर ने कहा मुहाड़ी घाट पर जाना सख्त मना है. लेकिन प्रतिबंध के बाद भी लोग मानते नहीं हैं. चोरी छुपे अलग अलग रास्तों से विभिन्न मार्ग से आते हैं. कल हादसे में मारे गए दोनों छात्रों के शवों का पोस्टमार्टम कराने के बाद उन्हें परिजनों को सौंप दिया गया.
    विज्ञापन

    विज्ञापन