लाइव टीवी

इंदौर के अस्पताल में पट्टी का फंदा बनाकर विचाराधीन कैदी ने लगाई फांसी

News18Hindi
Updated: November 24, 2019, 12:47 PM IST
इंदौर के अस्पताल में पट्टी का फंदा बनाकर विचाराधीन कैदी ने लगाई फांसी
इंदौर के अस्पताल में पट्टी का फंदा बनाकर एक विचाराधीन कैदी ने फांसी लगा लिया है.

कतिया न्यायिक हिरासत (judicial custody) के तहत हरदा (Harda) की जिला जेल (Jail) में बंद था. उसे अदालती आदेश पर के इलाज के लिये 17 अक्टूबर को इंदौर (Indore) के केंद्रीय कारागार लाया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 24, 2019, 12:47 PM IST
  • Share this:
इंदौर : हत्या के मामले के 35 वर्षीय विचाराधीन कैदी (Prisoner) ने यहां शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय (एमवाईएच) में शनिवार और रविवार की मध्यरात्रि में कथित तौर पर फांसी लगाकर खुदकुशी (Suicide) कर ली.

संयोगितागंज पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया कि रामकृष्ण कतिया (35) ने घावों पर बांधी जाने वाली पट्टी का फंदा बनाकर एमवाईएच के कैदी वार्ड के शौचालय (Toilet) में शनिवार और रविवार की दरम्यान रात दो बजे के करीब यह कदम उठाया.

कतिया मध्य प्रदेश के हरदा जिले का रहने वाला था. हरदा की एक अदालत में उस पर हत्या का मुकदमा चल रहा था. जेल विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि कतिया न्यायिक हिरासत के तहत हरदा की जिला जेल में बंद था. उसे अदालती आदेश पर मनोरोग के इलाज के लिये 17 अक्टूबर को इंदौर के केंद्रीय कारागार लाया गया था.

इसके बाद उसे 30 अक्टूबर को एमवाईएच में भर्ती कराया गया था. अधिकारी ने बताया कि केंद्रीय जेल प्रशासन ने इंदौर के जिला और सत्र न्यायाधीश को पत्र लिखकर विचाराधीन कैदी की मौत के मामले की न्यायिक जांच कराने की गुजारिश की है.

ये भी पढ़ें- महाराष्‍ट्र पर महाभारत: जानें सुप्रीम कोर्ट में किसने क्‍या दीं दलीलें?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 24, 2019, 12:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...