इंदौर का माल सीधे पहुंचेगा विदेश, जल्द उपलब्ध होगी इंटरनेशनल कार्गो की सुविधा
Indore News in Hindi

इंदौर का माल सीधे पहुंचेगा विदेश, जल्द उपलब्ध होगी इंटरनेशनल कार्गो की सुविधा
सांसद शंकर लालवानी ने कार्गो टर्मिनल का दौरा कर अधिकारियों को कई निर्देश दिये

इंदौर एयरपोर्ट (Indore Airport)) की डायरेक्टर आर्यमा सान्याल ने बताया कि जैसे ही शासन से स्वीकृति मिल जाएगी, वैसे ही यहां से अंतरराष्ट्रीय उड़ानें (International Flight) शुरू हो जाएंगी.

  • Share this:
इंदौर. मध्य प्रदेश के इंदौर (Indore) और उसके आसपास के औद्योगिक क्षेत्रों में कई ऐसे उत्‍पाद बनते हैं, जिन्‍हें एक्‍सपोर्ट किया जाता है. साथ ही केंद्र सरकार की भी किसानों के लिए एक्‍सपोर्ट की कई योजनाएं है, जिनसे उनकी आय बढ़ सकती है. लेकिन इन सबके लिए डायरेक्‍ट इंटरनेशनल कार्गो (International Cargo) फ्लाइट की सुविधा चाहिए. सांसद शंकर लालवानी (Shankar Lalwani) अब इसी प्रयास में पूरी ताकत से लगे हुए हैं. इसलिए उन्होंने इंदौर के कार्गो टर्मिनल का दौरा किया और यहां से जल्‍द ही इंटरनेशनल कार्गो शुरू कराने के लिए आवश्‍यक कदम उठाने को लेकर अधिकारियों को निर्देश दिए.

5 हजार टन क्षमता का गोदाम तैयार 

वर्तमान में इंदौर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर डॉमेस्टिक कार्गो की सुविधा उपलब्ध है. और इसकी मासिक क्षमता करीब 500 टन है. अंतरराष्ट्रीय कार्गो के लिए 5000 टन क्षमता का गोदाम तैयार किया जा चुका है एवं इस क्षमता को बढ़ाने के लिए गोदाम का विस्तार भी किया जा रहा है.



सांसद शंकर लालवानी ने बता‍या कि प्रधानमंत्री मोदी की आत्‍मनिर्भर भारत की संकल्‍पना के अनुरुप इंदौर से एक्‍सपोर्ट बढ़ाने के लिए प्रयास जारी हैं. इंदौर एयरपोर्ट से इंटरनेशनल कार्गो शुरू होने पर इस क्षेत्र में खुशहाली और समृद्धि बढ़ेगी. किसानों और एक्‍सपोर्ट ओरिएंटेड यूनिट्स को बहुत फायदा होगा.
एयरपोर्ट पर लगी 75 लाख रुपए की कार्गो एक्स-रे मशीन 

इंदौर के देवी अहिल्याबाई होलकर एयरपोर्ट को कृषि पदार्थों, फ्रूट्स एंड वेजिटेबल्स के साथ-साथ अन्य सामान के एयर शिपमेंट के लिए तैयार किया जा रहा है. यहां 75 लाख रुपए की कार्गो एक्स-रे मशीन आ चुकी है, जिसका इंस्टॉलेशन का काम चल रहा है. साथ ही एयरपोर्ट के पुराने भवन का नवीनीकरण कर एयर कार्गो में उपयोग करने हेतु कार्य प्रगति पर है. वर्तमान में जल्‍दी खराब होने वाले पदार्थ जैसे सब्जी, फ्रूट्स इत्यादि के लिए छोटा कोल्ड स्टोरेज प्रारंभ किया जा चुका है. और बड़े कोल्ड स्टोरेज का निर्माणकार्य प्रगति पर है, जो जुलाई के अंत तक पूरा हो जाएगा. एयर कार्गो के लिए कस्टम विभाग का ऑफिस प्रारंभ हो चुका है.

तैनात की गई सीआईएसएफ की टुकड़ी

एयरपोर्ट पर सोना, चांदी, हीरे, जवाहरात एवं ज्वेलरी के लिए वॉल्‍ट बन चुका है, जहां इंपोर्ट और एक्सपोर्ट के लिए बहुमूल्य वस्तुएं रखी जा सकती हैं. किसानों की फसलें, फल एवं सब्जियों को सीधे कार्गो भवन तक पहुंचाने के लिए सड़क एवं स्ट्रीट लाइट जल्‍द पूरा करने के लिए कहा गया है. साथ ही कार्गो एयरपोर्ट पर सुरक्षा में सीआईएसएफ की टुकड़ी तैनात की जा चुकी है. पूर्ण क्षमता के साथ टर्मिनल जब काम करने लगेगा, तो सुरक्षा और बढ़ाई जाएगी.

इंटरनेशनल फ्लाइट शुरू होने का इंतजार

एयरपोर्ट की डायरेक्टर आर्यमा सान्याल ने बताया कि जैसे ही शासन द्वारा अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की स्वीकृति प्रदान की जाएगी, वैसे ही इंदौर से स्पाइसजेट, इंडिगो, एयर सहारा, एयर इंडिया एवं अन्य उड़ानों के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय बाजार में सीधा माल पहुंचाने की सुविधा उपलब्ध हो जाएगी.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading