70 करोड़ की ड्रग्स सप्लाई करते पकड़े गए तस्कर, बॉलीवुड से भी जुड़ सकते हैं तार

ऐसी आशंका है कि तस्कर पहले भी ड्रग ला चुके हैं.

आईजी (Indore) इंदौर हरिनारायण चारी मिश्रा का कहना है जिस तरह से मुख्य आरोपी 2013 से हैदराबाद में रह रहा था ऐसे में आशंका है कि वहां पहुंचते ही उसने ड्रग (Drug) सप्लाई का धंधा शुरू कर दिया होगा.

  • Share this:
इंदौर. दो दिन पहले इंदौर (Indore) में 70 करोड़ की ड्रग (Drug) के साथ पकड़े गए ड्रग माफिया पर अब पुलिस ने आर्थिक शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. पुलिस उनके बैंक अकाउंट और उनके सोर्स ऑफ इनकम तलाश रही है. पुलिस ने ड्रग्स से जुड़े सभी पहलुओ की जांच के लिए आरोपियों की धरपकड़ और अवैध मादक पदार्थ जब्त करने के लिए एक टीम बना दी है जो लगातार इस ऑपरेशन के लिए काम करेगी.  पुलिस आरोपियों के कनेक्शन तलाश रही है.आशंका है कि तस्करों का जाल बॉलीवुड तक फैला हो लेकिन पुलिस काे अभी तक इस संबंध में कोई सुराग नहीं मिला है.

आईजी इंदौर हरिनारायण चारी मिश्रा का कहना है जिस तरह से मुख्य आरोपी 2013 से हैदराबाद में रह रहा था ऐसे में आशंका है कि वहां पहुंचते ही उसने ड्रग सप्लाई का धंधा शुरू कर दिया होगा. ऐसे में बहुत ज़रूरी हो जाता है कि ऐसे लोगों और ठिकानों की तलाश की जाए जहां से वो पैसा कमाता था और ड्रग्स के धंधे में लगाता था. इसके साथ ही पुलिस का कहना है इंदौर में भी कुछ लोगों से उसके तार जुड़े होने के सबूत मिले हैं. पुलिस उन सबूतों को वेरीफाई करने में लगी हुई है. बहुत सारे नाम ऐसे भी हैं जिन्हें कोड वर्ड में रखा गया है. साइबर पुलिस अब उन कोड वर्ड को क्रैक करने के प्रयास में लगी हुई है.

सिंथेटिक ड्रग
एसएसपी का कहना है ड्रग कंसाइनमेंट साउथ अफ्रीका भेजे जाने की अभी जानकारी मिली है. आशंका यह भी है कि इसके पहले भी यह लोग मध्य प्रदेश और देश के अलग-अलग हिस्सों सहित दूसरे देशों में भी ड्रग सप्लाई का काम कर चुके हैं. ऐसे में इनके उन सभी कांटेक्ट को पुलिस खंगालने में जुटी हुई है. मंदसौर के डॉक्टर द्वारा फार्मूला तैयार करने पर कहा कि यह कोई विशेष फार्मूला नहीं है. क्योंकि आरोपी खुद फार्मा लाइन से जुड़ा रहा है. ऐसे में उसने फार्मूला पहले ही ले लिया होगा और उसके आधार पर सिंथेटिक ड्रग तैयार कर रहा था.

पहले से चल रहा था खेल
एसपी का यह भी कहना है कि यह बात बिल्कुल सही है कि ड्रग की इतनी बड़ी खेप लेकर वो आ रहा था तो यह ड्रग सप्लाई का कोई पहला मौका नहीं होगा. इसके पहले भी इंदौर या दूसरे राज्यों में यह लगातार ड्रग सप्लाई करता रहा होगा. इस संबंध में हैदराबाद पुलिस से भी संपर्क किया है.वह भी अपने स्तर पर उसके कांटेक्ट वेरीफाई कर रही है.यह भी पता चला है कि हैदराबाद में भी यह कुछ लोगों से ड्रग्स खरीद कर इंदौर और दूसरे इलाकों में भेजता था.पुलिस ने बिचौलियो की भूमिका में मंदसौर के कुछ लोगों को चिन्हित किया है.उन्हें फिलहाल सर्विलांस पर रखा गया है. उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

उनके खातों और सम्पत्ति की जानकारी जुटाई जा रही है. हालाँकि शुरुआती पूछताछ में किसी प्रकार बॉलीवुड कनेक्शन की जानकारी पुलिस को नहीं मिली है.पुलिस विभिन्न पहलुओं की तस्दीक कर रही है.आशंका है कि जल्द ही गिरोह के कुछ और सदस्यों की गिरफ्तारी इंदौर पुलिस कर सकती है.पुलिस ने ड्रग्स से जुड़े सभी पहलुओ को जांचने के लिए आरोपियों की धरपकड़ और अवैध मादक पदार्थ जब्त करने के लिए एक टीम बना दी है जो लगातार इस ऑपरेशन के लिए काम करेगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.