लाइव टीवी

7 साल की बच्ची को पत्‍नी बनाने के लिए 25 साल के युवक ने किया अगवा, फिर हुआ...

Vikas Singh Chauhan | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 11, 2019, 9:30 PM IST
7 साल की बच्ची को पत्‍नी बनाने के लिए 25 साल के युवक ने किया अगवा, फिर हुआ...
लड़की के अपहरण के मामले में पुलिस ने 25 साल के युवक को दबोचा.

सदर बाजार पुलिस (Sadar Bazar Police) ने सात साल की बच्‍ची के अपहरण (Kidnapping) के मामले में एक 25 साल के युवक को गिरफ्तार किया है. आरोपी, नाबालिग बच्ची को अपनी पत्‍नी बनाना चाहता था.

  • Share this:
इंदौर. मध्यप्रदेश के इंदौर में सदर बाजार थाना इलाके से कुछ समय पूर्व एक सात वर्षीय नाबालिग बच्ची अचानक गायब हो गई थी. उसके पिता ने सदर बाजार थाने (Sadar Bazar Police Station) में शिकायत की थी, जिसके बाद पुलिस (Police) ने अपहरण (Kidnapping) का प्रकरण दर्ज का आरोपी की तलाश शुरू कर दी थी. जब पुलिस ने इलाके के सीसीटीवी (CCTV) को खंगाला तो करीब में ही रहने वाला युवक उस मासूम बच्ची को ले जाते दिखाई दिया. पुलिस ने आरोपी की तलाश की और गिरफ्तार कर लिया. साथ ही मासूम बच्ची को बरामद कर उसे परिजनों के सुपुर्द कर दिया है. आरोपी गलत नियत से मासूम का अपहरण कर ले गया था और उसने बस में बच्‍ची के साथ गलत हरकत भी की थी. बहरहाल, पुलिस ने आरोपी के खिलाफ अपहरण और दुष्कर्म के प्रयास जैसी गंभीर धाराओं में प्रकरण दर्ज करते हुए गिरफ्तार किया है और मामले में जांच शुरू कर दी है.

ऐसे पुलिस को लगी आरोपी की भनक
इंदौर के सदर बाजार थाना इलाके से अचानक गायब हुई मासूम को ढूंढना पुलिस के लिए चुनौती बन गया था. वह शुक्रवार दोपहर अचानक गायब हुई थी और शनिवार सुबह अयोध्या मामले में फैसला आना प्रस्तावित था. ऐसे में पुलिस के लिए और भी मुसीबत खड़ी हो गई थी. पुलिस ने जैसे ही तमाम इलाकों के सीसीटीवी खंगाले तो उसमें संतोष नामक शख्स मासूम को ले जाते हुए दिखाई दिया. वह लड़की के घर के करीब ही किराए पर रहता था. जैसे ही मकान मालिक से किरायेदार के दस्तावेज आदि लेकर जानकारी जुटाई तो पता चला कि आरोपी लम्बे समय से फर्जी दस्तावेज बनवाकर उनकी मदद से किराए पर रह रहा था. हालांकि आरोपी के स्थायी निवास का अभी पुलिस को पता नहीं चला.

एक युवती के साथ किराए पर रहता था आरोपी

आरोपी एक युवती के साथ वहां किराए पर रहता था, जिसे वह अपनी बहन बताता था. लेकिन जानकारी जुटाने पर पता चला कि आरोपी उस युवती का भी काफी समय पहले अपहरण कर लाया था और उसका लम्बे समय से शोषण कर रहा था. वह अभी भी नाबालिग है, लेकिन कुछ समय पहले आरोपी संतोष को उस युवती के इलाके के एक छात्र से प्रेम-प्रसंग के बारे में जानकरी मिली तो वह उसे उसके मायके छोड़ आया. इसके बाद वह इस सात वर्षीय मासूम को अपना शिकार बनाना चाहता था और इसीलिए उसे बहाने से लेकर भाग गया.

बहरहाल, आरोपी नाबलिग को लेकर एक स्थान से दूसरे स्थान जा रहा था, उसी दौरान अपहृता मासूम के कुछ अन्य रिश्तेदार जो लगातार मासूम को ढूंढ रहे थे, उनकी नजर आरोपी पर पड़ी. इसके बाद उसने भागने का प्रयास किया, लेकिन उसे पकड़ लिया गया. फिर उसे नजदीकी थाने गोपालगंज ले जाया गया, जिसके बाद इंदौर पुलिस आरोपी और मासूम को लेकर इंदौर पहुंची.

पुलिस की जांच में हुआ ये खुलासा पुलिस जांच में इस बात का खुलासा हुआ है कि आरोपी का मूल नाम हरि है, जोकि कुछ हद तक विकृत मानसिकता से ग्रसित है. वह पूर्व में भी अपहरण और दुष्कर्म जैसे गंभीर मामले में फरार आरोपी रह चुका है. सदर बाजार पुलिस ने आरोपी से पूछताछ की तो वह कबूलने लगा कि मासूम को पत्नी बनाना चाहता था इसलिए अपहरण कर उसे ले गया था. पुलिस अब आरोपी के पूर्व में दर्ज प्रकरण के संबंध में भी भोपाल पुलिस को भी जानकारी देगी, ताकि इसकी वहां भी गिरफ्तारी हो सके.

वहीं एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र के मुताबिक़ आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है, उसका मूल नाम हरि है. वह फर्जी दस्तावेज बनवाकर किराए पर रह रहा था. इससे पूर्व में एक नाबालिग को अपहरण कर यहां लाया था जिसका शोषण वह कर रहा था. उसके परिजनों ने भी पूर्व में प्रकरण दर्ज करवाया है, उस मामले में वह फिलहाल फरार है. पुलिस आरोपी को कठोर सजा दिलवाएगी.

ये भी पढ़ें-
80 साल की जोधईया बाई बैगा को राहुल गांधी ने किया सलाम, जानिए पूरी कहानी...
MP: इन 'माननीयों' पर भी चल रहे हैं क्रिमिनल केस, क्या खतरे में है इनकी भी विधायकी?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 11, 2019, 8:45 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर