मध्य प्रदेश उपचुनाव : सीएम शिवराज ने कमलनाथ को कहा - बंगाली जादूगर

मध्य प्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के प्रचार के दौरान जुबानी जंग जारी है.
मध्य प्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के प्रचार के दौरान जुबानी जंग जारी है.

इंदौर जिले की सांवेर सीट पर चुनाव प्रचार करने पहुंचे सीएम शिवराज सिंह चौहान ने पूर्व सीएम कमलनाथ को बंगाली जादूगर कहा और पूछा - कमलनाथ बताओ तुम कहां से आए हो, मैं इसी माटी में पैदा हुआ.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 20, 2020, 5:31 PM IST
  • Share this:
इंदौर. इंदौर (Indore) जिले की सांवेर विधानसभा क्षेत्र (Sanwer Assembly Constituency) के पाल कांकरिया गांव में सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने पूर्व सीएम कमलनाथ (Kamal Nath) पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कमलनाथ को बंगाली जादूगर कहते हुए कहा कमलनाथ तुमने लैपटॉप योजना, मेधावी छात्रवृत्ति योजना, संबल योजना बंद कर दी और बहनों को प्रसव के बाद मिलने वाले लड्डू के पैसे भी छीन लिए कमलनाथ जी, किसी गरीब का परिवार न उजड़े इसके लिए हमारी सरकार सामान्य मौत पर दो लाख और दुर्घटना में मौत पर चार लाख रुपये देती थी. लेकिन उद्योगपति कमलनाथ ने गरीबों से उनका सहारा, उनके कफन के पैसे तक छीन लिए. मैं नंगा भूखा शिवराज सिंह हूं और तुम सेठ कमलनाथ हो. लेकिन मैं तुम जैसे पैसे की कमी का रोना नहीं रोता हूं, मै वादा करता हूं कि कितना भी कर्ज लेना पड़े लेकिन गरीब और किसान को किसी चीज की कमी नहीं रहने दूंगा. खाद की कमी नही आने दूंगा. रैक के रैक पटकवा दूंगा.

कमलनाथ खा गए फसल बीमा प्रीमियम

शिवराज सिंह ने कहा कमलनाथ किसानों के 2200 करोड़ रुपये फसल बीमा प्रीमियम के खा गए थे, हमने जमा किए तब किसानों को फसल बीमा का पैसा मिला. सोयाबीन की फसल खराब हुई उसके 4 हजार करोड़ रुपये किसानों के खाते में डाल दिए. कमलनाथ के मदारी वाले बयान पर पलटवार करते हुए शिवराज सिंह ने कहा - बंगाली बाबू, मुझे मुख्यमंत्री बनने का चार्म नहीं रहा, मुझे तो मरने से पहले बस कुछ करने की तमन्ना है. कमलनाथ यदि तुमने जैकलीन फर्नांडिस की कमर में हाथ डालने की बजाय धन्नू पन्नू की कमर में हाथ डाला होता तो उनका उद्धार हो जाता. सीएम शिवराज सिंह ने कहा नवरात्र में लोग देवी की उपासना कर रहे हैं और कमलनाथ जी देवी तुल्य महिलाओं का खुलेआम अपमान कर रहे हैं. कमलनाथ जी याद रखिए यह वो धरती है जहां महिलाओं का अपमान करने वाले वंश समेत नष्ट हो गए.




बहरहाल, उपचुनाव में मतदान की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आती जा रही है, नेताओं के बीच जुबानी जंग तेज होती जा रही है और ये उपचुनाव धीरे-धीरे कमलनाथ वर्सेस शिवराज में तब्दील होता जा रहा है. यही कारण है कि दोनों नेताओं के बीच वार और पलटवार जारी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज