Home /News /madhya-pradesh /

people demanding narmada water warned of boycott of elections water resources minister tulsiram silavat mpsg

चुनाव की घोषणा से पहले ही जनता ने दे दी बहिष्कार की धमकी, जल संसाधन मंत्री के शहर की क्या है समस्या

Indore Samachar. इंदौर की शिवसागर कॉलोनी में जगह जगह ये पोस्टर देखे जा सकते हैं.

Indore Samachar. इंदौर की शिवसागर कॉलोनी में जगह जगह ये पोस्टर देखे जा सकते हैं.

Water Crisis. नगरीय चुनाव अब होने को हैं. भीषण गर्मी में पानी सबसे बड़ा मुद्दा होगा. इंदौर शहर में हर तरफ पानी से परेशान लोग हाहाकार कर रहे हैं. शहर के वॉर्ड 79 की शिवसागर सिटी कॉलोनी के लोगों ने तो खुले तौर पर चुनाव बहिष्कार की चेतावनी दे दी है. कॉलोनी के गेट पर उन्होंने पानी नहीं तो वोट नहीं का बैनर लगा दिया है. उस पर लिखा है, नर्मदा नहीं तो वोट नहीं. जनता का कहना है यहां करीब 270 परिवार हैं, जिनमें 400 वोटर हैं. कॉलोनी में पानी का संकट है. उन्हें पांच साल से सिर्फ आश्वासन दिया जा रहा है कि नर्मदा आएगी,लेकिन कब आएगी,इसका जवाब किसी के पास नहीं है.

अधिक पढ़ें ...

इंदौर. चुनाव की तारीख का ऐलान अभी हुआ नहीं लेकिन जनता ने मतदान का बहिष्कार और नेताओं को सबक सिखाने की तैयारी कर ली. इंदौर के एक निर्वाचन क्षेत्र के लोगों ने तो पूरे इलाके में पोस्टर लगा दिए-पानी नहीं तो वोट नहीं. नर्मदा जल न मिलने से नाराज मतदाताओं ने चुनाव बहिष्कार की धमकी दे डाली है.

एमपी में भले ही नगरीय निकाय चुनाव अभी घोषित न हुए हों, लेकिन जनता ने चुनावी बिगुल फूंक दिया है. पानी की समस्या से परेशान इंदौर की शिव सागर सिटी कॉलोनी के लोगों ने पानी नहीं तो वोट नहीं का बैनर गेट पर लटका दिया है, वे बरसों से नर्मदा जल की मांग कर रहे हैं.

चुनाव का पता नहीं, बहिष्कार का ऐलान
नगरीय चुनाव अब होने को हैं. भीषण गर्मी में पानी सबसे बड़ा मुद्दा होगा. इंदौर शहर में हर तरफ पानी से परेशान लोग हाहाकार कर रहे हैं. शहर के वॉर्ड 79 की शिवसागर सिटी कॉलोनी के लोगों ने तो खुले तौर पर चुनाव बहिष्कार की चेतावनी दे दी है. कॉलोनी के गेट पर उन्होंने पानी नहीं तो वोट नहीं का बैनर लगा दिया है. उस पर लिखा है, नर्मदा नहीं तो वोट नहीं. जनता का कहना है यहां करीब 270 परिवार हैं, जिनमें 400 वोटर हैं. कॉलोनी में पानी का संकट है. उन्हें पांच साल से सिर्फ आश्वासन दिया जा रहा है कि नर्मदा आएगी,लेकिन कब आएगी,इसका जवाब किसी के पास नहीं है.

ये भी पढ़ें- OMG: इस खेत में 14 इंच लंबे केले, पहली खेप आते ही पूरी बिक गई फसल, जानें कैसे हुआ ये कमाल

कब पूरा होगा वादा
इस कॉलोनी के लोग नगर निगम के सभी तरह के शुल्क जमा करवाते हैं. बावजूद इसके उन्हें सुविधाएं नहीं दी जा रहीं हैं. कॉलोनी में ज्यादातर बोरिंग सूख चुके हैं. नगर निगम के टैंकर यहां आते ही नहीं हैं. लोग पानी की एक एक बूंद के लिए तरस रहे हैं. महिलाओं को  2-2 किलोमीटर दूर से पानी लाना पड़ रहा है. इसलिए लोगों ने तय किया कि इस चुनाव में वो वोट नहीं देंगे. चुनाव का बहिष्कार करेंगे

ये भी पढ़ें- कांग्रेस का मिशन 2023 : बीजेपी को घेरने के लिए दो बड़े प्लान तैयार, कमलनाथ ने अरुण यादव को सौंपी कमान

जल संसाधन मंत्री के शहर में जलसंकट
इंदौर की कई कॉलोनी हैं जहां नर्मदा का पानी नहीं पहुंच रहा है. कांग्रेस को नगरीय निकाय चुनाव से पहले बैठे बिठाए मुद्दा मिल गया है. कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता नीलाभ शुक्ला का कहना है ये अजीब बिडंबना है कि राज्य के जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट के गृह क्षेत्र के लोगों को ही पानी की समस्या से दो चार होना पड़ रहा है. उन्हें कॉलोनी के बाहर चुनाव के बहिष्कार के बैनर लगाने पड़ रहे हैं. लेकिन मंत्री जी को ये दिखाई नहीं दे रहा है. वे शहरभर में घूम रहे हैं. लेकिन उन्हें पानी की समस्या दिखाई नहीं दे रही है. आप समझ सकते हैं कि लोगों की मूलभूत समस्याओं को लेकर वो कितने संवेदनशील हैं.

जल्द पहुंचेगी नर्मदा
उधऱ नगर निगम में जल कार्य विभाग के प्रभारी बलराम वर्मा का कहना है कांग्रेस के पास आरोप प्रत्यारोप लगाने के अलावा कुछ बचा नहीं है. जनता भी ये अच्छी तरह जानती है. शिव सागर सिटी कॉलोनी के करीब तक नर्मदा की पाइप लाइन पहुंच चुकी है. कुछ तकीनीकी खामियों की वजह से थोड़ा विलंब जरूर हुआ है, लेकिन जल्द ही लोगों को नर्मदा का जल उपलब्ध करा दिया जाएगा.

1 हजार बोरिंग सूख गए
नगर निगम के अपने दावे हैं, वो शहर में 500 एमएलडी पानी सप्लाई का दावा कर रहा है. इस बार भीषण गर्मी है जिससे आसपास के एरिया में बोरिंग सूख रहे हैं. नगर निगम के पांच हजार बोरिंग में से करीब एक हजार बोरिंग सूख गए हैं या पानी कम हो गया है. दिनों दिन पानी की समस्या विकराल रूप लेती जा रही है.

Tags: Indore news. MP news, Water Crisis

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर