Corona में सामूहिक दुष्कर्म: चोरी की नियत से घर में घुसे नाबालिग, चाकू की नोंक पर किया गैंग रेप

इंदौर में नाबालिगों ने महिलाको पहले लूटा और फिर उसके साथ ज्यादति भी की.  (सांकेतिक तस्वीर)

इंदौर में नाबालिगों ने महिलाको पहले लूटा और फिर उसके साथ ज्यादति भी की. (सांकेतिक तस्वीर)

MP Big Crime: मध्य प्रदेश के इंदौर में महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म हुया. देर रात नाबालिग उसके घर में घुसे. आरोपियों ने पहले महिला को लूटा और फिर गैंग रेप किया.

  • Last Updated: May 15, 2021, 8:26 AM IST
  • Share this:

इंदौर. इंदौर में चोरी की नीयत से घुसे बदमाशों ने महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया और फरार हो गए. पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों के आधार पर कुछ ही घंटों में 3 आरोपियों की पहचान करते हुए दो को गिरफ्तार कर लिया है. दोनों गिरफ्तार आरोपी नाबालिग हैं, जबकि एक अन्य बालिग आरोपी फरार है. पुलिस गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ कर रही है.

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश रघुवंशी के मुताबिक घटना लसूड़िया थाना क्षेत्र की है. यहां एख महिला घर में अकेली रहती थी. गुरुवार-शुक्रवार देर रात तीन बदमाश चोरी की नियत से उसके घर में घुसे. उन्होंने 50 हजार कैश चुरा भी लिया. लेकिन, जाते-जाते महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म भी किया. पुलिस ने दो नाबालिगों को गिरफ्तार कर लिया है. एक की तलाश जारी है, जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा. उन्होंने बताया कि फरार आरोपी की लास्ट लोकेशन ग्रामीण इलाके की मिली है. पुलिस बल रवाना कर दिया गया है.

इस तरह दिया घटना को अंजाम

युवती ने SSP राजेश रघुवंशी को बताया कि गुरुवार रात 2 बजे नींद खुली तो 3 बदमाश मेरे पलंग के पास खड़े थे. आरोपियों ने चाकू, कटर और कैंची दिखाते हुए पैसों की मांग की. मैंने उन्हें 50 हजार रुपए और दो मोबाइल दे दिए. इस पर भी वे तीनों नहीं माने और धमकाकर दुष्कर्म किया. हत्या के डर से मैंने शोर नहीं मचाया.
सबसे पहले डायल 100 मिली सूचना

जानकारी के मुताबिक, घटना की जानकारी शुक्रवार सुबह सबसे पहले  डायल 100 को मिली. इसके बाद पुलिसकर्मियों ने महिला का पहले मेडिकल करवाया और पुष्ट होन के बाद  महिला के बयान के आधार पर तीन अज्ञात आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया. इधर, सामूहिक दुष्कर्म की सूचना मिलते ही पुलिस सकते में आ गई. आरोपियों को ढूंढने में पुलिस को मुखबिरों की भी मदद लेनी पड़ी. आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस अधिकारियों ने वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना दी. उनसे निर्देश मिलने के बाद पूरे मामले का खुलासा कर दिया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज