अपना शहर चुनें

States

सफाई में नंबर-1 बनने के बाद अब 7 स्टार रेटिंग के लिए दावा

7 स्टार के लिए दावा
7 स्टार के लिए दावा

स्वच्छता सर्वे में तीसरी बार सबसे साफ शहर बनने के बाद नगर निगम अब इंदौर को सेवन स्टार शहर बनाना चाहता है. शहर को ओडीएफ में भी डबल प्लस का दर्जा मिल चुका है.

  • Share this:
इंदौर को देश का पहला 7 स्टार शहर बनाने की तैयारी हो रही है. शहरी विकास मंत्रालय ने होटलों की तर्ज़ पर शहरों की भी रेटिंग शुरू की है. नगर-निगम ने इसके लिए दावा पेश कर दिया है.

स्वच्छता सर्वे में तीसरी बार सबसे साफ शहर बनने के बाद नगर निगम अब इंदौर को सेवन स्टार शहर बनाना चाहता है. शहर को ओडीएफ में भी डबल प्लस का दर्जा मिल चुका है. नगर निगम ने स्वच्छता, सौंदर्यीकरण और पंद्रह हजार घरों में कचरा निपटान की व्यवस्था की है. यहां के नौ बाज़ारों को डिस्पोजेबल फ्री बनाने की तैयारी है. छप्पन दुकान और सराफा चौपाटी बाज़ार पहले ही डिस्पोजेबल फ्री घोषित हो चुके हैं. बाकी बचे काम भी तेज़ी से पूरे किए जा रहे हैं.

केंद्र सरकार के नियमों के हिसाब से स्वच्छता के मामले में सेवन स्टार शहर ही टॉप शहरों की दौड़ में शामिल होंगे. इंदौर में सेवन स्टार के लिए दो चुनौती हैं. शहर का सौंदर्यीकरण और कम से कम 25 हजार घरों में कचरे के निपटान की व्यवस्था करना.  नगर-निगम अब तक 15 हज़ार से ज़्यादा घरों में कचरा निपटान की व्यवस्था कर चुका है. ई लर्निंग की शर्त पूरा करने के लिए नगर निगम चार हजार कर्मचारियों को उसकी ट्रेनिंग दिला रहा है. 



इंदौर लगातार तीन बार सबसे साफ शहर घोषित हो चुका है. शहर में वेस्ट मैनेजमेंट बेहतर बनाने के इरादे से होटल्स, मैरेज गार्डन, बस्तियों में ऑर्गेनिक वेस्ट कन्वर्टर लगा दिए गए हैं. इसका ये फायदा है कि मौके पर ही सब्जी और खाने-पीने की बाक़ी वेस्ट चीजों का निपटान वहीं हो जा रहा है. अस्पतालों का कचरा भी सौ फीसदी नष्ट किया जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज