होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /

गैंगरेप का आरोपी CEO हिरासत में, IDA इंजीनियर फरार, पुलिस ने गिरफ्तारी के लिए की इनाम की घोषणा

गैंगरेप का आरोपी CEO हिरासत में, IDA इंजीनियर फरार, पुलिस ने गिरफ्तारी के लिए की इनाम की घोषणा

Indore Minor Girl Raped.

Indore Minor Girl Raped.

Indore News Update. इंदौर की लसूड़िया थाना पुलिस ने दो दिन पहले एक नाबालिग किशोरी की शिकायत पर एक नामी कम्पनी के CEO अनिल सिंघल और इंदौर विकास प्राधिकरण के इंजीनियर दिनेश गोयल के विरुद्ध दुष्कर्म और पाक्सो एक्ट की धाराओं में केस दर्ज किया है. सीईओ अनिल सिंघल को हिरासत में ले लिया है. लेकिन अन्य दिनेश गोयल फरार है.

अधिक पढ़ें ...

इंदौर. इंदौर में गैंगरेप केस में आरोपी इंदौर विकास प्राधिकरण (IDA) इंजीनियर अब तक गिरफ्त में नहीं आया है. पुलिस उसकी तलाश में कई जगह छापा मार चुकी है. लेकिन आरोपी कहीं नहीं मिला. पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी पर इनाम की घोषणा की है.

इंदौर की लसूड़िया थाना पुलिस ने दो दिन पहले एक नाबालिग किशोरी की शिकायत पर एक नामी कम्पनी के CEO अनिल सिंघल और इंदौर विकास प्राधिकरण के इंजीनियर दिनेश गोयल के विरुद्ध दुष्कर्म और पाक्सो एक्ट की धाराओं में केस दर्ज किया है. सीईओ अनिल सिंघल को हिरासत में ले लिया है. लेकिन अन्य दिनेश गोयल फरार है.

आखिरी लोकेशन सुपर कॉरिडोर
पुलिस ने गुरुवार – शुक्रवार की दरमियानी रात जगह जगह छापे मारे. लेकिन वो कहीं नहीं मिला. छानबीन में पता चला कि उसकी आखिरी लोकेशन इंदौर के आखिरी छोर सुपर कॉरिडोर में मिली. उसके बाद से उसने अपना मोबाइल फोन बंद कर दिया है.

ये भी पढ़ें- MP में भ्रष्टाचार में टॉप पर है राजस्व विभाग, जानिए अब मंत्रीजी क्या कह रहे हैं!

मां की कंपनी का CEO आरोपी
एक किशोरी ने लसूड़िया थाना में अपनी मां के साथ पहुंच कर शिकायत की थी कि उसके साथ दो लोगों ने गैंगरेप किया था. आरोपियों में से एक अनिल सिंघल नामी कंपनी का सीईओ है. जबकि दूसरा आईडीए का इंजीनियर दिनेश गोयल है. पीड़िता की मां जिस कंपनी में काम करती है, अनिल सिंघल उसी का सीईओ है. पीड़िता ने बताया कि आरोपी उसे यह कहकर धमकाते थे कि यदि किसी को बताया तो वह मां को नौकरी से निकाल देंगे. मामला पुलिस तक पहुंचने की भनक लगते ही कंपनी का सीईओ अनिल सिंघल खुद थाने पहुंच गया और किशोरी को ही गलत ठहराने लगा. लेकिन पीड़िता ने जब मोबाइल में कैद कुछ तस्वीरें दिखाईं तो उसके होश उड़ गए. किशोरी ने पुलिस को बताया कि मां की गैरमौजूदगी में कई बार अनिल सिंघल और दिनेश गोयल घर आते थे. दिनेश गोयल ने भी कई बार धमका कर उसके साथ जबरदस्ती की.

दिनेश गोयल की गिरफ्तारी पर इनाम
पीड़िता की फरियाद पर लसूड़िया थाना पुलिस ने आरोपी दिनेश और अनिल के विरूद्ध दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट की धाराओं में केस दर्ज किया, साथ ही अनिल सिंघल को तत्काल हिरासत में ले लिया, लेकिन आरोपी दिनेश गोयल फरार हो गया. आरोपी की गिरफ्तारी के लिए लसूड़िया थाना पुलिस रात भर जगह जगह छापे मारती रही, लेकिन आरोपी घर पर नहीं मिला. दिनेश गोयल इंदौर विकास प्राधिकरण में इंजीनियर है. वह शासकीय सेवक. पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी पर इनाम घोषित किया है. उसके विभाग के साथ पत्राचार किया जा रहा है, ताकि आरोपी पर विभागीय कार्रवाई भी हो सके.

पुलिस का बयान
डीसीपी इंदौर सम्पत्त उपाध्यय के मुताबिक किशोरी की शिकायत पर दो लोगों के विरुद्ध बलात्कार और अन्य गंभीर धाराओं में केस दर्ज  किया गया है. एक आरोपी अनिल सिंघल को गिरफ्तार कर लिया गया है. जबकि एक अन्य दिनेश गोयल फरार है. उसकी तलाश की जा रही है.

Tags: Indore news. MP news, Madhya pradesh latest news, Minor Girl Rape Case

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर