Assembly Banner 2021

Indore : 6 साल की बच्ची ने कहा - मां मुझे मारती है, पुलिस ने दर्ज की FIR

बच्ची को चाइल्ड लाइन ने रेस्क्यू किया था

बच्ची को चाइल्ड लाइन ने रेस्क्यू किया था

Indore. जानकारी मिली है कि सूचना देने वाला कोई और नहीं बल्कि मासूम का पिता ही था. उसका अपनी पत्नी से लगातार विवाद चल रहा है.

  • Share this:
इंदौर.इंदौर (Indore) में 6 साल की एक बच्ची की शिकायत पर उसकी मां के खिलाफ पुलिस (Police) ने केस दर्ज किया है. बच्ची का कहना है कि मां उसे मारती-पीटती है. पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है. फिलहाल बच्ची को चाइल्ड लाइन ने राजकीय बाल आश्रम भेज दिया है.

कुछ दिन पूर्व एक मासूम बच्ची के साथ उसकी मां द्वारा प्रताड़ना की शिकायत मिली थी.उसके बाद चाइल्ड लाइन की टीम बच्ची का रेस्क्यू कर अपने साथ ले गयी थी. आज एरोड्रम पुलिस ने मासूम की शिकायत के आधार उसकी मां के खिलाफ अपराध दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

चाइल्ड लाइन ने बचाया
चाइल्ड लाइन की टीम मासूम को थाने लेकर पहुंची थी. बच्ची ने पुलिस के सामने अपनी मां के जुल्म की पूरी बात बतायी. उसी के आधार पर पुलिस ने आरोपी मां के खिलाफ जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया है. चाइल्ड लाइन को कुछ दिन पहले बच्ची की ओर से शिकायत मिली थी. उसके बाद टीम ने मां  की काउंसलिंग की थी. लेकिन काउंसलिंग के बाद भी मां का रवैया बच्ची के प्रति नहीं बदला.वह अक्सर मारपीट करती और मासूम को परेशान करती थी. बताया जा रहा है कि मां बेहद गुस्सैल स्वभाव की है. उसका पति से भी लंबे समय से विवाद चल रहा है. बच्ची को कुछ दिन पहले जब चाइल्ड लाइन ने रेस्क्यू किया था, उस समय उसके शरीर पर चोट के निशान थे. तब से वह चाइल्ड लाइन के पास है.
पिता ने की शिकायत


एरोड्रम थाना इलाके की आम्रकुंज कॉलोनी में रहने वाली मासूम पर प्रताड़ना की शिकायत के बाद ही चाइल्ड लाइन की टीम हरकत में आई थी. हालांकि जानकारी मिली है कि सूचना देने वाला कोई और नहीं बल्कि मासूम का पिता ही था. वह खुद अपनी पत्नी से परेशान है. वह अक्सर उससे विवाद करती थी. दोनों ने लगभग आठ साल पहले लव मैरिज की थी. दो वर्ष बाद ये बच्ची हुई. आरोप है कि महिला अक्सर बच्ची के साथ मारपीट करती थी.

आरोपी मां की काउंसलिंग
पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. पुलिस कानूनी प्रक्रिया के साथ साथ मनो वैज्ञानिक तरीके से भी महिला की मनोदशा बदलने का प्रयास कर रही है. साथ ही चाइल्ड लाइन की टीम ने मासूम को फिलहाल राजकीय बाल आश्रम भेज दिया है. वहां उसकी देखरेख की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज