• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • Indore News: 7 नए कोरोना पॉजिटिव केस मिले, CM ने चेताया- लापरवाही की तो फिर बिगड़ेंगे हालात

Indore News: 7 नए कोरोना पॉजिटिव केस मिले, CM ने चेताया- लापरवाही की तो फिर बिगड़ेंगे हालात

मध्य प्रदेश के इंदौर जिले में कोरोना वायरस के 7 नए मरीज मिले हैं. (File)

मध्य प्रदेश के इंदौर जिले में कोरोना वायरस के 7 नए मरीज मिले हैं. (File)

Corona News: मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना वायरस एक बार फिर बढ़ता दिखाई दे रहा है. शहर में संक्रमण के 7 नए मरीज मिले हैं. प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने चिंता जताई है. सीएम ने कहा है कि अलर्ट रहें, परिस्थिति बदलने में समय नहीं लगेगा.

  • Share this:

    इंदौर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) के इंदौर (Indore News) में कोरोना वायरस के मामले फिर बढ़ते दिखाई दे रहे हैं. गुरुवार रात कोरोना संक्रमण के 7 नए मरीज सामने आए. इसे लेकर स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि सभी 7 संक्रमित मामले ए-सिम्प्टमेटिक हैं. स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, शहर में 1 जुलाई से अभी तक 128 संक्रमित मिले. हालांकि, किसी भी मरीज की जान नहीं गई.

    गौरतलब है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंता जताई. उन्होंने ट्वीट किया- ‘आज इंदौर जिले में कोविड 19 के 7 पॉजिटिव केस आये हैं. मैंने प्रशासन को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं. वहां के नागरिकों से भी मैं विनम्र अनुरोध करता हूं कि अगर हमने जरा सी भी असावधानी रखी, तो परिस्थितियों को बदलने में देर नहीं लगेगी. इसलिए सजग रहें और गाइडलाइंस का पालन करते रहें.’

    ये हैं स्वास्थ्य विभाग के आंकड़े
    स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि 9 हजार 185 टेस्ट किए गए थे, जिसमें से 7 पॉजिटिव मिले. 9 हजार 164 की रिपोर्ट निगेटिव आई है. अभी इंदौर में फिलहाल 35 मरीज संक्रमित हैं. अब तक जिले में 20 लाख 22 हजार 404 मरीजों के टेस्ट किए जा चुके हैं. इनमें से 1 लाख 52 हजार 980 संक्रमित मिले. 1 लाख 51 हजार 555 मरीज ठीक होकर घर लौटे, जबकि 1391 की मौत हो गई. रिकवरी रेट 99 फीसदी तक पहुंच गई है. मृत्य दर जीरो है.

    केरल, पूर्वोत्तर के राज्य बढ़ा रहे चिंता
    देश में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के फैलने की रफ्तार का संकेत देने वाले ‘आर-फैक्टर’ में क्रमिक रूप से वृद्धि हो रही है और इस संदर्भ में केरल तथा पूर्वोत्तर के राज्यों के शीर्ष स्थान पर रहने से महामारी के फिर से सिर उठाने के बारे में चिंता बढ़ रही है. चेन्नई के गणितीय विज्ञान संस्थान के अनुसंधानकर्तााओं के विश्लेषण में कहा गया है कि देश के दो महानगरों, पुणे और दिल्ली में ‘आर-वैल्यू’ एक के करीब है. आर-वैल्यू या संख्या, कोरोना वायरस के फैलने की क्षमता को प्रदर्शित करती है.

    विश्लेषण के मुताबिक, जब कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर अपने चरम पर थी, तब देश में संपूर्ण आर- वैल्यू नौ मार्च से 21 अप्रैल के बीच 1.37 रहने का अनुमान था. यह 24 अप्रैल और एक मई के बीच घट कर 1.18 रह गयी तथा फिर 29 अप्रैल से सात मई के बीच 1.1 पर आ गयी. देश में नौ मई से 11 मई के बीच आर वैल्यू करीब 0.98 रहने का अनुमान जताया गया था. यह 14 मई और 30 मई के बीच घट कर 0.82 पर आ गयी और 15 मई से 26 जून के बीच गिर कर 0.78 हो गयी. हालांकि, आर-वैल्यू 20 जून से सात जुलाई के बीच फिर से बढ़ कर 0.88 हो गयी और तीन जुलाई से 22 जुलाई के बीच और बढ़ कर 0.95 हो गयी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन