होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /मध्य प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन पर लगे भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप, पीएमओ में शिकायत

मध्य प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन पर लगे भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप, पीएमओ में शिकायत

कांग्रेस नेता राकेश यादव ने इस पूरे मामले की शिकायत पीएम, सीएम, लोकायुक्त और आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो में की है.

कांग्रेस नेता राकेश यादव ने इस पूरे मामले की शिकायत पीएम, सीएम, लोकायुक्त और आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो में की है.

Allegation of corruption on MPCA. राकेश सिंह यादव का आरोप है एमपीसीए ने 2022 में होने वाले मैच का ठेका ब्लू नेक इवेंट क ...अधिक पढ़ें

इंदौर. कभी अपनी ईमानदारी और पाई-पाई हिसाब की पारदर्शिता के लिए पहचाने जाने वाले मध्य प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा है. कांग्रेस ने एमपीसीए में धांधली का गंभीर आरोप लगाया है और इसकी शिकायत लोकायुक्त से लेकर प्रधानमंत्री दफ्तर तक कर दी है. मामला हाल ही में इंदौर में भारत द अफ्रीका के बीच हुए टी 20 मैच और एक इवेंट कंपनी को ठेका देने का है. मैच में टिकटों की कालाबाजारी की शिकायतें सामने आयी थीं.

इंदौर में हुए क्रिकेट मैच टिकट की ब्लैक मार्केटिंग के साथ ही अब कांग्रेस ने MPCA यानी मध्यप्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है. कांग्रेस प्रदेश सचिव राकेश सिंह यादव ने एमपीसीए पर नियमों को दरकिनार कर इवेंट कंपनी को ठेका देने का आरोप लगाया है. इसकी शिकायत उन्होंने लोकायुक्त में भी की है. यादव ने दावा किया है कि यदि उनकी सुनवाई और कार्रवाई नहीं होती है तो वह कोर्ट की शरण में जाएंगे.

नियम तोड़कर कंपनी को ठेका
राकेश सिंह यादव का आरोप है एमपीसीए ने 2022 में होने वाले मैच का ठेका ब्लू नेक इवेंट कंपनी को दिया है. इसके लिए एमपीसीए के पदाधिकारियों ने कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए नियमों में बदलाव किए. क्योंकि 2017 और 2019 में टेंडर में नियमों के तहत कंपनी का टर्नओवर तीन करोड़ से ज्यादा होना चाहिए. वहीं अरनेस्ट मनी 2 लाख रुपए थी. लेकिन ब्लू नेक कंपनी ने जो ठेका शर्त थी, उसे पूरी तरह बदल दिया है. कंपनी के टर्नओवर का नियम हटा दिया गया. साथ ही अरनेस्ट मनी भी घटा कर 75 हजार रुपए कर दी गई है. जबकि अरनेस्ट मनी हर साल बढ़ाई जाती है. राकेश सिंह यादव के मुताबिक इस भ्रष्टाचार में एमपीसीए के अध्यक्ष अभिलाष खांडेकर और सीईओ रोहित पंडित की मिलीभगत है. इन्होंने पूरे घोटाले को अंजाम दिया है. इन्हें भाजपा नेताओं का समर्थन हासिल है.

ये भी पढ़ें- कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव : एमपी के 502 वोट किसके खाते में जाएंगे मल्लिकार्जुन खड़गे या शशि थरूर!

पीएमओ में शिकायत
कांग्रेस नेता राकेश यादव ने इस पूरे मामले की शिकायत पीएम, सीएम, लोकायुक्त और आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो में की है. इसके साथ ही उन्होंने कहा अगर एक महीने में कोई कार्रवाई नहीं की गई तो हाईकोर्ट में याचिका दाखिल करेंगे.

भ्रष्टाचार का बड़ा रैकेट
कांग्रेस नेता राकेश यादव का आरोप है एक नई कंपनी जो छह महीने पहले बनी है, उस कंपनी को काम दे दिया. 2022 में इसके लिए और भी कंपनियां थीं जिन्हें अच्छा अनुभव था. कम रेट में काम करने वाली थीं. उन्हें दरकिनार कर ऐसी कंपनी को ठेका दिया गया, जिससे साबित होता है कि इस पूरे मामले में बड़ा भ्रष्टाचार हुआ है. कागज पर 600 सुरक्षा गार्ड दिखाए गए, जबकि 200 से ज्यादा की जरूरत नहीं थी, उनका भुगतान अधिक दाम पर हुआ है.

टिकटों की कालाबाजारी का आरोप
अभी हाल ही में 4 अक्टूबर को भारत साउथ अफ्रीका टीम के बीच टी-20 मैच का आयोजन इंदौर के होल्कर स्टेडियम में हुआ था. उक्त मैच की टिकट की कालाबाजारी के खूब चर्चे थे, एमपीसीए ने भी नगर निगम पर टिकट देने के लिए दबाब बनाने का आरोप लगाया था. हालांकि कांग्रेस नेता के आरोप पर एमपीसीए की तरफ से किसी भी तरह की प्रतिक्रिया नहीं दी गई.

Tags: Cricket news, Indore news, Madhya pradesh latest news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें