लाइव टीवी

विजयवर्गीय का सनसनीखेज खुलासा- एक बांग्लादेशी आतंकवादी ने की थी मेरी जासूसी
Indore News in Hindi

भाषा
Updated: January 23, 2020, 11:37 PM IST
विजयवर्गीय का सनसनीखेज खुलासा- एक बांग्लादेशी आतंकवादी ने की थी मेरी जासूसी
कैलाश विजयवर्गीय ने किया ये खुलासा

कैलाश विजयवर्गीय (kailash Vijayvargiy) ने सीएए (CAA) की वकालत करते हुए कहा, 'भ्रम और अफवाहों के चक्कर में मत आइए. सीएए देश के हित में है.

  • Share this:
इंदौर. भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (kailash Vijayvargiy) ने सनसनीखेज दावा किया कि यहां उनके घर के निर्माण कार्य में संदिग्ध बांग्लादेशी नागरिक मजदूर के रूप में काम कर रहे थे. विजयवर्गीय ने यहां एक सामाजिक संगठन के कार्यक्रम में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) की जमकर पैरवी करते हुए यह दावा किया. साथ ही कहा कि बांग्लादेशी आतंकवादी ने मेरी जासूसी भी की थी.

भाजपा महासचिव ने अपने गृहनगर में 'लोकतंत्र-संविधान-नागरिकता' विषय पर आयोजित परिसंवाद में कहा कि यहां उनके घर में नए कमरे के निर्माण कार्य के दौरान उन्हें छह-सात मजदूरों के खान-पान का तरीका थोड़ा अजीब लगा, क्योंकि वे भोजन में केवल पोहा (नाश्ते के रूप में खाया जाने वाला स्थानीय व्यंजन) खा रहे थे.

संदेह के बाद बांग्लादेशी मजदूरों ने छोड़ा काम
विजयवर्गीय ने कहा कि इन मजदूरों और भवन निर्माण ठेकेदार के सुपरवाइजर से बातचीत के बाद उन्हें संदेह हुआ कि ये श्रमिक बांग्लादेश के रहने वाले हैं. कार्यक्रम के बाद हालांकि, मीडिया ने जब भाजपा महासचिव से इन संदिग्ध लोगों के बारे में सवाल किये, तो उन्होंने कहा, 'मुझे शंका थी कि ये मजदूर बांग्लादेश के रहने वाले हैं. मुझे संदेह होने के दूसरे ही दिन उन्होंने मेरे घर काम करना बंद कर दिया था'.

आतंकवादी कर रहा था रेकी
उन्होंने कहा, 'मैंने पुलिस के सामने इस मामले में फिलहाल शिकायत दर्ज नहीं करायी है. मैंने तो केवल लोगों को सचेत करने के लिए उन मजदूरों का जिक्र किया था'. विजयवर्गीय ने कार्यक्रम के दौरान अपने सम्बोधन में यह दावा भी किया कि बांग्लादेश का एक आतंकवादी पिछले डेढ़ साल से उनकी 'रेकी' (नजर रखना) कर रहा था.

उन्होंने कहा, 'मैं जब भी बाहर निकलता हूं, तो छह-छह बंदूकधारी सुरक्षा कर्मी मेरे आगे-पीछे चलते हैं. यह देश में आखिर क्या हो रहा है? क्या बाहर के लोग देश में घुसकर इतना आतंक फैला देंगे?'विजयवर्गीय ने सीएए की वकालत करते हुए कहा, 'भ्रम और अफवाहों के चक्कर में मत आइए. सीएए देश के हित में है. यह कानून भारत में वास्तविक शरणार्थियों को शरण देगा और उन घुसपैठियों की पहचान करेगा जो देश की आंतरिक सुरक्षा के लिये खतरा है'.

ये भी पढ़ें: 

PM मोदी और अमित शाह को NRC की जगह NRU बनाना चाहिए: दिग्विजय सिंह

ताई सुमित्रा महाजन ने ऐसा क्या कहा कि इमोशनल हो गए ज्योतिरादित्य सिंधिया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 23, 2020, 10:41 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर