MP News : खोया जनाधार वापस पाने के लिए अब इस फॉर्मूले पर चलेगी कांग्रेस

बाल कांग्रेस में न्हीं परिवार के युवाओं को जोड़ा जाएगा, जिनके पूर्वजों ने स्वतंत्रता संग्राम की लड़ाई में हिस्सा लिया हो और दूसरे वो जो कांग्रेस परिवार से जुड़ें हों.

MP Congress Politics: युवा और किशोरों के साथ ही कांग्रेस अपने बूथ, मंडल और सेक्टर को मजबूत करने पर जोर दे रही है. पूर्व सीएम कमलनाथ (Kamalnath) ने निर्देश दिए हैं कि जल्द से जल्द शहर और जिलों की कार्यकारिणी का गठन कर लिया जाए.

  • Share this:
इंदौर. कई राज्यों में अपना जनाधार खो चुकी कांग्रेस (Congress) अब इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) के फार्मूले पर चलने जा रही है. जिस तरह इंदिरा गांधी ने बाल सेना बनाई थी उसी तरह बाल कांग्रेस बनाकर उसमें 16 से 20 साल के किशोरों और युवाओं को जोड़ने का अभियान चलाने जा रही है. ताकि नव मतदाताओं और युवाओं के बीच पार्टी का जनाधार मजबूत हो सके.

मध्य प्रदेश में होने वाले उपचुनाव और नगरीय निकाय चुनाव की सुगबुगाहट के बीच कांग्रेस ने अपनी सक्रियता बढ़ा दी है. वो अपना फोकस युवाओं और नए मतदाताओं पर रखना चाहती है. यही वजह कि अब पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की बाल सेना की तर्ज पर हर जिले में बाल कांग्रेस का गठन किया जा रहा है.इस बाल कांग्रेस में 16 से 20 साल की उम्र के किशोरों और युवाओं को रखा जाएगा. हालांकि ये किसी तरह के आंदोलनों में भाग नहीं लेंगे.इन युवाओं को कांग्रेस के इतिहास के बारे में जानकारी दी जाएगी.

कांग्रेस का इतिहास बताएंगे
प्रदेश कांग्रेस की उपाध्यक्ष अर्चना जायसवाल का कहना है स्वतंत्रता संग्राम के समय इंदिरा गांधी ने बाल सेना बनाई थी. ये बाल सेना घायलों के इलाज और राशन पानी पहुंचाने का करती थी. इसी तरह अब बाल कांग्रेस का गठन किया जा रहा है, जिसमें सबसे पहले उन्हीं परिवार के युवाओं को जोड़ा जाएगा, जिनके पूर्वजों ने स्वतंत्रता संग्राम की लड़ाई में हिस्सा लिया हो और दूसरे वो जो कांग्रेस परिवार से जुड़ें हों. इन युवाओं को कांग्रेस की रीति नीति के बारे में बताया जाएगा. साथ ही बच्चों को सर्वधर्म समभाव सेवा के कार्य के साथ जवाहर लाल नेहरू और गांधी जी कामों से परिचित कराया जाएगा. उन्हें बताया जाएगा कि कांग्रेस ही ऐसी पार्टी है,जो जनता के बीच रोटी,कपड़ा और मकान के लिए काम करती है. उनके मन में ऐसे बीच डाले जाएंगे कि कांग्रेस समाज के अंतिम पंक्ति में खडे़ व्यक्ति के बारे में सोचती है. हर धर्म के लिए काम करती है. प्यार प्रेम और सद्भावना का संदेश देती है. वैमनस्यता नहीं फैलाती है. जिससे ये बच्चे आने वाले कई दशकों तक कांग्रेस की मजबूती के लिए काम कर सकें.

बीजेपी का नजरिया
कांग्रेस की बाल सेना को लेकर बीजेपी के युवा विधायक आकाश विजयवर्गीय का कहना है आज के युवाओं को कुछ बताने की जरूरत नहीं है, वो खुद समझदार हैं. वो आपका काम देखते हैं. आपकी सोच देखते हैं और उसके बाद अपने विवेक से फैसला लेते हैं. आज का युवा पीएम नरेन्द्र मोदी औऱ शिवराज सिंह चौहान के काम को देखते हुए उनसे जुड़ा हुआ है, क्योंकि टेक्नोलॉजी पसंद आज के युवाओं को पता है कि उनके हित की बात कौन सी पार्टी सोचती है. इसलिए कांग्रेस को मेरी सलाह कि आप अच्छे काम करो तो लोग अपने अपने आपसे जुड़ेंगे,आपको जोड़ने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

बूथ, मंडलम और सेक्टर
युवा और किशोरों के साथ ही कांग्रेस अपने बूथ, मंडलम और सेक्टर को मजबूत करने पर जोर दे रही है. पूर्व सीएम कमलनाथ ने निर्देश दिए हैं कि जल्द से जल्द शहर और जिलों की कार्यकारिणी का गठन कर लिया जाए. उसमें युवाओं और महिलाओं को ज्यादा से ज्यादा तरजीह दी जाए. कुल मिलाकर अब पुरानी हो चुकी कांग्रेस को नया करने की कोशिशें की जा रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.