मंत्री जीतू पटवारी ने भाजपा के दिग्गजों पर जमकर साधा निशाना

मंत्री जीतू पटवारी ने मंगलवार को इंदौर में भाजपा के दिग्गजों पर जमकर साधा निशाना. पटवारी यहां बनने जा रही स्विमिंग एकेडमी का निरीक्षण करने पहुंचे थे.

Vikas Singh Chauhan | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 31, 2019, 6:58 AM IST
मंत्री जीतू पटवारी ने भाजपा के दिग्गजों पर जमकर साधा निशाना
प्रस्तावित स्विमिंग एकेडमी में मिलने वाली सुविधाओं का अवलोकन करते मंत्री जीतू पटवारी
Vikas Singh Chauhan | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 31, 2019, 6:58 AM IST
इंदौर में उच्च शिक्षा, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री जीतू पटवारी ने मंगलवार को भाजपा और भाजपा से जुड़े दिग्गजों पर जमकर निशाना साधा. मंत्री जीतू पटवारी ने पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधते हुए कहा की बुधनी वाले भाई साहब की समस्या अलग है, भाजपा में कई सारे भाई साहब हैं. इंदौर और दतिया के भाई साहब बुधनी के भाई साहब को नेता नहीं मानते. भाजपा में अंदरूनी झगड़े चल रहे हैं, इसलिए उन्हीं के विधायक व्यथित होकर भाजपा का साथ छोड़ रहे हैं. चौहान के कमलनाथ सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप में बारिश नहीं होने वाले बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि पानी कुदरत की एक अनमोल धरोहर है. मंत्री जीतू पटवारी इंदौर में बनने जा रही सर्व सुविधा युक्त स्विमिंग एकेडमी का निरीक्षण करने पहुंचे थे. इस दौरान महापौर मालिनी गौड़ भी मौजूद रहीं.

अपने समर्थकों से बात करते मंत्री जीतू पटवारी


उसे बरसाने का काम ईश्वर का है. ऐसे बयान देकर पर्यावरण और भगवन का अपमान नहीं करना चाहिए, ऐसी भाषा का प्रयोग करना किसी भी जनप्रतिनिधि को शोभा नहीं देता. कांग्रेस की सरकार गिराने के भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बयान पर भी उन्होंने निशाना साधा. मंत्री पटवारी ने कहा कि भाजपा में भाई साहबों की संख्या बढ़ गई है. आपस में फूट बढ़ी है, इसलिए भाजपा के दो विधायक कांग्रेस के समर्थन में वोट कर रहे हैं.

बीजेपी में ऐसे ही हालात रहे तो आने वाले दिनों में चार से पांच विधायक भाजपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो जाएंगे, आप सभी नोट कर लें. मंत्री ने फुटबॉल फेडरेशन द्वारा किए गए 1 करोड़ रुपए के घोटाले पर जांच करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि खेल के नाम पर घोटाला करने वाले किसी भी अधिकारी को नहीं बख्शा जाएगा. इस दौरान इंदौर की देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी में सीईटी परीक्षा रद होने के मामले में कहा कि सीईटी परीक्षा देने वाले छात्रों की फीस वापस दिलवाने की कोशिश करनी चाहिए.
First published: July 31, 2019, 6:58 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...