Home /News /madhya-pradesh /

मालेगांव ब्लास्टः "कलसांगरा और डांगे के बारे में कोई जानकारी नहीं"

मालेगांव ब्लास्टः "कलसांगरा और डांगे के बारे में कोई जानकारी नहीं"

वर्ष 2008 के मालेगांव बम धमाकों के दो वांछित आरोपियों रामजी कलसांगरा और संदीप डांगे की कथित मौत को लेकर महाराष्ट्र एटीएस के एक निलंबित अधिकारी के सनसनीखेज दावे के बीच इंदौर पुलिस ने कहा कि उसे इन दोनों के बारे में कोई जानकारी नहीं है.

वर्ष 2008 के मालेगांव बम धमाकों के दो वांछित आरोपियों रामजी कलसांगरा और संदीप डांगे की कथित मौत को लेकर महाराष्ट्र एटीएस के एक निलंबित अधिकारी के सनसनीखेज दावे के बीच इंदौर पुलिस ने कहा कि उसे इन दोनों के बारे में कोई जानकारी नहीं है.

वर्ष 2008 के मालेगांव बम धमाकों के दो वांछित आरोपियों रामजी कलसांगरा और संदीप डांगे की कथित मौत को लेकर महाराष्ट्र एटीएस के एक निलंबित अधिकारी के सनसनीखेज दावे के बीच इंदौर पुलिस ने कहा कि उसे इन दोनों के बारे में कोई जानकारी नहीं है.

अधिक पढ़ें ...
  • Agencies
  • Last Updated :
    वर्ष 2008 के मालेगांव बम धमाकों के दो वांछित आरोपियों रामजी कलसांगरा और संदीप डांगे की कथित मौत को लेकर महाराष्ट्र एटीएस के एक निलंबित अधिकारी के सनसनीखेज दावे के बीच इंदौर पुलिस ने कहा कि उसे इन दोनों के बारे में कोई जानकारी नहीं है.

    डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र ने संवाददाताओं से कहा, ‘हमने कलसांगरा और डांगे के बारे में हाल ही में मीडिया में आयीं खबरें पढ़ी हैं. लेकिन हम इन दोनों के बारे में कोई जानकारी नहीं है.’

    स्थानीय पुलिस सूत्रों ने बताया कि वर्ष 2008 के मालेगांव धमाकों का वांछित आरोपी रामजी कलसांगरा मूलत: मध्यप्रदेश के शाजापुर जिले का रहना वाला है. लापता होने से पहले वह कुछ बरस तक इंदौर में रहा था. इन धमाकों का दूसरा फरार आरोपी डांगे उच्च शिक्षित है और इंदौर का ही रहने वाला है.

    सूत्रों के मुताबिक महाराष्ट्र पुलिस के दल दोनों आरोपियों की तलाश में गुजरे बरसों में कई बार इंदौर आ चुके हैं.

    महाराष्ट्र एटीएस के निलंबित वरिष्ठ इंस्पेक्टर एम. मुजावर का दावा है कि कलसांगरा और डांगे की मौत हो चुकी है. लेकिन पुलिस के आला अधिकारियों द्वारा दोनों आरोपियों को जिंदा बताया जा रहा है.

    दोनों के परिवार भी इस दावे पर यकीन नहीं कर रहे हैं. उनका मानना है कि रामजी और संदीप जिंदा हैं और यूं उनकी मौत नहीं हो सकती है.

    Tags: CBI, NIA

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर