Assembly Banner 2021

इंदौर: 8 विचाराधीन बाल अपचारी फरार, प्रशासन ने दिए जांच के आदेश

गंभीर अपराधों (Serious Crimes) में लिप्त रहे 8 विचाराधीन बाल अपचारी बाल सुधार गृह से फरार (Absconding) हो गए हैं. सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया. आनन फानन में तमाम वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे और बाल सुधार गृह का जायजा लिया, इसके साथ ही आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए

गंभीर अपराधों (Serious Crimes) में लिप्त रहे 8 विचाराधीन बाल अपचारी बाल सुधार गृह से फरार (Absconding) हो गए हैं. सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया. आनन फानन में तमाम वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे और बाल सुधार गृह का जायजा लिया, इसके साथ ही आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए

गंभीर अपराधों (Serious Crimes) में लिप्त रहे 8 विचाराधीन बाल अपचारी 'बाल सुधार गृह' से फरार (Absconding) हो गए हैं. सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया. आनन फानन में तमाम वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे और बाल सुधार गृह का जायजा लिया, इसके साथ ही आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए

  • Share this:
इंदौर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के इंदौर (Indore) में बाल सुधार गृह की भोजन शाला की खिड़की तोड़कर फरार हुए 8 विचाराधीन बाल अपचारी (juvenile offender) प्रदेश के अलग अलग हिस्सों के रहने वाले थे और गंभीर वारदातों में लिप्त रहे थे. इन तमाम लोगों के मामले फिलहाल माननीय न्यायालय (Court) में विचाराधीन हैं. पिछले 2 महीनों में अब तक 13 बाल अपचारियों के फरार होने से हड़कंप मच गया है. हालांकि 5 बाल अपचारी कुछ समय बाद लौट आए थे.

घटना की जांच के आदेश
घटना की जानकारी मिलते ही एसएसपी और कलेक्टर मौके पर पहुंचे और बाल सुधार गृह का निरीक्षण किया. अफसरों ने इस मामले की जांच के लिए एक टीम बनाने के आदेश दिए हैं. गौरतलब है कि कछ महीने पहले भी 5 बच्चे यहां से फरार हो गए थे, हालांकि कुछ समय बाद वो खुद ही न्यायालय में प्रस्तुत हो गए थे. कुछ महीनों में इस तरह की 2 बड़ी घटनाएं सुधार गृह की सुरक्षा और वहां के जिम्मेदारों की चौकसी पर सवाल खड़े करती है. घटना की जानकारी स्थानीय पुलिस को दे दी गई है. पुलिस मामले में जांच और कार्यवाही की बात कह रही है.

News - भोजनशाला की खिड़की तोड़कर भागे विचाराधीन बाल अपराधी
भोजनशाला की खिड़की तोड़कर भागे विचाराधीन बाल अपराधी

अधीक्षक का अजीबोगरीब बयान


बाल सुधार गृह के अधीक्षक आर के दिवेदी के मुताबिक 8 बच्चों के भोजनशाला की खिड़की तोड़कर भाग जाने की जानकारी मिली है. मामले में अब वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशानुसार कार्यवाही की जा रही है. इस मामले पर अधीक्षक का बयान हैरान कर देने वाला था. उन्होंने कहा कि भवन जर्जर है इसलिए इस तरह की घटनाएं हो रही हैं.

ये भी पढ़ें -
सिख समाज को कमलनाथ सरकार का तोहफा : करतारपुर साहिब गुरुद्वारा मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना में शामिल
भारत-बांग्लादेश क्रिकेट टेस्ट मैच : भारत के लिए लकी रहा है इंदौर का होल्कर स्टेडियम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज