लोकसभा चुनाव में हार पर बौखलाए प्रह्लाद टिपानिया, कहा- कांग्रेस में गुटबाजी हार का बड़ा कारण

देवास से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े पद्मश्री प्रह्लाद सिंह टिपानिया ने लोकसभा चुनाव में मिली हार के लिए कांग्रेस के ही बड़े नेताओं को जिम्मेदार ठहराया है.

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 3, 2019, 8:42 AM IST
लोकसभा चुनाव में हार पर बौखलाए प्रह्लाद टिपानिया, कहा- कांग्रेस में गुटबाजी हार का बड़ा कारण
हार पर बौखलाए प्रहलाद टिपानिया, कहा- कांग्रेस में गुटबाजी हार का बड़ा कारण है
Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 3, 2019, 8:42 AM IST
प्रसिद्ध कबीर पंथी गायक प्रह्लाद सिंह टिपानिया को लोकगायिकी के क्षेत्र में तो खूब नाम मिला, लेकिन सियासत के क्षेत्र में सफलता नहीं मिल पाई. देवास से कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़े पद्मश्री प्रह्लाद सिंह टिपानिया ने करारी शिकस्त के बाद अपना दर्द बयां किया है. इतना ही नहीं उन्होंने लोकसभा चुनाव में मिली हार के लिए कांग्रेस के ही बड़े नेताओं को जिम्मेदार ठहराया.

कांग्रेस में गुटबाजी हार का बड़ा कारण

लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद पहली बार टिपानिया की टीस भी सामने आई. उनका कहना था कि कांग्रेस में जमीनी कार्यकर्ताओं को नजरअंदाज कर दिया जाता है और कांग्रेस संगठन सिर्फ कागजों में ही नजर आता है. साथ ही कहा कि कांग्रेस में गुटबाजी हार का बड़ा कारण है. कांग्रेस संगठन सिर्फ कागजों पर ही नजर आता है. जमीनी हकीकत से कांग्रेस के बड़े नेता बेखबर हैं. पार्टी में समर्पित रूप से काम करने वाले कार्यकर्ताओं की कमी है.

जमीनी कार्यकर्ताओं को तवज्जों नहीं देते बड़े नेता

देवास सीट से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े टिपानिया ने यह भी कहा कि अनुसूचित जाति/जनजाति के प्रत्याशियों का कांग्रेस में बैठे ऊंची जाति के नेता सपोर्ट नहीं करते हैं. इसका अनुभव इस लोकसभा चुनाव में हुआ.

यह भी पढ़ें- जानिए- कौन हैं प्रहलाद टिपानिया, जिन्हें कांग्रेस ने देवास से बनाया है अपना उम्मीदवार

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 2, 2019, 1:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...