शिफ्ट होने से पहले ही खनिज अधिकारी प्रदीप खन्ना के आलीशान बंगले पर पहुंच गयी लोकायुक्त की टीम
Indore News in Hindi

शिफ्ट होने से पहले ही खनिज अधिकारी प्रदीप खन्ना के आलीशान बंगले पर पहुंच गयी लोकायुक्त की टीम
इंदौर के पॉश इलाके के 183 नंबर बंगले में खन्ना को लाया गया और उसकी तलाशी ली गयी

लोकायुक्त पुलिस (Lokayukt Police) को जानकारी मिली कि प्रदीप खन्ना (Pradeep Khanna) ने इंदौर में पोस्टिंग के दौरान अंधाधुंध काली कमाई की. उसके बाद लोकायुक्त दल ने जानकारी जुटाई और फिर खन्ना के ठिकानों पर छापा मारा गया.

  • Share this:
इंदौर. काली कमाई (Black money) के मामले में लोकायुक्त (Loka) कार्रवाई के दायरे में आए खनिज अधिकारी प्रदीप खन्ना के इंदौर स्थित बंगले की तलाशी ली गयी. लोकायुक्त की टीम खन्ना को लेकर यहां पहुंची और फिर सर्चिंग शुरू की. प्रदीप खन्ना फिलहाल श्योपुर में पदस्थ हैं. इससे पहले वो 5 साल कर इंदौर में थे.

लोकायुक्त इंदौर की टीम ने काली कमाई के कुबेर प्रदीप खन्ना के कई ठिकानों पर मंगलवार सुबह दबिश दी थी. खन्ना अपने भोपाल स्थित घर में मिले थे. इसके साथ ही उनके एक अन्य ठिकाने पर इंदौर में भी कार्रवाई की गई थी. लोकायुक्त दल को जानकारी मिली थी कि इंदौर के पॉश इलाके में भी खन्ना का आलीशान बंगला है. दल ने इस बंगले को मंगलवार को सील कर दिया था. बुधवार दोपहर लोकायुक्त की टीम खन्ना को भोपाल से इंदौर लेकर पहुँची और उनकी मौजूदगी में बंगले को खोलकर सर्चिंग शुरू की.

काली कमाई से बनाया बंगला
इंदौर के पॉश इलाके के 183 नंबर बंगले में खन्ना को लाया गया और उसकी तलाशी ली गयी. लोकायुक्त दल को पूछताछ में खन्ना ने बताया कि 2017 में उसने ये बंगला बनवाया था. इसकी अनुमानित कीमत एक करोड़ बीस लाख बताई गई है.खन्ना अपने परिवार के साथ इस बंगले में रहने आ पाता उससे पहले लोकायुक्त का छापा पड़ गया.
अवैध खनन के खुलासे के बाद चर्चा में आये थे खन्ना


जिला खनिज अधिकारी प्रदीप खन्ना इंदौर में लंबे समय तक करीब 5 साल पदस्थ रहे. कुछ समय पहले तेजाजी नगर में पूर्व मंत्री जीतू पटवारी के समर्थकों के अवैध उत्खनन की बात सामने आयी थी. उसके बाद खन्ना का तबादला इंदौर से श्योपुर कर दिया गया था. उस वक़्त भी खन्ना ने अपना तबादला रुकवाने की कोशिश की थी. उसी दौरान लोकायुक्त पुलिस को जानकारी मिली कि प्रदीप खन्ना ने इंदौर में पोस्टिंग के दौरान अंधाधुंध काली कमाई की. उसके बाद लोकायुक्त दल ने जानकारी जुटाई और फिर खन्ना के ठिकानों पर छापा मारा गया.

पुलिस का बयान
इंदौर लोकायुक्त डीएसपी प्रवीण सिंह बघेल के मुताबिक़ प्रदीप खन्ना के ठिकानों पर दबिश के दौरान माउन्ट बर्ग में स्थित उनका बंगला मंगलवार को सील किया गया था. उसे आज उनकी मौजूदगी में खोला गया.बंगले में दस्तावेज सहित अन्य साक्ष्य खंगाले जा रहे हैं. बंगले की अनुमानित कीमत एक करोड़ बीस लाख रुपए है. बंगला सर्व सुविधा युक्त है. खन्ना के अलग अलग ठिकानों से अब तक 9 लाख रूपए नगद, १4 लाख के आभूषण, सात बैंक खातों और एक करोड़ से अधिक का बंगला मिला है. फिलहाल कार्रवाई जारी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज