Golden Gate Hotel Fire: इंदौर का पांच मंजिला होटल खाक़, 50 फायर ब्रिगेड ने 4 घंटे में पाया काबू
Indore News in Hindi

इंदौर (indore) के पॉश इलाके में स्थित गोल्डन गेट होटल (golden gate hotel) सोमवार सुबह आग (fire) की भीषण लपटों में घिर गया. देखते ही देखते ये पूरा होटल आग का गोला बन गया. जिस वक्त ये घटना घटी, होटल के अंदर कई लोग फंसे थे. सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड (fire brigade) और पुलिस मौके पर पहुंची और तत्काल राहत और बचाव कार्य शुरू किया. होटल में मौजूद 6 लोगों को रेस्क्यू किया गया. उनमें से एक की हालत नाज़ुक बनी हुई है.

  • Share this:
इंदौर. मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर (Indore) में एक पांच मंजिला गोल्डन गेट होटल (Golden Gate Hotel) भीषण आग (Fire) में जलकर खाक हो गयी. विजय नगर इलाके में स्थित ये पांच मंजिला होटल अचानक आग की भयानक लपटों में घिर गयी. सूचना मिलते ही दमकल (Fire Brigade) की टीम पहुंची और आग पर काबू पाने का प्रयास शुरू किया. चार घंटे बाद आग पर काबू पाया जा सका. लेकिन इसमें दमकल की 50 गाड़ियां और केमिकल का छिड़काव लगा. आग में फंसे छह लोगों को रेस्क्यू किया गया उनमें से एक की हालत नाजुक बनी हुई है.

होटल में आग लगने की वजह का खुलासा अब तक नहीं हो पाया है


आग को गोला बना होटल
इंदौर के पॉश इलाके में स्थित गोल्डन गेट होटल सोमवार सुबह आग की भीषण लपटों में घिर गया. देखते ही देखते ये पूरा होटल आग का गोला बन गया. जिस वक्त ये घटना घटी, होटल के अंदर कई लोग फंसे थे. सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड और पुलिस मौके पर पहुंची और तत्काल राहत और बचाव कार्य शुरू किया. होटल में मौजूद 6 लोगों को रेस्क्यू किया गया. उनमें से एक की हालत नाज़ुक बनी हुई है.
तलघर से फैली आग


इंदौर शहर के सबसे पॉश इलाके विजय नगर की स्कीम नंबर 54 में स्थित होटल गोल्डन गेट में सुबह तकरीबन ०9 बजे तलघर में आग लगी. आग देखते ही होटल में भगदड़ मच गयी. आनन-फानन में कई लोगों को बाहर निकाला गया. फौरन पुलिस और फायर ब्रिगेड को सूचना दी गई. उसके बाद बचाव कार्य शुरू किया गया. लेकिन आग इतनी भयानक थी कि एक के बाद एक फायर ब्रिगेड की करीब 50 गाड़ियां बुलाना पड़ीं. आग बुझाने में करीब चार घंटे मशक्क्त करना पड़ी. आग का धुआं दूर दूर तक पुरे इलाके में फ़ैल गया.
लकड़ी का इंटीरियर
होटल का ज्यादातर हिस्सा लकड़ी से बना हुआ था. इसकी वजह से यह बहुत तेजी से फैल गयी. कुछ ही देर में भयानक लपटों ने पूरी इमारत को अपनी चपेट में ले लिया. होटल से लगी दूसरी इमारतों को फौरन खाली करवा लिया गया. लपटें होटल में नीचे से ऊपर तक फैलती जा रही थीं और आग पर काबू नहीं हो पा रहा था. लगभग दो घंटे बाद पीछे की दीवार तोड़कर फायर फाइटर होटल के भीतर दाखिल हुए. पहले निचले हिस्से में काबू पाया गया और फिर उसके बाद धीरे धीरे पूरी होटल काबू में आयी. लेकिन तब तक सब ख़ाक़ हो चुका था.
लिकर से भड़की आग
होटल के एक हिस्से में बार भी था. ऐसी आशंका है कि वहां बड़ी मात्रा में शराब रखी हुई थी, इसलिए आग और विकराल हो गई. पूरे इलाके में आग के धुएं की वजह से आस पास के लोगों को सांस लेने में तकलीफ होने लगी थी.इसलिए पूरे इलाके को खाली कराया गया.
पुलिस वाले के भाई का होटल
जानकारी मिली है कि पुलिस विभाग में पदस्थ इंस्पेक्टर के भाई का यह होटल है.अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र सिंह चौहान के मुताबिक़ आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है.
फायर टीम को दिक्कत
आसपास रिहायशी इलाका होने के कारण फायर दस्ते को आघ बुधाने में काफी दिक्कत हुई. इस होटल में एक रेस्टोरेंट भी है. आग लगने का कारण अभी पता नहीं चल पाया है.

ये भी पढ़ें- झाबुआ विधानसभा उपचुनाव : मतदान केंद्रों पर लगी कतार,सुरक्षा के व्यापक इंतज़ाम

PHOTO: झाबुआ उपचुनाव : 2 घंटे में 15 फीसदी मतदान, महिला मतदाताओं की लंबी कतार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading