लाइव टीवी

कार के आगे ऑयल गिरा ड्राइवर को करते थे गुमराह, फिर उड़ा लेते थे रुपए-लैपटॉप और महंगे सामान

Vikas Singh Chauhan | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 4, 2019, 8:23 PM IST
कार के आगे ऑयल गिरा ड्राइवर को करते थे गुमराह, फिर उड़ा लेते थे रुपए-लैपटॉप और महंगे सामान
इंदौर पुलिस ने कार से सामान चुराने वाले गैंग को पकड़ा.

इंदौर पुलिस (Indore Police) ने कार के ड्राइवर को गुमराह कर कारोबारियों के रुपए, लैपटॉप और अन्य महंगे सामान की चोरी करने वाले गिरोह (Car Thieves) का किया खुलासा. तमिलनाडु के चेन्नई के रहने वाले गिरोह के सदस्यों ने पूछताछ में 40 वारदातों का अपराध कबूल किया.

  • Share this:
इंदौर. कार के आगे ब्लैक ऑयल गिराकर ड्राइवर को गुमराह कर रुपए, लैपटॉप और अन्य महंगे सामान की चोरी करने वाले गैंग का खुलासा हुआ है. इंदौर पुलिस ने शातिर चोरों के ऐसे गिरोह का भांडा फोड़ा है, जो हाल के दिनों में ऐसी चोरियों में शामिल थे. इंदौर की बाणगंगा पुलिस ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस गिरोह के किए वारदातों की जानकारी दी. पुलिस ने बताया कि इन आरोपियों ने पूछताछ में अब तक ऐसी 40 से अधिक वारदातों के बारे में जानकारी दी है. पुलिस इनसे पूछताछ के आधार पर कार से महंगे सामान की चोरियों के मामले की पड़ताल कर रही है.

चेन्नई के रहने वाले हैं शातिर
इंदौर पुलिस ने इन चोरों से हुई शुरुआती पूछताछ के बाद बताया कि गैंग के सभी सदस्य तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई के रहने वाले हैं. ये शातिर चोर कार के आगे ब्लैक ऑयल गिराकर ड्राइवर को गुमराह करते थे. ड्राइवर जैसे ही कार से बाहर आता था, गिरोह के अन्य सदस्य उसे बातों में फंसा लेते थे. इस बीच गिरोह में शामिल महिलाएं कार में रखे पैसे, लैपटॉप या अन्य महंगे सामान या बैग लेकर फरार हो जाती थी. पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने पूछताछ में 40 से अधिक ऐसी चोरियां करने की बात कबूल की हैं. पुलिस ने आरोपियों के पास से 54 हजार रुपए, कई मोबाइल फोन और अन्य दस्तावेज बरामद किए हैं.

चोरों की भाषा से होते थे कंफ्यूज

पुलिस ने बताया कि सभी आरोपी चूंकि तमिल भाषा बोलते हैं, इसलिए शुरुआत में इन्होंने पुलिस के किसी भी सवाल का जवाब नहीं दिया. बाद में इंदौर पुलिस ने एक भाषा विशेषज्ञ को बुलाकर पूछताछ की, तब जाकर शातिर अंदाज में की गई चोरियों का खुलासा हुआ. एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र के मुताबिक, ये चोर पहले बच्चों से रेकी करवाते थे. कारोबारी या अन्य शख्स, जो बैंक से पैसे निकालने आता था, बच्चे उसके बारे में शुरुआती जानकारी जुटाते थे. बैंक से बाहर आने के बाद जैसे ही कार किसी सुनसान रास्ते पर पहुंचती थी, वहां पर ये वारदात को अंजाम देते थे. पुलिस ने कहा कि आरोपियों से पूछताछ जारी है. आने वाले दिनों में कई और मामलों का खुलासा हो सकता है.

ये भी पढ़ें -

एयरस्ट्राइक: वायुसेना ने VIDEO शेयर करके बताया, पाकिस्तान के बालाकोट में कैसे बरसाए थे बम
Loading...

Honey Trap: आरोपी के पति का खुलासा, कहा- मेरी पत्नी के हाई प्रोफाइल मंत्रियों से संबंध, लेकिन...
बड़वानी के इस इलाके में पहुंची तेंदुओं की फौज, वन विभाग ने अब तक 4 तेंदुए पकड़े

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 4, 2019, 8:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...