लाइव टीवी

धन्ना दादा की अंतिम यात्रा में मास्क पहनकर शामिल हुए लोग, कोरोना वायरस से बचने का संदेश
Indore News in Hindi

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: March 19, 2020, 1:57 PM IST
धन्ना दादा की अंतिम यात्रा में मास्क पहनकर शामिल हुए लोग, कोरोना वायरस से बचने का संदेश
अंतिम यात्रा में कोरोना वायरस से बचने का संदेश

धन्ना दादा के नाम से प्रसिद्ध स्व. धन्नालाल पटौदी समाजसेवी, स्वास्थ और कुश्ती प्रेमी थे. स्वास्थ्य का जूनून और जीवटता इतनी थी कि पत्नी के निधन पर भी अपना नियमित प्रात: भ्रमण नहीं छोड़ा था. पत्नी का पार्थिव शरीर घर में रखा था और दादा सुबह की सैर पर निकल गए थे

  • Share this:
इंदौर में एक ऐसी शवयात्रा निकली जिसमें देश-दुनिया में कोहराम मचाने वाले कोरोना वायरस (Corona virus) का संक्रमण रोकने के लिए संदेश दिया गया. शवयात्रा में शामिल ज़्यादातर लोगों ने मॉस्क (mask) पहन रखे थे. ये शव यात्रा पूर्व विधायक रतन पाटौदी के छोटे भाई धन्नालाल पटौदी की थी. वही धन्ना दादा जो सेहत के प्रति इतने सजग थे कि अपनी पत्नी के निधन के दिन भी उनका पार्थिव शरीर घर पर रखकर सुबह की सैर पर जाना नहीं भूले थे.

इंदौर में पूर्व विधायक रतन पाटौदी के छोटे भाई धन्नालाल पटौदी का निधन हो गया. उनकी शवयात्रा निकाली जाना थी. कोरोना वायरस के कारण सरकार और लोग तमाम उपाय कर रहे हैं. लोगों से अपील की जा रही है कि भीड़ में जमा न हों. हाथ ना मिलाएं. खांसते-झींकते समय अपने मुंह को रूमाल से ढांके वगैरह-वगैरह. ऐसे माहौल में धन्नालाल पटौदी की शवयात्रा निकाली जाना थी. परिवार के सदस्यों को अपना भी बचाव करान था और शवयात्रा में शामिल होने वाले सब लोगों का भी. इसलिए परिवार ने मास्क पहने और बाकी लोगों से भी इसका आग्रह किया. जिनके पास मास्क नहीं थे उन्हें पाटौदी परिवार ने मास्क बांटे.

पत्नी के निधन के दिन भी सैर पर गए थे दादा
कांच मंदिर के पास इतवारिया बाजार से शवयात्रा शुरू हुई. इसमें सभी लोगों ने मॉस्क पहनकर घातक कोरोना वायरस से बचने का संदेश दिया.रतन पटौदी (दादा) के भतीजे और सुमठा वाले पाटौदी परिवार के नकुल पाटौदी ने बताया कि विश्व मे फैल रही महामारी कोरोना वायरस के कारण मध्यप्रदेश सरकार और भारत सरकार की गाइडलाइन है कि 20 से ज्यादा व्यक्ति एक जगह इकट्‍ठे न हों. इसे ध्यान मे रखते हुए परिवार ने तय किया कि शवयात्रा में शामिल लोग मास्क पहनकर आएं,जो नहीं आ पाए उन्हें निज निवास पर मास्क उपलब्ध कराए गए.



उठावने में भी मॉस्क पहनकर आने की अपील


धन्ना दादा के नाम से प्रसिद्ध स्व. धन्नालाल पटौदी समाजसेवी, स्वास्थ और कुश्ती प्रेमी थे. स्वास्थ्य का जूनून और जीवटता इतनी थी कि पत्नी के निधन पर भी अपना नियमित प्रात: भ्रमण नहीं छोड़ा था. पत्नी का पार्थिव शरीर घर में रखा था और दादा सुबह की सैर पर निकल गए थे. इसी वजह से धन्ना दादा के परिवार वालों ने उनके निधन पर भी-पहला सुख निरोगी काया का संदेश देने का प्रयास किया. दादा का उठावना 20 मार्च को है. परिवार ने समाज से अपील की है कि जो भी सदस्य उठावने में आएं वो मास्क ज़रूर पहनें.

ये भी पढ़ें-

कमलनाथ के मंत्री का दावा- BJP के दो विधायक हमारे साथ, संपर्क में हैं...

Corona Effect : पश्चिम मध्य रेल जोन के सभी स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म टिकट महंगा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 19, 2020, 1:51 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading