लाइव टीवी
Elec-widget

पब्लिक ट्रांसपोर्ट को बढ़ावा देने के लिए प्रशासन की नई पहल, अब हफ्ते में 1 दिन सिटी बस से ऑफिस जाएंगे अधिकारी-कर्मचारी

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 15, 2019, 6:51 PM IST
पब्लिक ट्रांसपोर्ट को बढ़ावा देने के लिए प्रशासन की नई पहल, अब हफ्ते में 1 दिन सिटी बस से ऑफिस जाएंगे अधिकारी-कर्मचारी
5 आईएएस अधिकारी बस में सवार होकर पहुंचे ऑफिस.

पब्लिक ट्रांसपोर्ट (Public Transport) को बढ़ावा देने के लिए इंदौर प्रशासन (Indore Administration) ने एक नई पहल शुरू की है. अब हफ्ते में एक दिन सभी प्रशासिनक अधिकारी और कर्मचारी सिटी बस से अपने घर से दफ्तर जाएंगे.

  • Share this:
इंदौर. पर्यावरण संरक्षण और पब्लिक ट्रांसपोर्ट (Public Transport) को बढ़ावा देने के लिए इंदौर प्रशासन (Indore Administration) ने नई पहल शुरू की है. शुक्रवार को 5 आईएएस (IAS) समेत प्रशासिनक अधिकारी सिटी बस से अपने घर से दफ्तर पहुंचे. इस दौरान उन्‍होंने सफर में आने वाली समस्याओं और उनके रख-रखाव को भी बारीकी से जांचा. प्रशासिनक अधिकारियों के साथ ही इंदौर कलेक्टर लोकेश जाटव(Collector Lokesh Jatav), इंदौर नगर निगम कमिश्नर आशीष सिंह (Ashish Singh), इंदौर जिला पंचायत सीईओ नेहा मीना, इंदौर नगर निगम की डिप्टी कमिश्नर अदिति गर्ग (Aditi Garg), इंदौर नगर निगम डिप्टी कमिश्नर चेतन, इंदौर एडीएम अजय देव शर्मा, जिला रजिस्ट्रार बालकृष्ण मौर्य और इंदौर जिला प्रशासन के सभी अधिकारियों ने अपने घर से कार्यालय आने के लिए के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिटी बस का उपयोग किया.

कलेक्टर ने लोगों से की ये अपील
कलेक्टर लोकेश जाटव ने नागरिकों से अपील की कि अपने फोर व्हीलर और टू व्हीलर वाहन के उपयोग के अलावा कोशिश करें कि अपने ऑफिस और अन्य कार्य स्थलों पर जाने के लिए सिटी बस का उपयोग करें. इससे ना सिर्फ ट्रैफिक व्‍यवस्‍था में सुधार होगा बल्कि पर्यावरण संरक्षण में सहायता भी मिल सकेगी. अपनी यात्रा के दौरान इंदौर कलेक्टर लोकेश जाटव और इंदौर नगर निगम कमिश्नर आशीष सिंह ने बस में सफर करने वाले यात्रियों से भी चर्चा की.

कलेक्टर ने आगे कहा कि शहर की आवश्यकता को देखते हुए लोगों को बीआरटीएस और पब्लिक ट्रांसपोर्ट का अधिक से अधिक उपयोग करना चाहिए. मेरी लोगों से अपील है कि प्राइवेट वाहन होने के कारण पब्लिक टांसपोर्ट की अनदेखी ना करें. पब्लिक ट्रांसपोर्ट में लगातार सुधार हो रहा है और हम इस बात का पूरा ध्यान रख रहे हैं कि इसमें सफर करने वालों को किसी प्रकार की परेशानी ना आए. ये शहर हित में है इसलिए किसी एक वर्ग की बात नहीं बल्कि सभी वर्ग को आगे आना चाहिए. जबकि निगमायुक्त ने कहा कि प्रशासन की यह बहुत ही अच्छी पहल है इससे लोगों में पॉजिटिव मैसेज जाएगा.

कलेक्टर और निगमायुक्त ने किया ये काम
इंदौर कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव ने लोक परिवहन को बढ़ावा देने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों से अपील की थी कि वे सप्ताह में एक दिन शुक्रवार को पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करें. इतना ही नहीं इसमें सफर करने के दौरान ये भी देखें कि शहर में दौड़ रहे ये वाहन फिट तो हैं. इस पहल के तहत दोपहर में कलेक्टर नेहरू स्टेडियम पहुंचे और यहां पर निगम द्वारा नेहरू स्टेडियम को खेल हब के रूप में विकसित करने के लिए तैयार नक्शे का अवलोकन किया. इसके बाद वे निगमायुक्त आशीष सहित के साथ पैदल जीपीओ स्थित आई बस स्टॉप पहुंचे. मजेदार बात ये है कि यहां पर कलेक्टर से खुद पांच टिकट खरीदे और फिर आई बस में सवार होकर निगमायुक्त के साथ भंवरकुआं पहुंचे. इसके बाद बीआरटीएस का निरीक्षण किया और फिर वे आई बस में सवार होकर यहां से अपने ऑफिस के लिए निकले.

 
Loading...

टाटा मैजिक से अपने ऑफिस पहुंचे अपर कलेक्टर दिनेश जैन
जिला पंचायत की सीईओ नेहा मीणा, सहायक जिला पंचायत अधिकारी मधुलिका शुक्ला ने आई बस में सफर किया. इसके पहले अपर कलेक्टर अजय देव शर्मा ने भी बस में सफर किया. उनके साथ एसडीएम राकेश शर्मा भी थे. अपर कलेक्टर दिनेश जैन तो अपने घर से टाटा मैजिक में सवार होकर कलेक्ट्रेट के लिए रवाना हुए. उनके साथ तहसीलदार आनंद मालवीय और नायब तहसीलदार मनीष श्रीवास्तव भी थे.

ये भी पढ़ें-
व्यापम मामले में जल्‍द होगा बड़ा खुलासा, कमलनाथ के मंत्री ने दिए संकेत

सरकारी बंगलों पर सरकार की टेढ़ी नजर, CM ने 2 मंत्रियों को सौंपी जांच की जिम्‍मेदारी

कांग्रेस सरकार में हूं, पार्टी में नहीं, गड़बड़ हुई तो कान पकड़ कर बाहर कर दूंगा- कम्प्यूटर बाबा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 15, 2019, 6:38 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...