लाइव टीवी

Covid-19: जनता कर्फ्यू के दौरान सफाई में नंबर 1 इंदौर ने ये क्या किया कि सब रह गए हैरान
Indore News in Hindi

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: March 23, 2020, 12:38 PM IST
Covid-19: जनता कर्फ्यू के दौरान सफाई में नंबर 1 इंदौर ने ये क्या किया कि सब रह गए हैरान
इंदौर में जनता कर्फ्यू के दौरान अति उत्साही लोगों ने की जुलूस निकालने की गलती

एक तरफ जहां कोरोना वायरस (coronavirus) से बचाव के अभियान चल रहे हैं. भीड़ न जुटाने की अपील की जा रही है. पीएम नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने जनता कर्फ्यू का ऐलान किया. वहीं सफाई में नंबर 1 इंदौर शहर में जनता कर्फ्यू के दौरान जुलूस निकालने की खबर आई है.

  • Share this:
इंदौर.कोरोना वायरस (coronavirus) के खिलाफ एक तरफ जहां पूरी दुनिया जंग लड़ रही है. पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से लेकर स्थानीय प्रशासन तक लोगों से बचाव और भीड़ न जुटाने की अपील कर रहे हैं. वहीं देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर (Indore) में जनता कर्फ्यू के दौरान कुछ लोगों के गैर जिम्मेदाराना रवैया अपनाते हुए जश्न मनाने की खबर आई है. कोरोना वायरस की भयावहता को अनदेखी कर ये लोग इकट्ठा हुए, गाड़ियों का हॉर्न बजाया और आतिशबाजी की.

इंदौर में जनता कर्फ्यू के दौरान कुछ उत्साही लोगों ने जश्न मना डाला. वो भी जैसे कोरोना के खिलाफ जंग जीत ली हो. रविवार को जनता कर्फ्यू के दौरान कुछ लोग तिरंगा लेकर सड़कों पर निकल पड़े. इनमें ज़्यादातर युवा थे. इन लोगों ने शहर के हृदयस्थल राजवाड़ा, पाटनीपुरा और दूसरे इलाकों में न केवल रैली निकाली, बल्कि ढोल और पटाखे चलाकर डांस भी किया. झुंड बनाकर ये युवा ऐसे जश्न मनाते दिखे जैसे कोरोना के खिलाफ जंग जीतकर आए हों. इन्होंने बड़ी संख्या में एक स्थान पर इकट्ठे होकर न केवल कोरोना को लेकर जारी गाइडलाइन का उल्लंघन किया, बल्कि धारा 144 भी तोड़ी.

अपील के विपरीत काम

पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे योद्धाओं की हौसलाअफजाई के लिए अपील की थी. इसमें पीएम ने साफ कहा था कि भीड़ से बचें. बाहर ना जाएं. अपने घर में रहकर ही शाम 5 बजे शंख ध्वनि, ताली और थाली बजाएं. इंदौर शहर के अधिकतर इलाकों में लोगों ने पीएम मोदी की अपील का पालन किया. लेकिन कुछ उत्साही लोगों ने किए-कराए पर पानी फेर दिया. शाम पांच बजते ही सैकड़ों की संख्या में लोग ढोल-ढमाकों के साथ राजवाड़ा पहुंचना शुरू हो गए. हर दिशा से वाहन राजवाड़ा की तरफ पहुंचे. दोपहिया वाहनों पर तीन-तीन लोग बैठे थे. पुलिस ने भी इन्हें नहीं रोका.





आतिशबाजी कर प्रदूषण फैलाया

शहर में न केवल राजवाड़ा बल्कि पाटनीपुरा चौराहे पर कई जगह अति उत्साह के शिकार इन लोगों ने कोरोना कर्मवीरों की हौसला अफजाई के नाम पर जमकर आतिशबाजी की. इससे सड़कों पर कचरा तो फैला ही, हवा भी प्रदूषित हो गई. वहीं, कोरोना वायरस को लेकर जारी गाइडलाइंस की भी धज्जियां उड़ती रहीं.

देर से एक्शन में आई पुलिस

आम लोगों को जुलूस निकालने और आतिशबाजी की जानकारी तब हुई, जब कुछ नासमझ लोगों की करतूत सोशल मीडिया पर वीडियो के रूप में शेयर हुई. इन लोगों को खूब कोसा भी गया, हालांकि इन्हें ऐसा करने से रोकने के लिए पुलिस ने भी कोई सख्ती नहीं दिखाई. राजवाड़ा चौक पर शाम को भारी भीड़ जमा हो गई. इसमें बड़ी संख्या में महिलाएं और बच्‍चे भी शामिल थे. सवा छह बजे के आसपास जब भीड़ अनियंत्रित होने लगी तो पुलिस ने मैदान संभाला और लोगों को खदेड़ना शुरू किया. इसके बावजूद लोग राजवाड़ा के आसपास घूमते रहे.

ये भी पढ़ें-

COVID-19 : राजधानी भोपाल 31 मार्च की रात 12:00 बजे तक लॉक डाउन

COVID-19:कोरोना वायरस से निपटने में लापरवाही की तो हो सकती है 2 साल तक की सज़ा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 23, 2020, 12:06 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर