लाइव टीवी

साइकिल यात्री नीरज के लिए कैलाश विजयवर्गीय ने पढ़ी हनुमान चालीसा, ये है कारण

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 4, 2019, 3:31 PM IST
साइकिल यात्री नीरज के लिए कैलाश विजयवर्गीय ने पढ़ी हनुमान चालीसा, ये है कारण
क्लीन इंडिया ग्रीन इंडिया के लिए 53 की उम्र में श्रीनगर से कन्याकुमारी तक चलाई साइकल

इंदौर के नीरज याग्निक ने क्लीन इंडिया ग्रीन इंडिया और सेफ इंडिया का संदेश देने के लिए 53 साल की उम्र में श्रीनगर के लालचौक (Lal chowk Srinagar) से कन्याकुमारी (Kanyakumari) तक साइकिल चलाकर रिकॉर्ड बनाया है. उनकी इस यात्रा में बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) उनका उत्साह बढ़ाते रहे.

  • Share this:
इंदौर. देशभर में 4 हज़ार किलोमीटर साइकिल चलाकर नीरज याग्निक इंदौर (Indore) वापस लौट आए हैं. नीरज याग्निक ने 53 साल की उम्र में श्रीनगर के लालचौक (Lal chowk Srinagar) से कन्याकुमारी (Kanyakumari) तक साइकिल चलाकर रिकॉर्ड बनाया है. इस दौरान वे 19 राज्यों से होकर गुज़रे और पूरे देश को नाप दिया. बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय नीरज को छोड़ने खुद कश्मीर के लालचौक छोड़ने गए थे, जहां से उन्होंने अपनी साइकिल यात्रा की शुरूआत की थी. इस दौरान कैलाश विजयवर्गीय ने जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के तत्कालीन राज्यपाल सत्यपाल मलिक (Satyapal Malik) से मिलवाकर नीरज की हौसला अफजाई की थी.

यात्रा के बीच में हुआ एक्सीडेंट
जम्मू कश्मीर से निकलकर नीरज पंजाब पहुंचे. पंजाब के फगवाड़ा शहर से गुजरते वक्त तेज गति और रांग साइड आ रही बाइक से उनकी साइकिल टकरा गई, जिससे उनके सिर और बाएं घुटने में चोट आ गई थी. डॉक्टरों ने पैरों को सीधा रखने और 7 दिनों तक आराम करने की सलाह दी थी, लेकिन नीरज एक पैर से साइकिल चलाते रहे. नीरज़ ने कहा कि उन्होंने ये राइड लोगों को जागृत करने के लिए की है. अपनी साइकिल यात्रा पूरी करके इंदौर पहुंचे नीरज याग्निक का एयरपोर्ट पर कैलाश विजयवर्गीय ने स्वागत किया.

कैलाश विजयवर्गीय ने पढ़ी हनुमान चालीसा

इस साइकिल यात्रा के समापन मौके पर बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि, 'मैं जब नीरज याग्निक को लाल चौक पर छोड़कर आया था तबसे मैं नीरज की सुरक्षित वापसी के लिए हनुमान चालीसा पढ़ता था, क्योंकि ये यात्रा बहुत रिस्की थी लेकिन नीरज याग्निक ने ये साइकिल यात्रा न केवल पूरी की बल्कि देशभर को क्लीन इंडिया, ग्रीन इंडिया और सेफ इंडिया का संदेश दिया, युवाओं को नीरज के प्रेरणा लेनी चाहिए.'
ये भी पढ़ें -
हनी ट्रैप कांड : आरोपी महिलाओं के जाल में फंसी थीं 6 और छात्राएं, IAS अफसर ने दिया था फ्लैट
Loading...

दिग्विजय सिंह ने बताया कि वो इस वजह से करते हैं RSS का विरोध

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 4, 2019, 11:57 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...