Home /News /madhya-pradesh /

जब मध्य प्रदेश के इस क्रिकेटर ने डेब्यू मैच में झटके थे 16 विकेट, 33 साल बाद भी रिकॉर्ड बरकरार

जब मध्य प्रदेश के इस क्रिकेटर ने डेब्यू मैच में झटके थे 16 विकेट, 33 साल बाद भी रिकॉर्ड बरकरार

टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी नरेंद्र हिरवानी का आज जन्मदिन है. वे आज 53 साल के हो गए.

टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी नरेंद्र हिरवानी का आज जन्मदिन है. वे आज 53 साल के हो गए.

टीम इंडिया का सितारा नरेंद्र हिरवानी. हिरवानी भारतीय क्रिकेट के उस मुकाम पर पहुंचे, जहां पहुंचने का नया बॉलर सपना देखते हैं. हिरवानी ने डेब्यू टेस्ट मैच में ही 136 रन देकर 16 विकेट लिए. 33 साल बाद भी यह रिकॉर्ड बरकरार है. इस महान खिलाड़ी का आज बर्थ-डे है. आज वे 53 साल के हो गए.

अधिक पढ़ें ...

    इंदौर. नरेंद्र हिरवानी! नाम तो सुना होगा. टीम इंडिया का वो खिलाड़ी, जिसका रिकॉर्ड तोड़ना हर नए बॉलर का सपना होता है. 33 साल बाद भी हिरवानी का रिकॉर्ड कोई नहीं तोड़ सका. उनका ये रिकॉर्ड है डेब्यू टेस्ट मैच में ही 16 विकेट लेना, वो भी मजह 136 रन देकर. भारत का ये बॉलिंग जादूगर लंबा तो नहीं खेल सका, लेकिन जितना भी खेला उसमें ही सभी को चौंका दिया. इस महान खिलाड़ी का आज बर्थ-डे है. आज वे 53 साल के हो गए.

    गौरतलब है कि टीम इंडिया के लेग-स्पिनर नरेंद्र हिरवानी का जन्म 18 अक्टूबर को उत्तरप्रदेश के गोरखपुर में हुआ. हालांकि, वे वहां ज्यादा नहीं रहे. उनका परिवार जल्द ही मध्य प्रदेश के इंदौर आ गया. यहां वे संजय जगदाले के संपर्क में आए और उन्हें गुरू बनाया. जगदाले ने उनकी लेग स्पिन को और आक्रामक बनाया. हिरवानी जल्द ही प्रसिद्धि पा गए और महज 16 साल की उम्र में उनका मध्य प्रदेश की रणजी टीम में सिलेक्शन हो गया.

    टीम इंडिया ने इस वजह से दिया मौका

    हिरवानी का बॉलिंग अटैक बैट्समैन पर भारी पड़ने लगा. ये देख टीम इंडिया मैनेजमेंट ने उन्हें 1988 में मौका दिया. हिरवानी को वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज में डेब्यू करने का मौका मिला. ये मैच चेन्नई में हो रहा था. हिरवानी ने इस मौके को हाथ से जाने नहीं दिया. उन्होंने चेन्नई में वो कमाल किया, जो आज तक केवल रिकॉर्ड ही है.

    वेस्टइंडीज रह गई हैरान

    पहली ही पारी में हिरवानी ने वेस्टइंडीज की पहली ही पारी में बल्लेबाजों को हैरान कर दिया. उन्होंने 18.3 ओवर फेंके और 8 विकेट लिए. उन्होंने ये विकेट महज 61 रन देकर झटके. इसके बाद हिरवानी की रफ्तार यहीं नहीं रुकी. उन्होंने दूसर पारी में वेस्टइंडीज का किला ढहा दिया. इस पारी में उन्होंने 15.2 ओवरों में 75 रन दिए और फिर 8 विकेट लिए. उन्होंने वेस्टइंडीज की पारी को 160 रन पर समेट दिया. ये मैच भारत 255 रनों से जीत गया. इस तरह हिरवानी ने डेब्यू मैच में 136 रन दिए और 16 विकेट लिए. ये अपने आप में विश्व रिकॉर्ड बन गया.

    जल्द खत्म हुआ करियर

    कहा जाता है कि सफलता एक मुकाम तक ही मिलती है. यही हिरवानी के साथ भी हुआ. उन्होंने करियर का आगाज तो धमाकेदार किया था, लेकिन उसका अंत उस ऊंचाई पर नहीं हुआ. उन्होंने 36 विकेट महज 4 टेस्ट में ही ले लिए थे, लेकिन विदेशों में हुए मैचों में वो कोई कमाल नहीं दिखा सके. सिर्फ 17 टेस्ट के बाद उनका करियर ठहर गया. इन 17 टेस्ट मैचों में हिरवानी ने 66 विकेट लिए. उन्होंने अपने जीवन में 18 वनडे भी खेले. इनमें उन्होंने 23 विकेट लिए. इस तरह 167 फर्स्ट क्लास मैचों में हिरवानी ने 732 विकेट अपने नाम किए. नरेंद्र हिरवानी के बेटे मिहिर भी फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेलते हैं.

    Tags: Indore news, Mp news, Narendra hirwani, Team india

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर