कोरोना के डर से MP में फिर से कैदियों को 60 दिन के पैरोल पर छोड़ेगी सरकार

MP के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने आज इंदौर में प्रेस कॉन्फ्रेंस की.

MP के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने आज इंदौर में प्रेस कॉन्फ्रेंस की.

Indore-पैरोल का लाभ पूरे प्रदेश की जेलों में बंद लगभग 4500 कैदियों को मिलेगा. ये सभी बंदी पैरोल पर रिहा किये जाएंगे

  • Share this:
इंदौर. कोरोना (Corona) की दूसरी लहर में मध्य प्रदेश सरकार फिर से कैदियों को 60 दिन के पैरोल पर छोड़ने जा रही है. प्रदेशभर की जेलों में बंद ऐसे करीब साढ़े चार हजार कैदियों को रिहा कर दिया जाएगा.

कोरोना की दूसरी लहर में भी प्रदेश की जेलों के अंदर कैद दंडित बंदियों को 60 दिन की पैरोल मिलने वाली है. सरकार ने ये फैसला किया है. इंदौर में प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में ये बात कही. पैरोल का लाभ पूरे प्रदेश की जेलों में बंद लगभग 4500 कैदियों को मिलेगा. ये सभी बंदी पैरोल पर रिहा किये जाएंगे.

समाज का सहयोग ज़रूरी

नरोत्तम मिश्रा ने कहा ग्रामीण क्षेत्रों में सरकार अपने स्तर पर काम कर रही है. लेकिन सरकार के लिए समाज का साथ ज़रूरी है. इस वैश्विक महामारी से सरकार जनता और समाज सबके सहयोग से ही निपट सकती है. उन्होंने कहा समाज के लोगों से अपील कर जन जागरण अभियान की शुरुआत भी सरकार करने जा रही है.
Youtube Video


कांग्रेस पर आरोप

प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस पर आरोप लगाया. उन्होंने कहा इस आपदा के समय में भी कांग्रेस विधायक सामने आकर कोविड 19 के समय ऑफर दे रहे हैं. सरकार ऑफर को स्वीकार करती है, लेकिन यह तो सिर्फ कागजी दिखावा है.



कमलनाथ से उम्मीद

नरोत्तम मिश्रा ने कहा कमलनाथ बहुत बड़े उद्योगपति हैं. लेकिन कोरोना महामारी के समय किसी भी तरह की सुविधा उपलब्ध नहीं करवा रहे हैं. बस ट्वीट कर राजनीति कर रहे हैं. ऐसी बात करके कांग्रेस कोरोना पेशेंट का मजाक उड़ा रही है. इस आपदा में कांग्रेस का ट्वीट करने के अलावा कोई योगदान नहीं है. कांग्रेस ने वैक्सीन पर राजनीति की है.

फ्रंटलाइन वर्कर्स का प्राथमिकता से वैक्सिनेशन

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा 1 मई से फ्रंट लाइन वर्कर्स के परिवारों का प्राथमिकता के आधार पर वैक्सिनेशन किया जाएगा.प्रधानमंत्री मोदी की विदेश नीति पर विपक्ष सवाल उठाता था लेकिन आज विदेशी मंत्री मोदी जी की फॉरेन पॉलिसी के कारण ही हिंदुस्तान की मदद के लिए आगे आ रहे हैं.



सरकार नहीं छुपा रही

प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा सरकार महामारी के वक्त मौत के आंकड़े नहीं छुपा रही है. यह आपदा पूरे विश्व में आई है ना कि सिर्फ मध्यप्रदेश में. उन्होंने कहा जिलों में कोरोना कर्फ्यू बढ़ाने का फैसला क्राइसिस कमेटी करेगी. कोरोना की दवाओं की कालाबाजारी करने वालों को छोड़ा नहीं जाएगा. राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) में कार्रवाई के बाद इसमें कमी भी आयी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज